दंतेवाड़ा : कैमरामैन की हत्या करने वाला नक्सली गिरफ़्तार

पुलिस और डीआरजी टीम ने 6 नक्सलियों को किया गिरफ़्तार

दंतेवाड़ा। दंतेवाड़ा में पुलिस को सोमवार को एक बड़ी सफलता हासिल हुई है। दंतेवाड़ा पुलिस ने अलग-अलग स्थानों से आधा दर्जन नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की गिरफ्त में पहुंचे इन नक्सलियों में से तीन नक्सलियों के सर पर इनाम घोषित था।

                                          गिरफ्तार हुए इन नक्सलियों में साल 2018 के दौरान हुए विधानसभा चुनाव में दूरदर्शन की टीम पर कवरेज के दौरान हमला करने वाले माओवादी भी पुलिस की गिरफ़्त में चढ़े है। इस हमले के दौरान दूरदर्शन के कैमरामैन समेत दो जवान शहीद हुए थे। वहीं दंतेवाड़ा के कोसाली कैंप के नजदीक एक यात्री बस में भी इन नक्सलियों ने आग लगाई थी। पुलिस ने नक्सल विरोधी अभियान के तहत अरनपुर थाना पुलिस और डीआरजी की संयुक्त टीम में यह पूरी कार्रवाई की है। इस ज्वाइंट टीम ने दंतेवाड़ा के निलावाया और गीदम के साप्ताहिक बाजार से तीन तीन नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस की गिरफ्त में आए ये नक्सली पिछले कई सालों से नक्सल गतिविधियों से सीधे तौर पर जुड़े हुए हैं। यह नक्सली ककाड़ी, निलावाया,नहाड़ी, पोटाली इलाके में सक्रीय थे।

ये हुए गिरफ़्तार
पुलिस ने जनमिलीशिया सदस्य किशोर माड़वी और हुंगा कोर्राम के साथ सीएनएम सदस्य जोगी कोर्राम को भी गिरफ्तार किया है। इसमें से हुंगा कोर्राम पर एक लाख रुपए का इनाम है। वहीं प्लाटून सदस्य सुखदेव वेको, जनमिलीशिया कमांडर फगनू अटामी व जनमिलीशिया सदस्य मोटू किसके को गिरफ्तार किया है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक़ इनमें से सुखदेव पर दो लाख और फगनू अटामी पर एक लाख रुपए का इनाम है।