पोलिंग बूथ तक वोटर्स को लाने चुनाव आयोग शुरू करेगा ” #Chhattisgarh vote “

पोलिंग बूथ में यूथ वोटर्स की संख्या बढ़ाने होंगी कई प्रतियोगिताएं

रायपुर। पोलिंग बूथ तक सौ फीसदी मतदाताओं को पहुंचाने की कोशिश में चुनाव आयोग हर संभव प्रयास कर रही है। पोलिंग बूथ पर हर मतदाओं को पहुंचाने आयोग ने पॉम्पलेट्स, टीवी एड, फ्लैक्स, बैनर जैसे तमाम पैतरे अपनाती रही रही है। अब आयोग ने सौ फ़ीसदी युवा मतदाओं को चुनाव में हिस्सेदार बनाने सोशल मीडिया में मुहीम छेड़ने की तैयारी की है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया कि चुनाव आयोग इस बार होने वाले विधानसभा चुनाव में ” हैश टैग छत्तीसगढ़ वोट ” कॉम्पिटिशन की शुरुवात करने जा रहा है। इस प्रतियोगिता में फोटोग्राफी,ड्राइंग पेंटिंग,नारा,क्विज़ कॉम्पिटिशन के ज़रिए मतदाताओ को जागरूक किया जाएगा। यह प्रतियोगिता 1 अगस्त से 14 अक्टूबर तक चलेगी। जिसमें प्रतिभागी कई विषय में एक साथ शामिल भी हो सकता है। प्रतिभागी को जीतने पर 500 से 50 हजार तक नकद और प्रमाण पत्र चुनाव आयोग द्वारा दिया जाएगा।

चुनाव आयोग

मतदाता सूची का हुआ प्रकाशन – चुनाव आयोग

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मतदाता सूची के द्वितीय विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के तहत मतदाता सूचियों का प्रकाशन आज 31 जुलाई को किया गया। सूची के पुनरीक्षण 21 अगस्त तक चलेगा। इस अवधी में दावा आपत्ति दर्ज कराया जा सकता है। उन्होंने बताया कि आयोग के पोर्टल में मतदाता सूची संबंधित प्रारंभिक दस्तावर्जों के साथ ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा दी गयी है।

1 करोड़ 81 लाख 79 हजार 435 मतदाता

मतदाता सूची में मतदाताओं की संख्या में पुरुष मतदाता की संख्या 91 लाख 46 हजार 99 है । महिला मतदाता 90 लाख 32 हजार 505 है, वहीं तृतीय लिंग 831 हैं। इस तरह कुल मतदाता 1 करोड़ 81 लाख 79 हजार 435 है।राज्य में सर्विस मतदाताओं की संख्या 11 हजार 980 है, ओवरसीज मतदाता एक है। ऐसे मतदाताओं की संख्या जिनकी आयु 100 वर्ष से अधिक है का सत्यापन कराया गया है। तथ्यों के आधार पर कार्यवाही की जा रही है। प्रदेश में ग्रामीण क्षेत्र में 11 सौ और शहरी क्षेत्र में 14 सौ नए मतदान केंद्र बनाए गए हैं। प्रदेश में कुल मतदान केंद्र की संख्या 23 हजात 632 हैं।

मोबाइल वैन से दिखाए जाएगी वीवीपैट मशीन

सुब्रत साहू ने बताया कि इस बार छत्तीसगढ़ में भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर EVM, VVPAT,S मशीन के उपयोग किया जाएगा। अभी तक 29 हजार 300 कंट्रोल यूनिट प्राप्त हुई है। जब कि प्रदेश 35150 बैलेट यूनिट की जरूरत है। प्राप्त बैलेट यूनिट का एफएलसी कराया जा रहा है। आम जनता के बीच वीवीपैट का प्रदर्शन मतदान केंद्र, हाट, बाजार , सिनेमा हॉल, मोबाइल वैन के माध्यम से करने की योजना है।

 

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.