सीएम की कलेक्टर-एसपी को दो टूक, ज़िम्मेदारी से योजना करें पूरी

सीएम भूपेश ने जिलों में पेंडिंग मामलों को ख़त्म करने दिए निर्देश

रायपुर। मुखिया बनने के बाद पहली दफा जिलों के एसपी और कलेक्टरों से मुखातिब हुए भूपेश बघेल ने उन्हें सीधे और साफ़ तौर पर काम करने निर्देशित किया है। बघेल ने अफसरों से कहा कि सरकार जिन योजनाओं जितनी जिम्मेदारी बनती है, आप सभी उनका उतनी ही जिम्मेदारी से क्रियान्वयन कर जनता तक लाभ पहुचाएं। ये योजनाएं सरकार की नहीं बल्कि आप की भी है।

कलेक्टर-एसपी

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कलेक्टर एसपी कॉन्फ्रेंस में सीधे और सख्त लहजे में कहा की सरकार की योजनाओं को गंभीरता से लेकर उन्हें पूरा करें और जनता तक उन योजनाओं का लाभ भी पहुंचाएं। सीएम भूपेश ने कहा कि सरकार का ध्येय वाक्य नरवा गरवा घुरुवा बारी है। जिस पर प्राथमिकता से सभी कलेक्टर काम करें। इसके अलावा बघेल ने यह भी स्पष्ट तौर पर कहा कि आम लोगों की समस्याएं यदि जिला स्तर पर ही हल हो सकती हैं, तो उन्हें वहीं उनका समाधान देने को पहली प्राथमिकता में रखे।

जिलों में मामलों को पेंडिंग रखने की आदत को भी बदलने पर भूपेश बघेल में अपना फरमान कलेक्टर और एसपी को सुनाया है। बघेल ने कहा कि जिले में जमीन किसानी पेंशन जैसे तमाम मामलों की पेंडेंसी को जल्द से जल्द निपटाया जाए। वहीं एसपी को भी थाने स्तर पर पेंडिंग मामलों पर जल्द निपटारे की बात कही है। बघेल ने कहा कि एसपी सबसे पहले जिलों की कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने का काम करें वहीं थाने स्तर पर जो समस्याएं आती हैं। उनका तत्काल प्रभाव से निराकरण किया जाए, कोशिश से हो कि जिले की कोई समस्या जनदर्शन के माध्यम से मुझ तक ना पहुंचे।

सरकार की नहीं आप की योजना
बघेल ने दो टूक में अफसरों को कहा कि पिछली सरकार में आपने जो भी काम किया जैसा भी काम किया वह अब नहीं चल पाएगा। आपको इस चीज की जिम्मेदारी निभानी होगी कि सरकारी योजनाएं पूरी करने का दायित्व आप पर भी है, लिहाजा सरकार इतनी जिम्मेदारी से जनता के लिए योजनाएं बना रही है, उतनी ही जिम्मेदारी से आप यह मांग कर काम करें कि ये योजनाएं हमारी हैं और इसे पूरा करने का काम भी हमारा ही है।