देश / विदेश – Desh TV https://deshtv.in हिंदी न्यूज़ Mon, 11 Nov 2019 13:44:28 +0000 en-US hourly 1 महाराष्ट्र में शिव “सेना सरकार” कांग्रेस राकांपा का मिला समर्थन https://deshtv.in/nation/shiva-army-government-congress-ncp-got-support-in-maharashtra/ Mon, 11 Nov 2019 13:44:28 +0000 https://deshtv.in/?p=12198 मुंबई। शिवसेना शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस के समर्थन से महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए तैयार है। यह उभरने के तुरंत बाद सफलता मिली कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से बात की क्योंकि दोनों वैचारिक रूप से बेमेल पार्टियों ने सहयोग करने के लिए अपने […]]]>

मुंबई। शिवसेना शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस के समर्थन से महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए तैयार है। यह उभरने के तुरंत बाद सफलता मिली कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से बात की क्योंकि दोनों वैचारिक रूप से बेमेल पार्टियों ने सहयोग करने के लिए अपने मतभेदों को दूर करने की कोशिश की है। सेना कांग्रेस के गठबंधन में शरद पवार ने अहम किरदार निभाया है। ये एलाएंस भारत के सबसे बड़े राज्यों में से एक की सबसे बढ़ा गठबंधन के रूप में सामने आया है। शिवसेना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार में अपने अकेले मंत्री अरविंद सावंत को भी इस्तीफा देने के साथ ही भाजपा के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के साथ पार्टी के संबंधों को अलग कर लिया है।

इधर कांग्रेस के समर्थन के बाद शिवसेना के नेता एकनाथ शिंदे और आदित्य ठाकरे राजभवन पहुँच चुके है। राज्यपाल बी एस कोश्यारी से मुलाकात के बाद महाराष्ट्र में सरकार बनाने का दावा करेंगे। शिवसेना के सूत्रों ने कहा, “सरकार बनाने की हमारी इच्छा और क्षमता को व्यक्त करने के राज्यपाल के निमंत्रण के अनुसार, हम इसका सकारात्मक जवाब दे रहे हैं।”

]]>
maharastra gov, maharastra goverment update, Shivsena sarkar 2019-11-11 19:14:28 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/11/aaditya-thakre.jpg
…तो अगले आम चुनाव से पहले “राममंदिर तैयार” https://deshtv.in/nation/then-ram-temple-ready-before-next-general-election/ Mon, 11 Nov 2019 13:04:45 +0000 https://deshtv.in/?p=12194 अयोध्या (आईएएनएस)। विहिप के एक वरिष्ठ नेता के मुताबिक तय रुपरेखा पर अगर काम इसी तरह चलता रहा तो अगले आम चुनाव 2024 से पहले अयोध्या राममंदिर बनकर तैयार हो जाएगा। मंदिर के पूर्ण निर्माण के लिए 1.25 लाख घन फुट पत्थर की नक्काशी की गई है और पूरे मंदिर के निर्माण के लिए 1.75 […]]]>

अयोध्या (आईएएनएस)। विहिप के एक वरिष्ठ नेता के मुताबिक तय रुपरेखा पर अगर काम इसी तरह चलता रहा तो अगले आम चुनाव 2024 से पहले अयोध्या राममंदिर बनकर तैयार हो जाएगा। मंदिर के पूर्ण निर्माण के लिए 1.25 लाख घन फुट पत्थर की नक्काशी की गई है और पूरे मंदिर के निर्माण के लिए 1.75 लाख घन फुट पत्थर की जरूरत होगी। राम मंदिर का निर्माण अगले साल अप्रैल में ‘राम नवमी’ से शुरू होने की संभावना है। 2020 में ‘राम नवमी’ दो अप्रैल को पड़ रही है और यह पर्व भगवान राम के जन्म का उत्सव है। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, “राम जन्मभूमि मंदिर का निर्माण शुरू करने के लिए इससे बेहतर कोई तिथि नहीं हो सकती है। एक ट्रस्ट की स्थापना के लिए तीन महीने की समय सीमा फरवरी में समाप्त हो रही है और तब तक सभी तैयारियां पूरी हो जाएंगी। हालांकि, हम तिथि पर प्रतिबद्ध होने से पहले सरकार के साथ चर्चा करेंगे।” निर्माण पूर्व कार्य जनवरी में ‘मकर संक्रांति’ से शुरू होगा। विहिप नहीं चाहती कि मंदिर के लिए एक नया ‘शिलान्यास’ कार्यक्रम हो, क्योंकि यह पहले ही नवंबर 1989 में हो चुका है। विहिप चाहती है कि मंदिर को चंद्रकांत सोमपुरा द्वारा तैयार की गई डिजाइन के अनुसार बनाया जाए। प्रसिद्ध मंदिर वास्तुकार ने 1989 में पूर्व विहिप प्रमुख अशोक सिंघल के अनुरोध पर डिजाइन तैयार की थी और इसे देश भर के भक्तों के बीच प्रसारित किया गया था।

