जेल में 17 कैदियों की बिगड़ी तबियत, फूड पॉइजनिंग की शिक़ायत


अंबिकापुर। अंबिकापुर सेंट्रल जेल के 17 कैदियों की तबीयत अचानक बिगड़ गई है, जिन्हें आनन फ़ानन में जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि इलाज के दौरान ही 1 कैदी की मौत भी हो गई है। मिली जानकारी के मुताबिक बीमार कैदी की मौत तकरीबन 12 बजे हुई है। इधर क़ैदियों का ईलाज़ कर रहे डाक्टरों की माने तो ज्यादातर मरीज फूड पॉइज़निंग का शिकार हुए हैं, जबकि कुछ एक की ही बिमारी का कारण जुदा है। चिकित्सकों ने बताया कि इन मरीजों में कुछ मरीजों में खून की भी भारी कमी है। डाक्टरों ने बताया कि फ़ूड पॉइजनिंग से बीमार एक कैदी की इलाज़ के दौरान मौत हुई है।
इलाज के दौरान डीएम तोड़ने वाले कैदी का नाम पालन लोहार बताया जा रहा है, जो 366,375 धारा के तहत सजा काट रहा था। मृतक कैदी जशपुर निवासी था। फिलहाल अन्य कैदियों का उपचार अभी जारी है। ऐसे में सवाल यह उठ रहा है कि अचानक एक साथ 17 कैदियों की तबीयत बिगड़ी कैसे ? क्या जेल प्रबंधन से कोई चूक हुई है ? या जेल के खाने में कोई कमी थी जिसके कारण एक कैदी को अपनी जान गवानी पड़ी है ? फिलहाल मामले में अभी जांच होना बाकी है और जांच के बाद ही पूरी घटना के कारणों का पता चल सकेगा।

संबंधित पोस्ट

अजीत जोगी के खिलाफ दर्ज़ FIR पर अब 8 नवंबर को सुनवाई…

इंदौर के होटल में भयंकर आग, घंटों से मशक्क़त जारी

CM योगी से मिला कमलेश का परिवार, और होटल में बरामद हुए कुर्ते

रायपुर आ रही बस का एक्सीडेंट, आठ घायल, तीन गंभीर

हाईकोर्ट ने महिला आयोग सदस्यों को हटाने का आदेश किया निरस्त

पर्चा फेंक नक्सलियों ने मांगी माफी और दी चेतावनी…

अवैध रेत खननः लामबंद ग्रामीणों के कब्जे में हाइवा-कार

बिलासपुर रेलवे जोन से बम पार्सल…पर…

यह इश्क है गालिब…20 रुपये के स्टाम्प पर लिख दिया

कांकेर का सीताफल है खास, दूर-दूर तक पहुंच रही मिठास

SECL में एस.एम. चौधरी ने संभाला निदेशक (वित्त) का जिम्मा

पूर्व कलेक्टर ओपी चौधरी को हाईकोर्ट से मिली राहत, जांच पर रोक…