लूट की रकम से जगदलपुर में की अय्याशी, पांच दिन में उड़ाए साढ़े पांच लाख

रायपुर। सरकारी शराब दूकान की रिकवरी के 31 लाख लूटने के बाद लूटेरों ने जमकर अय्याशी की। अय्याशी इतनी की महज़ पांच दिनों में ही तक़रीबन साढ़े पांच लाख रुपए उड़ा दिए। आज़ाद चौक थाना अंतर्गत हुए इस लूट का खुलासा गुरूवार को आईजी प्रदीप गुप्ता ने किया। मामलें में लूट के मास्टर माइंड समेत 6 लूटेरों को गिरफ्तार कर लिया है। सभी लूट की वारदात को अंजाम देने के बाद जगदलपुर में अपना ठिकाना बनाये हुए थे।

आईजी ने बताया कि इस मामलें में पुलिस के लिए CCTV फुटेज सबसे बड़ा सहारा रहा। पुलिस ने करीब 500 CCTV की मदद से इन डकैतों के लोकेशन और गाड़ी के फुटेज के आधार पर डकैतों के ठिकानों तक पहुंच पाई। आईजी गुप्ता के मुताबिक लूटेरों को इस बात की जानकारी थी कि पैसा कब कैसे और कौन लेकर आता है, जिसके बाद बाद रैकी कर इस पूरी वारदात को अंजाम दिया गया। आरोपियों को जगदलपुर से गिरफ्तार किया गया। आरोपी रायपुर में घटना को अंजाम देने से पहले रायपुर में दो दिनों तक रेकी की और घटना को अंजाम देने से पहले एक रात रायपुर के एक होटल में रुके भी थे। आरोपियों के पास से 25 लाख 55 हजार रुपये जब्त किए है। आरोपियों ने अपने ऊपर तकरीबन साढ़े पांच लाख रुपये खर्च किये थे। पकड़े गए आरोपियों में शेख अमजद मुख्य आरोपी जगदलपुर का है, जबकि शेख दानेश रायपुर, मोहम्मद शाहिद रायपुर , इमरान अंसारी कोंडागांव, शेख अमजद जगदलपुर का है। राकेश देवांगन और अजीम कुरेशी आजाद चौक रायपुर का रहने वाला है। मिली जानकारी के मुताबिक सभी आरोपियों पर कोई ना कोई मामला पहले से ही दर्ज है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.