सोमपुरा की डिजाइन के आधार पर, अयोध्या में कारसेवकपुरम में मंदिर का एक मॉडल रखा गया है। विहिप के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा, “हम उम्मीद करते हैं कि नए मंदिर का निर्माण उसी के अनुसार होगा।” उन्होंने कहा कि मंदिर के लिए पत्थरों को तराशने और स्तंभों के निर्माण पर काम बहुत आगे बढ़ गया है और इनका उपयोग निर्माण में किया जाना चाहिए।

विहिप प्रमुख ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि मोदी सरकार मौजूदा राम जन्मभूमि न्यास और विहिप के प्रस्तावित ट्रस्ट सदस्यों में शामिल होगी, जो अब तक मंदिर निर्माण की तैयारियों की देखरेख कर रहे थे। विहिप जल्द ही मंदिर निर्माण और फंड जुटाने के तौर-तरीकों पर काम करने के लिए ‘मार्गदर्शी मंडल’ की बैठक आयोजित करने की योजना बना रही है।

कारसेवकपुरम में कार्यशाला में पत्थरों की नक्काशी भी इस महीने के अंत तक पूरी तरह से फिर से शुरू होने की उम्मीद है, जब अपने घर गुजरात और राजस्थान गए कारीगर लौट आएंगे। विहिप के दावे के अनुसार, मंदिर के पूर्ण निर्माण के लिए 1.25 लाख घन फुट पत्थर की नक्काशी की गई है और पूरे मंदिर के निर्माण के लिए 1.75 लाख घन फुट पत्थर की आवश्यकता होगी। सूत्रों का दावा है कि मंदिर निर्माण में लगभग चार वर्ष लगेंगे, जिसका मतलब है कि यह 2024 के आम चुनाव से पहले यह तैयार हो जाएगा।

विहिप नेता ने कहा, केंद्र और उत्तर प्रदेश में सत्ता में भाजपा के होने के साथ, हमें विश्वास है कि कोई देरी नहीं होगी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपना पूरा सहयोग दिया है और मंदिर निर्माण के लिए बुनियादी ढांचे के मामले में मदद करेंगे। इसे सुगम बनाने के लिए निर्बाध बिजली की आपूर्ति और सड़कों के चौड़ीकरण की मुख्य रूप से हमें आवश्यकता है।

]]>
Ayodhya case, ram mandir, ram mandir ayodhya up, shri ram mandir 2019-11-11 18:34:45 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/11/Ram-Mandir-0.jpg
पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त टीएन शेषन का निधन https://deshtv.in/nation/former-chief-election-commissioner-tn-seshan-passed-away/ Mon, 11 Nov 2019 06:21:24 +0000 https://deshtv.in/?p=12140 चेन्नई(आईएएनएस)। पूर्व मुख्य निर्वाचन आयुक्त टीएन शेषन का 86 वर्ष की उम्र में रविवार को निधन हो गया। शेषन ने चेन्नई में अंतिम सांस ली। वह भारत के 10वें मुख्य चुनाव आयुक्त थे। वह 12 दिसंबर 1990 से 11 दिसंबर, 1996 तक इस पद पर रहे। टीएन शेषन का पूरा नाम तिरुनेल्लाई नारायण अय्यर शेषन […]]]>

चेन्नई(आईएएनएस)। पूर्व मुख्य निर्वाचन आयुक्त टीएन शेषन का 86 वर्ष की उम्र में रविवार को निधन हो गया। शेषन ने चेन्नई में अंतिम सांस ली। वह भारत के 10वें मुख्य चुनाव आयुक्त थे। वह 12 दिसंबर 1990 से 11 दिसंबर, 1996 तक इस पद पर रहे। टीएन शेषन का पूरा नाम तिरुनेल्लाई नारायण अय्यर शेषन था। उनके निधन की सूचना ट्वीटर पर पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एसवाई कुरैशी ने साझा करते हुए लिखा कि वह अपने सभी उत्तराधिकारियों के लिए एक सच्चे किंवदंती और मार्गदर्शक बल थे।

टीएन शेषन का जन्म 15 दिसंबर 1932 को केरल के पलक्कड़ जिले में हुआ था। इस दौरान उन्होंने भारतीय चुनाव प्रणाली में कई बदलाव किए थे। मतदाता पहचान पत्र की शुरूआत भी भारत में उन्हीं के द्वारा शुरू की गई थी। टीएन शेषन को 1996 में मैग्सेसे अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था। उनके विषय में प्रसिद्ध था,”राजनेता सिर्फ दो लोगों से डरते हैं, एक भगवान और दूसरे शेषन”। शेषन को उनके कड़े रुख के लिए जाना जाता है। उन्होंने अपने कार्यकाल में प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव से लेकर बिहार के मुख्यमंत्री रहे लालू प्रसाद यादव किसी को नहीं बख्शा। तमिलनाडु कैडर के 1955 बैच के आईएएस अधिकारी शेषन ने 10वें चुनाव आयुक्त के तौर पर अपनी सेवाएं दी थीं।
अपनी स्पष्टवादिता के लिए प्रसिद्ध शेषन बढ़ती उम्र के कारण पिछले कुछ सालों से सिर्फ अपने आवास पर रह रहते थे। उनका बाहर आना-जाना लगभग ना के बराबर हो गया था। राजीव गांधी के कार्यकाल में वो कैबिनेट सचिव रहे थे। चुनाव आयुक्त बनने के बाद उन्होंने अपने सख़्त और क़ानून के पाबंद रवैये के रूप में बहुत नाम कमाया। उनकी प्रसिद्धि का कारण यह भी था कि उन्होंने जिस मंत्रालय में काम किया उस मंत्री की छवि अपने आप ही सुधर गई, लेकिन 1990 में मुख्य चुनाव आयुक्त बनने के बाद इन्हीं शेषन ने अपने मंत्रियों से मुँह फेर लिया। उन्होंने बक़ायदा एलान किया, “आई ईट पॉलिटीशियंस फॉर ब्रेक फ़ास्ट” उन्होंने न सिर्फ़ इसका एलान किया बल्कि इसको कर भी दिखाया। तभी तो उनका दूसरा नाम रखा गया, “अल्सेशियन.”

