अब मंत्रिमंडल में लिए कर्नाटक में “नाटक…..”

0


बंगलौर। कर्नाटक के सियासी नाटक में थोड़ी शांति है, मगर नाटक का क्लाइमेक्स अभी बाकी है। सीएम की शपथ ग्रहण के बाद अब कर्नाटक में खींचतान का दूसरा दौर शुरू हो गया है। अब मंत्रीमंडल में विभागों के बंटवारे को लेकर कांग्रेस और जेडीएस के बीच मतभेद उभर रहे हैं। मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने स्वीकार किया है कि उनके पार्टी और कांग्रेस के बीच विभागों के आबंटन को लेकर कुछ मतभेद हैं, लेकिन ऐसा कुछ नहीं है। जिससे सरकार को खतरा हो बता दें कि फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित करने के बाद मंत्रीमंडल विस्तार को लेकर कुमारस्वामी शनिवार को दिल्ली रवाना हो गए। उप मुख्यमंत्री जी परमेश्वर पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और डीके शिवकुमार के साथ उनकी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से चर्चा होगी। प्रतिष्ठा का मुद्दा बनाने के बजाय सुलझाने की कोशिश। कुमारस्वामी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा है कि उनकी पार्टी और कांग्रेस के बीच मतभेद जरूर हैं, लेकिन इसे प्रतिष्ठा का मुद्दा बनाने के बजाय वे समस्या को हल करने की कोशिश करेंगे। कुमारस्वामी ने कहा कि कांग्रेस आलाकमान की मंजूरी के बाद ही मंत्रीमंडल का विस्तार किया जाएगा। कुमारस्वामी ने बताया कि राज्य कांग्रेस के नेताओं को अपने केंद्रीय नेतृत्व से मंजूरी लेनी है, इसलिए वे दिल्ली जा रहे हैं। बता दें कि मंत्रीमंडल में 34 सदस्य होंगे जिसमें से कांग्रेस के 22 और जेडीएस के 12 मंत्री होंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.