मिशन 2018 : गृह नक्षत्र देख कर भाजपा लौटी पुराने दफ़्तर

मिशन 2018 के लिए 51 फ़ीसदी वोट लाने का लिया संकल्प

रायपुर। मिशन 2018 के साथ राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के 65 सीटों पर जीत का संकल्प लिए भाजपा ने एकात्म परिसर में अपना चुनावी कार्यालय शुरू कर लिया है। मिशन 2018 के लिए ग्रह नक्षत्र की अनुकूल परिस्तिथियाँ और पूजा पाठ के साथ हुए इस प्रवेश के बाद अब विधानसभा की चुनावी रणनीतियां यहीं से तैयार की जाएंगी। मिशन 2018 के लिए चुनावी दफ्तर बनाने से पहले पुराने कार्यालय के रंगरोगन के साथ सजाने सवांरने का काम भी भाजपा ने किया है। प्रदेश में लाखों सदस्य वाली पार्टी होने के बाद भाजपा ने हाईटेक और भव्य मीटिंग हॉल, प्रेस कांफ्रेंस हाल और ट्रेनिंग इक्यूप्मेंट्स कार्यालय में लगाए है। यहां नहीं पुराने पार्टी कार्यालय में भी वीडियों कांफ्रेंसिंग की सुविधा रखी गई है। वही पार्टी के नए दफ्तर यानी कुशाभाऊ ठाकरे परिसर को आला नेताओं को ठहरने के लिए उपयोग किया जाएगा।

इस मौके पर मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल, पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री सौदान सिंह समेत तमाम दिग्गज नेता मौजूद रहे। ये पहली दफा नहीं है जब चुनावी समय में सियासी रणभूमि जितने भाजपा ने पुराने दफ्तर की तरफ रुख किया है। इसके पहले भी साल 2013 में हुए विधानसभा चुनाव और साल 2014 में हुए लोकसभा चुनावों का संचालन प्रदेश भाजपा ने इसी दफ्तर से किया था। पुराने पार्टी कार्यालय में वापस चुनावी कार्यालय बनाए जाने के पीछे एक तर्क ये भी दिया जा रहा है कि ये कार्यालय शहर से लगा हुआ और सभी कार्यकर्ताओं की पहुंच का है।

 

टोटका नहीं कॉन्फिडेंस का है मामला
पार्टी सूत्रों की मानें पुराने दफ्तर में चुनावी कामकाज करने के पीछे जीत के टोटके से ज़्यादा कार्यकर्ताओं का कॉन्फिडेंस है। इस कार्यालय से राज्य बनने के बाद हुए पहली दफा चुनाव से लेकर अब तक भाजपा हर चुनाव में अपना वर्चस्व बनाए हुए है। लिहाज़ा पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं का विश्वास इस दफ्तर से जुड़ा हुआ है।

51 फीसदी वोट का संकल्प
पुराने दफ्तर में पूजा पाठ के बाद हुए प्रवेश में मुख्य मंत्री डॉ रमन सिंह ने कार्यकर्ताओं से कहा कि इस बार की जो हमारी कार्ययोजना बनी है। उसमें बड़ा लक्ष्य है कि कम से कम 51 फीसदी वोट बीजेपी के हिस्से आये और ये हम कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि 51 फीसदी वोट का लक्ष्य हमें प्राप्त करना है।

11 प्रमुख योजनाओं से तैयार होगा मैदान
मुख्यमंत्री ने चुनावी मैदान में भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने भी कई टिप्स दिए। उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि कोई पूछेगा कि क्यों बीजेपी को वोट देना है ? इस पर हर कार्यकर्ता को सरकार की उन योजनाओं को बताना है जिसकी कल्पना कभी कांग्रेस ने नहीं की थी। मुझे लगता है कि मोदी सरकार- छत्तीसगढ़ सरकार की उपलब्धि को एक एक बूथ के एक एक घर मे जाएंगे। लोगों को बताएंगे कि बीजेपी सरकार की 11 योजनाओं का क्या फायदा हुआ है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.