]]>
CEC, EX CEC t n sheshan, t n sheshan, TN Seshan passed away, tn sheshan passaway 2019-11-11 11:51:24 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/11/T-N-Sheshan-2019.jpg
सिद्धू पर भड़की भाजपा, कहा-सोनिया गांधी माँगे माफ़ी https://deshtv.in/nation/bjp-angry-on-sidhu-said-sonia-gandhi-apologized/ Sun, 10 Nov 2019 10:16:07 +0000 https://deshtv.in/?p=12128 नई दिल्ली। करतारपुर कॉरिडोर और राम जन्मभूमि को लेकर भाजपा ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक पत्रकारवार्ता लेकर इन मसलों को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू और नेशनल हेराल्ड पर निशाना साधा है। पात्रा ने कहा कि करतारपुर कॉरिडोर और राम जन्मभूमि को लेकर जिस प्रकार कांग्रेस का रवैया […]]]>

नई दिल्ली। करतारपुर कॉरिडोर और राम जन्मभूमि को लेकर भाजपा ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक पत्रकारवार्ता लेकर इन मसलों को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू और नेशनल हेराल्ड पर निशाना साधा है। पात्रा ने कहा कि करतारपुर कॉरिडोर और राम जन्मभूमि को लेकर जिस प्रकार कांग्रेस का रवैया रहा है वो आज हमारे सामने उजागर हुआ है। उन्होंने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू वो करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन में पाकिस्तान की ओर से मुख्य अतिथि के रूप में जाते हैं और भारत के पहले जत्थे में भी नहीं जाते है। पात्रा ने सिद्धू पर हमला तल्ख़ करते हुए कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू का ये कहना कि ‘हम मार रहे हैं और वो (पाकिस्तान) बचा रहे है’ ये कांग्रेस की मनोस्थिति दर्शाता है। अगर जान से कोई मारने का काम करता है तो ये पाकिस्तान करता है। हमारे जवानों को मारने का काम करता है वो पाकिस्तान करता है। इन बातों के लिए भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने उन्हें माफ़ी मांगने की नसीहत देते हुए कहा – नवजोत सिंह सिद्धू और कांग्रेस पार्टी का पाकिस्तान में जाकर हिंदुस्तान को बदनाम करने साजिश है। हम माँग करते है कि सोनिया गांधी जी देश से क्षमा माँगे।

नेशनल हेराल्ड पर भी साधा निशाना
संबित पात्रा ने आगे नेशनल हेराल्ड पर भी निशाना साधा। पात्रा ने कहा कि भारत की सर्वोच्च न्यायालय और भारत की न्याय प्रणाली से अच्छी न्याय प्रणाली पूरे विश्व भर में नहीं है और उस न्याय प्रणाली पर उँगली उठाने का काम कांग्रेस की mouthpiece नैशनल हेरालड एक शर्मनाक तरीके से करती है। उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी की नेशनल हेराल्ड जिस प्रकार से शांति और सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश कर रही ये निंदनीय है। चाहे नवजोत सिंह सिद्धू हो या सोनिया गांधी और राहुल गांधी की नेशनल हेराल्ड वो बार बार हिंदुस्तान के खिलाफ और कहीं न कहीं पाकिस्तान के पक्ष में बोलते आ रहे है। हम चाहते है कि कांग्रेस पार्टी की अध्यक्षा इसके लिए माफी माँगे।

]]>
ayodhyya faisla live, ram, ram mandir, ram mandir ayodhya up, ram mandir faisla 2019-11-10 15:46:07 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/09/Sambit-patara.jpg
मनमोहन सिंह के नेतृत्व में पाकिस्तान पहुंचा पहला सिख जत्था https://deshtv.in/nation/first-sikh-group-reached-pakistan-under-manmohan-singhs-leadership/ Sat, 09 Nov 2019 11:00:17 +0000 https://deshtv.in/?p=12099 करतारपुर| पाकिस्तान के ऐतिहासिक दरबार साहिब गुरुद्वारे तक जाने वाले करतारपुर गलियारे के जरिए भारतीय श्रद्धालुओं का पहला जत्था करतारपुर पहुंच चुका है। इस जत्थे का नेतृत्व पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह कर रहे हैं जिन्होंने उम्मीद जताई की यह गलियारा भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में बेहतरी आएगी। मनमोहन सिंह को करतारपुर गलियारे के […]]]>

