हाईकोर्ट में पहली आदिवासी महिला जज होंगी विमला सिंह कपूर


बिलासपुर। फैमली कोर्ट में अपनी कार्यप्रणाली के लिए चर्चित विमला सिंह कपूर ने छत्तीसगढ़ में इतिहास रचा है। विमला को छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के कॉलेजियम के प्रस्ताव पर सुप्रीम कोर्ट ने छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट में बतौर न्यायधीश नियुक्त किया है। छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के कॉलेजियम ने 7 नामों का एक प्रस्ताव सुप्रीम कोर्ट को भेजा था। इनमें से 4 नामों पर सुप्रीम कोर्ट ने मुहर लगाई है। छत्तीसगढ़ में एडवोकेट पार्थ प्रतिमा साहू, न्यायिक सेवा से गौतम चौरड़िया (रजिस्ट्रार जनरल), विमला सिंह कपूर (जज फैमिली कोर्ट) और रजनी दुबे (रजिस्ट्रार विजिलेंस) को हाईकोर्ट का जज बनाया गया। संभवतः कल परसों तक सभी चारों जज का शपथ ग्रहण समारोह भी आयोजित किया जाएगा।

7 नामों का भेजा था पैनल
हाईकोर्ट के कॉलिजियम से एडवोकेट अभिषेक सिन्हा, एडवोकेट पार्थ प्रतिमा साहू, न्यायिक सेवा से गौतम चौरड़िया (रजिस्ट्रार जनरल), विमला सिंह कपूर (जज फैमिली कोर्ट), रजनी दुबे (रजिस्ट्रार विजिलेंस), एडवोकेट आशीष श्रीवास्तव और एडवोकेट सुनील पिल्लई के नाम भी शामिल थे।