सीडी पर सियासत ग़र्म, बघेल बोले- अंतागढ़ मामलें में भी हो एफआईआर

रायपुर। कांग्रेस भवन में पत्रकारवार्ता के दौरान पीसीसी भूपेश बघेल ने अंतागढ़ उपचनाव मामलें की सीडी लहरा कर मुख्यमंत्री को खुली चुनौती दी है। बघेल ने कहा कि हिम्मत हो तो इसकी भी सीबीआई जांच कराएं। बघेल ने तल्खी दिखाते हुए कहा कि सीडी कांड से बीजेपी का पुराना नाता है इसलिए सीएम ने चुप्पी साधे हुए है। सीडी कांड से भाजपा का चाल चरित्र उजागर हुआ है, खुद ही सीडी बनाये है और मीडिया तक भेजता है सीडी कांड मेरे खिलाफ एफआईआर हुआ है। एक मंत्री को बचाने के लिए आनन- फानन में सीबीआई जांच की गई, लेकिन अंतागढ़ मामले में सीएम के परिजन थे, इसलिए अब तक सीबीआई जांच नहीं कराई गई। अंतागढ़ की सीडी प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल ने दिखाते हुए कहा – अब मेरे खिलाफ हो एफआईआर।

सीएम को दी खुली चुनौती
भूपेश बघेल ने सीएम को खुली चुनौती देते हुए कहा कि – अब मेरे खिलाफ हो एफआईआर और सीबीआई जांच। बघेल ने कहा कि अंतागढ़ के मामले में 2014 में अंतागढ़ उपचुनाव में मंगतू पवार ने नाम वापस लिया था, जिसने जोगी के परिवार के लोग शामिल थे। इसका खुलासा हुआ था, हमारी शुरू से ही मांग है कि सीडी की जाँच सीबीआई द्वारा हो, पर ऐसा हो नहीं सका।

कौशिक के बयान का जवाब
धरमलाल कौशिक के बयान के बारे में उन्होंने कहा कि ऐसे कैसे कोई भी सीएम हाउस जा सकता है ? क्या नक्सली भी जाते हैं ? इसका मतलब यह भी है कि सुरेश लगतार सीएम हाउस आता जाता रहता है। इसमें तो सीएम हाउस की भी जाँच होनी चाहिए।