करतारपुर| पाकिस्तान के ऐतिहासिक दरबार साहिब गुरुद्वारे तक जाने वाले करतारपुर गलियारे के जरिए भारतीय श्रद्धालुओं का पहला जत्था करतारपुर पहुंच चुका है। इस जत्थे का नेतृत्व पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह कर रहे हैं जिन्होंने उम्मीद जताई की यह गलियारा भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में बेहतरी आएगी। मनमोहन सिंह को करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह के लिए पाकिस्तान सरकार ने विशेष निमंत्रण भेजा था। उनके नेतृत्व में गए जत्थे में पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह भी शामिल हैं।

जीरो लाइन पर पाकिस्तान के टीवी चैनल पीटीवी से बातचीत में मनमोहन सिंह ने गलियारे को खोले जाने को एक बड़ी बात बताते हुए कहा, “मुझे पूरी उम्मीद है कि इस गलियारे के खुलने से भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में उल्लेखनीय सुधार होगा।”
अमरिंदर सिंह ने कहा कि सभी खुश हैं। सिख समुदाय की बीते 70 सालों से मांग रही है कि पाकिस्तान स्थित उसके धर्मस्थलों तक समुदाय के सदस्यों को जाने दिया जाए। उन्होंने कहा, “यह शुरुआत है। उम्मीद है कि यह प्रक्रिया जारी रहेगी और कई अन्य गुरुद्वारों के लिए भी इजाजत मिलेगी।” करतारपुर गलियारा पाकिस्तान के नारोवाल जिले में स्थित है। इसकी शुरुआत के मौके पर पाकिस्तान सरकार ने जिले के सभी स्कूलों में छुट्टी का ऐलान किया है।

]]>
guru nanak ki janm bhoomi, gurunanak sahed, kartarpur, kartarpur koridore, Karykarta Sammelan, lord ram 2019-11-09 16:30:17 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/11/Manmohan-Singh.jpg
अयोध्या फैसला : राजनाथ, शाह, भूपेश समेत नेताओं ने की शांति की अपील https://deshtv.in/nation/ayodhya-verdict-leaders-including-rajnath-shah-bhupesh-appealed-for-peace/ Sat, 09 Nov 2019 07:20:46 +0000 https://deshtv.in/?p=12084 नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या में दशकों पुराने भूमि विवाद पर अपने ऐतिहासिक फैसले में कहा कि यह मंदिर के निर्माण के लिए सरकार द्वारा संचालित ट्रस्ट को दिया जाएगा और पांच एकड़ का “उपयुक्त” भूखंड मस्जिद निर्माण के लिए दिया जाएगा। शीर्ष अदालत के फैसले के बाद विभिन्न राजनैतिक पार्टी के नेताओं ने […]]]>

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या में दशकों पुराने भूमि विवाद पर अपने ऐतिहासिक फैसले में कहा कि यह मंदिर के निर्माण के लिए सरकार द्वारा संचालित ट्रस्ट को दिया जाएगा और पांच एकड़ का “उपयुक्त” भूखंड मस्जिद निर्माण के लिए दिया जाएगा। शीर्ष अदालत के फैसले के बाद विभिन्न राजनैतिक पार्टी के नेताओं ने अयोध्या के फैसले का स्वागत किया और देशभर में शांति की अपील की। अयोध्या के फैसले के बाद, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा “अयोध्या पर माननीय सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय ऐतिहासिक है। जजमेंट भारत के सामाजिक ताने-बाने को और मजबूत करेगा। मैं सभी से आग्रह करता हूं कि फैसला समभाव और विशालता के साथ लें। मैं लोगों से भी अपील करता हूं कि इस ऐतिहासिक फैसले के बाद शांति और सद्भाव बनाए रखें।”

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि ” मुझे पूर्ण विश्वास है कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिया गया यह ऐतिहासिक निर्णय अपने आप में एक मील का पत्थर साबित होगा। यह निर्णय भारत की एकता, अखंडता और महान संस्कृति को और बल प्रदान करेगा। ”

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने लोगों से अपील की कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा दशकों पुराने मामले में अपना फैसला सुनाए जाने के तुरंत बाद “शांति और सद्भाव बनाए रखें”। अयोध्या के फैसले पर श्री गडकरी ने कहा, “इस लोकतांत्रिक देश के लोगों को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा अयोध्या पर लिए गए फैसले को स्वीकार करना चाहिए। हम सभी को न्यायपालिका पर भरोसा है। लोगों को शांति और सद्भाव बनाए रखना चाहिए।”

अयोध्या के फैसले पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, “सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सभी को स्वागत करना चाहिए। यह सामाजिक समरसता के लिए फायदेमंद होगा। इस मुद्दे पर और कोई विवाद नहीं होना चाहिए, यही मेरी लोगों से अपील है।”

इधर छत्तीसगढ़ के मुख़्यमंत्री भूपेश बघेल ने फैसले के पहले ही राज्य में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए जनता से अपील की थी। “सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या के मसले पर आने वाले फैसले के मद्देनजर मैं प्रदेशवासियों से आपसी सद्भाव और शांति बनाए रखने की अपील करता हूँ। इस मसले पर अधिकृत स्रोतों से मिलने वाली खबरों पर ही विश्वास करें और अफ़वाहों के साथ सोशल मीडिया में फेक न्यूज और अफवाहों से दूर रहें।”

]]>
Ayodhya verdict: leaders including Rajnath, AYODHYAVERDICT, Bhupesh appealed for peace, ram mandir, RamMandir, RanjanGogoi, Shah, अयोध्या 2019-11-09 12:50:46 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Ram-mandir-ayodhyya.jpg
Big Breaking : जन्मभूमि में बनेगा राम मंदिर, मुस्लिमों के लिए देंगे ज़मीन https://deshtv.in/nation/ram-temple-to-be-built-in-janmabhoomi-will-give-land-for-muslims/ Sat, 09 Nov 2019 06:11:09 +0000 https://deshtv.in/?p=12079   नई दिल्ली। देश के एक धार्मिक और राजनीतिक फ्लैशपॉइंट में एक ऐतिहासिक फैसला आज सुप्रीम कोर्ट की तरफ से दिया गया है। राम मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या में विवादित भूमि को सुप्रीम कोर्ट ने देने का फैसला किया है। साथ ही मुस्लिमों के लिए राज्य सरकार को अलग भूखंड देने का भी सुप्रीम […]]]>

 

नई दिल्ली। देश के एक धार्मिक और राजनीतिक फ्लैशपॉइंट में एक ऐतिहासिक फैसला आज सुप्रीम कोर्ट की तरफ से दिया गया है। राम मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या में विवादित भूमि को सुप्रीम कोर्ट ने देने का फैसला किया है। साथ ही मुस्लिमों के लिए राज्य सरकार को अलग भूखंड देने का भी सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है।


पांच न्यायाधीशों वाली संविधान पीठ ने सर्वसम्मति से ये फैसला सुनाया। इस फैसले के साथ देश भर में शांति और सुरक्षा के लिए अपील की गई है। ये फैसला अयोध्या में एक शताब्दी पुरानी कानूनी लड़ाई के बाद आया है। कोर्ट ने कहा है कि केंद्र सरकार तीन महीने में ट्रस्ट बनाए। यह ट्रस्ट राम मंदिर का निर्माण करेगा। अयोध्या पर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई फैसला पढ़ते हुए कहा कि 1949 में मूर्तियां रखी गईं थी।

 

]]>
ram mandir, ram mandir ayodhya up, ram mandir par failsa, ranjan gogi, Suprime court 2019-11-09 11:41:09 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/08/Ram-Janmbhoomi-Babri-Maszid.jpg
इस सख्स के कान में था कॉकरोच का पूरा कुनबा https://deshtv.in/nation/the-whole-cockroach-family-was-in-the-ears-of-this-guy/ Fri, 08 Nov 2019 13:28:38 +0000 https://deshtv.in/?p=12074 बीजिंग| चीन के डाक्टर उस वक्त हैरान रह गए जब एक सख्श के कान में कॉकरोच का पूरा कुनबा मौजूद था। डाक्टरों ने पूरे कुनबे का सफाया किया तब कही जाकर उसको राहत मिली। डाक्टर के अनुसार इस व्यक्ति को अपने बिस्तर के पास अधूरे भोजन के पैकेट रखने की आदत थी, इसीके चलते कॉकरोच […]]]>

बीजिंग| चीन के डाक्टर उस वक्त हैरान रह गए जब एक सख्श के कान में कॉकरोच का पूरा कुनबा मौजूद था। डाक्टरों ने पूरे कुनबे का सफाया किया तब कही जाकर उसको राहत मिली। डाक्टर के अनुसार इस व्यक्ति को अपने बिस्तर के पास अधूरे भोजन के पैकेट रखने की आदत थी, इसीके चलते कॉकरोच जैसे जीव आकर्षित हुए और फिर उसके कान को ही बसेरा कर लिया। समाचार एजेंसी आईएएनएस की एक रिपोर्ट के मुताबिक एक व्यक्ति को सोते समय दाहिने कान में ‘तेज दर्द’ की शिकायत के बाद अस्पताल लाया गया था। जहां इलाज के दौरान उसके कान में एक मादा कॉकरोच और उसके दस से अधिक जीवित बच्चे मिले।

                                 इस रिपोर्ट के अनुसार 24 साल का ल्वू पिछले महीने ग्वांगडोंग प्रांत के हुआंग जिले के सनेह अस्पताल में डॉक्टरों के पास गया। अस्पताल के नाक-कान-गले के विशेषज्ञ ने बताया कि, “उसने बताया कि उसका कान बहुत दुखता है, उसे ऐसा महसूस होता है कि कोई उसके कान को अंदर से खरोंच और खा रहा है। इससे काफी परेशानी हो रही है।” विशेषज्ञ ने कहा, “मुझे 10 से अधिक कॉकरोच के जीवित बच्चे मिले जो कान के अंदर इधर-उधर घुम रहे थे।” काले और भूरे रंग वाली मादा कॉकरोच की तुलना में बच्चों का रंग हल्का था और वह छोटे थे। विशेषज्ञ ने चिमटी की सहायता से बड़े शरीर वाली मादा कॉकरोच से पहले एक-एक कर छोटे आकार के बच्चों को बाहर निकाला।

]]>
chaina, chin, cockroach indian, kaan me cockroach, kaan me cockroach indian 2019-11-08 18:58:38 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/11/kaan-me-cockroach.jpg
जिसके दर पर शीश झुकाते रहे शौचालय निकला https://deshtv.in/nation/at-which-rate-the-toilet-kept-tilting/ Fri, 08 Nov 2019 11:24:32 +0000 https://deshtv.in/?p=12058 लखनऊ। निजाम बदलते हैं तो ‘रंग’ भी बदलते हैं लेकिन सत्ता के इस बदले रंग को देख कभी-कभी लोगों की हंसी भी छूंट जाती है। उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में कुछ ऐसा ही हुआ। दरअसल, जब एक टॉयलेट को भगवा रंग से पेंट कर दिया गया। यही नहीं करीब एक साल तक लोग टॉयलेट को […]]]>

लखनऊ। निजाम बदलते हैं तो ‘रंग’ भी बदलते हैं लेकिन सत्ता के इस बदले रंग को देख कभी-कभी लोगों की हंसी भी छूंट जाती है। उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में कुछ ऐसा ही हुआ। दरअसल, जब एक टॉयलेट को भगवा रंग से पेंट कर दिया गया। यही नहीं करीब एक साल तक लोग टॉयलेट को भगवा रंग के कारण मंदिर समझकर प्रणाम करते रहे। अब जैसे ही ये खबर पूरे कस्बे में फैली तो नगर पालिका के अधिकारियों ने टॉयलेट का रंग भगवा से गुलाबी कर दिया।

मामला उप्र के हमीरपुर जिले के मौदहा सीएचसी का है। एक साल पहले यहां नगर पालिका ने एक शौचालय बनवाया था। टॉयलेट पर नगर पालिका और सीएचसी के ठेकदारों ने भगवा रंग लगवा दिया। अब जब कोई मरीज सीएचसी आता तो उसे लगता कि ये कोई मंदिर है तो वो बहुत ही श्रद्धा के साथ प्रणाम करता और उसे देखकर लोग हंस-हंस कर लोटपोट होते। ऐसा करीब एक साल तक चलता रहा। आश्यचर्यजनक बात तो यह है कि किसी को यह भी जानकारी नहीं थी कि भवन के अंदर कोई देवता स्थापित है भी या नहीं।


एक स्थानीय निवासी राकेश चंदेल ने बताया, “यह भवन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के परिसर में स्थित है, उस पर इसे केसरिया रंग में रंगने के साथ ही इसे मंदिर के आकार का बनाया गया था। इस वजह से लोग इसे मंदिर मानते थे और किसी ने भी इसकी पुष्टि करने की आवश्यकता नहीं समझी। अभी हाल ही में हमें एक अधिकारी ने बताया कि वह भवन वास्तव में एक शौचालय है।”
मौदहा नगर पंचायत के अध्यक्ष राम किशोर ने कहा, “यह सार्वजनिक शौचालय करीब एक साल पहले नगर पालिका परिषद ने बनवाया था और ठेकेदार ने इसे भगवा रंग में रंग दिया था। भगवा रंग ने ही लोगों के बीच इसे मंदिर समझने का भ्रम पैदा किया।” भवन का रंग बदल चुका है, लेकिन शौचालय की शुरुआत अब भी नहीं हुई है और अधिकारी इसे लेकर एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का खेल खेल रहे हैं।

]]>
maihar, mandir, shuchalay, sulabh shauchalaya, tempal, up 2019-11-08 16:59:16 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/11/Bhagwa-Toilet.jpg
भाजपा मुझे भगवा में रंगना चाहती है पर मै… https://deshtv.in/nation/bjp-wants-to-paint-me-in-saffron-but-i/ Fri, 08 Nov 2019 08:04:06 +0000 https://deshtv.in/?p=12039 नई दिल्ली। दक्षिण की फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मुझे भगवा रंग देने की कोशिश कर रही है, उन्होंने तिरुवल्लुवर (तमिल कवि) के साथ कोशिश की। तथ्य तो यह है कि न तो तिरुवल्लुवर और न ही मैं उनके जाल में पड़ने वाले हैं। उनका कहना था कि […]]]>

नई दिल्ली। दक्षिण की फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मुझे भगवा रंग देने की कोशिश कर रही है, उन्होंने तिरुवल्लुवर (तमिल कवि) के साथ कोशिश की। तथ्य तो यह है कि न तो तिरुवल्लुवर और न ही मैं उनके जाल में पड़ने वाले हैं। उनका कहना था कि तिरुवल्लुवर को भगवा चोला पहनना भाजपा का एजेंडा है। मुझे लगता है कि इन सभी मुद्दों को बाहर फेंक देने चाहिए। ऐसे मुद्दे हैं जो अधिक महत्व के हैं जिन पर चर्चा करने की आवश्यकता है। मुझे लगता है कि यह एक मूर्खतापूर्ण मुद्दा है। बता दें कि कमल हसन और रजनीकांत ने शुक्रवार को चेन्नई में राज कमल फिल्म्स इंटरनेशनल के नए कार्यालय परिसर में दिवंगत फिल्म निर्देशक के बालाचंदर की प्रतिमा का अनावरण किया। इस दौरान यह बात कही।

रजनीकांत उन चुनिंदा कलाकारों में हैं जिनका दबदबा बढ़ती उम्र के साथ भी कम नहीं हो रहा है। रजनीकांत की फिल्मों का जबरदस्त क्रेज होता है और रिलीज के काफी पहले से ही इन फिल्मों को लेकर हाइप बननी शुरू हो जाती है। इन दिनों रजनीकांत अपकमिंग फिल्म दरबार को लेकर सुर्खियों में हैं।

आपको याद होगा कि 4 नवंबर को तंजावुर जिले के पिलयारपट्टी में कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा तमिल संत कवि तिरुवल्लुवर की प्रतिमा पर गोबर पोत दिया था। जिसकी डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन समेत राज्य के कई अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं ने कड़ूी निंदा की थी। स्टालिन ने आरोप लगाया था कि हाल ही में भाजपा द्वारा सोशल मीडिया पर केसरिया कपड़े के साथ तिरुवल्लुवर की एक फोटो डालने के बाद प्रतिमा के साथ इस तरह की हरकत की गई है। इसलिए लोगों को संदेह हो रहा है कि प्रतिमा के साथ हुए छेड़छाड़ में भाजपा की भूमिका है।

]]>
bjp, bjp on rajnikant, rajnikant 2019-11-08 13:58:59 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/11/Rajnikant.jpg
महाराष्ट्र पहुंचे नितिन गडकरी, बनाएंगे शिवसेना-भाजपा में सामंजस्य https://deshtv.in/nation/nitin-gadkari-arrives-in-maharashtra-will-make-synergy-between-shiv-sena-bjp/ Thu, 07 Nov 2019 08:14:43 +0000 https://deshtv.in/?p=11994 नई दिल्ली / मुंबई। चुनाव जितने के बाद महाराष्ट्र में भाजपा शिवसेना के गठबंधन में अब तक सूबे के मुखिया का चयन नहीं हो पाया है। इधर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी आज महाराष्ट्र पहुंचे है। जहाँ उन्होंने कहा कि भाजपा-शिवसेना की सरकार को महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में सत्ता संभालनी चाहिए। उन्होंने […]]]>

नई दिल्ली / मुंबई। चुनाव जितने के बाद महाराष्ट्र में भाजपा शिवसेना के गठबंधन में अब तक सूबे के मुखिया का चयन नहीं हो पाया है। इधर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी आज महाराष्ट्र पहुंचे है। जहाँ उन्होंने कहा कि भाजपा-शिवसेना की सरकार को महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में सत्ता संभालनी चाहिए। उन्होंने कहा कि देवेंद्र फडणवीस जनता की पसंद है और उन्हें सरकार का नेतृत्व करना चाहिए। भाजपा ने 105 सीटें जीतीं, इसलिए मुख्यमंत्री भाजपा से होना चाहिए।

नितिन गडकरी ये भी कहा कि नागपुर आना और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुख्यालय जाने और मोहन भागवत से मुलाकात का इस मसले से कोई लेना देना नहीं है और न ही हमे इसे जोड़ना चाहिए। वही गडकरी को बतौर मुख्यमंत्री चुने जाने को लेकर भी भीतरी बयानबाज़ी से जुड़े सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि “मैं दिल्ली में हूं, मेरे महाराष्ट्र आने का कोई सवाल ही नहीं है।” भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल आज महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलेगा।
भाजपा और शिवसेना ने पिछले महीने महाराष्ट्र चुनाव में स्पष्ट बहुमत हासिल किया, जिसमें भाजपा के लिए 105 सीटें और शिवसेना के लिए 56 सीटें थीं।

नहीं हुई भागवत-ठाकरे की मुलाक़ात
शिवसेना के सांसद और प्रवक्ता संजय राउत ने अपने पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे और मोहन भागवत के बीच किसी भी बैठक या बातचीत से इनकार किया है।
वहीं उन्होंने पूर्व में गडकरी को इस मसले के समाधान के लिए योग्य बताया है। गडकरी महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना की पूर्व सरकार में मंत्री थे और सेना संस्थापक बाल ठाकरे के करीबी थे। गडकरी का उनके बेटे उद्धव ठाकरे के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध भी है।

]]>
devendra fadnvis, maharastra cm, maharastra government, Nitin Gadkari, Shivsena 2019-11-07 13:44:43 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/11/Nitin-gadkari.jpg
Space Cargo Unlimited : अंतरिक्ष में भी पहुंच गई शराब https://deshtv.in/nation/space-cargo-unlimited-alcohol-reaches-space/ Wed, 06 Nov 2019 09:15:45 +0000 https://deshtv.in/?p=11882 नई दिल्ली | शराब की संतुलित मात्रा सेहत के लिए अच्छा माना जाता है और ज्यादा गटकना खराब। इसे देखते हुए देश के कई राज्यें में रोक लगा दी गई है तो कहीं रोक लगाने की कवायद जारी है। तो कहीं सरकारी ठेके पर मिल रही है। अलबत्ता शराब किसी भी काल में हो लुभाती […]]]>

नई दिल्ली | शराब की संतुलित मात्रा सेहत के लिए अच्छा माना जाता है और ज्यादा गटकना खराब। इसे देखते हुए देश के कई राज्यें में रोक लगा दी गई है तो कहीं रोक लगाने की कवायद जारी है। तो कहीं सरकारी ठेके पर मिल रही है। अलबत्ता शराब किसी भी काल में हो लुभाती रही है। सुर हों या असुर, मानव हों या दानव सभी इसके प्रेमी रहे हैं। हालाकि हर काल में इसे अलग-अलग नामों से जाना जाता रहा है। विज्ञान के इस युग में शराब की तो कई किस्में विकसित कर ली गई हैं और इसे और मादक-रोचक बनाने के लिए तमाम तरह के उपाय किए जा रहे हैं। लाखों करोड़ों में एक मय का प्याला परोसने की खबर तक मिलती रही है। अब खबर यह है कि शराब की बोतलें अंतरिक्ष में भेजी गई हैं। चौंकिए नहीं यह वहां रहने वाले अंतरिक्ष यात्रियों के लिए नहीं हैं।दरअसल एक कंपनी जानना चाह रही है कि अंतरिक्ष में साल भर गुजारने के बाद ये शराब कैसी लगेगी। शोधकर्ता ये देखना चाहते हैं कि वहां भारहीनता और विकिरण का पेय पदार्थों की उम्र ढलने की प्रक्रिया पर क्या असर होता है। इस रिसर्च का मकसद खानपान उद्योग के लिए नए स्वाद और खूबियों का विकास करना है।

शनिवार यानी 2 नवंबर को वर्जीनिया से नॉर्थरोप ग्रुमेन के स्पेस कैप्सूल से इन बोतलों को अंतरिक्ष स्टेशन के लिए रवाना कि या गया था. जो सोमवार यानी 4 नवंबर को अंतरिक्ष स्टेशन पहुंची। हर बोतल को धातु की कैन में पैक किया गया था ताकि इन्हें टूटफूट से बचाया जा सके. इस प्रयोग में जर्मनी के बवेरिया और फ्रांस के बोग्दू की यूनिवर्सिटियां हिस्सा ले रही हैं और ये प्रयोग लग्जेमबर्ग की स्टार्टअप कंपनी स्पेस कार्गो अनलिमिटेड के सहयोग से किया जा रहा है। . कंपनी के वीडियो में एरलांगेन न्यूरेमबर्ग यूनिवर्सिटी के मिषाएल लेबर्ट ने यह जानकारी दी। वह इस प्रयोग के वैज्ञानिक निदेशक हैं।

अगले तीन सालों में कंपनी ने इस तरह के छह मिशनों की योजना बनाई है. कंपनी का दावा है कि बदलती दुनिया के लिहाज से इनमें भविष्य की कृषि के बारे में कई अहम जानकारी मिलेगी. स्पेस कार्गो अनलिमिटेड के संस्थापक निकोलस गाउमे का कहना है, “यह पूरे जीवन में एक बार मिलने वाला रोमांच है.”
अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा इस तरह और ज्यादा कारोबारी मौकों के लिए अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन को खोल रही है जिसके बाद निजी अंतरिक्ष मिशनों की बारी आएगी.। बोतलों को अंतरिक्ष लेकर जाने वाला सिगनस कैप्सूल और भी कई कारोबारी सामानों को अपने साथ ले कर गया है। इसी कैप्सूल में चिप कुकीज को बेक करने वाला ऑवन और कार्बन फाइबर के नमूने भी भेजे गए हैं।

ज्ञात हो कि 2015 में जापान की व्हिस्की और अल्कोहल वाले दूसरे पेय बनाने वाली एक कंपनी ने भी कुछ नमूने भेजे थे। यहां स्कॉच भी भेजा जा चुका है। वाईन भी यहां पहली बार नहीं आई है। इससे पहले 1985 में डिस्कवरी शटल में एक फ्रेंच अंतरिक्ष यात्री अपने साथ एक वाईन की बोतल लेकर गया था, हालांकि यह बोतल वहां खोली नहीं जा सकी और यह अंतरिक्ष का चक्कर लगा कर वापस आ गई।

]]>
Alcohol reaches space, antriksh me sharab, Space Cargo, अंतरिक्ष में शराब 2019-11-06 14:45:45 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/11/space-me-sharab_04.jpg
पकिस्तान ट्रेन ब्लास्ट : इमरान ने बताया लोग चीख रहे थे… https://deshtv.in/nation/pakistan-train-blast-imran-told-that-people-were-screaming/ Thu, 31 Oct 2019 13:54:00 +0000 https://deshtv.in/?p=11663 इस्लामाबाद। गुरुवार को पाकिस्तान में तीर्थयात्रियों से भरी एक ट्रेन में खाना पकाने के दौरान गैस सिलेंडर फटने से कम से कम 74 लोगों की मौत हो गई और दर्जनों घायल हो गए। स्थानीय टेलीविजन फुटेज में गाड़ी के तीन डिब्बों से आग की लपटें निकलती दिखाई दे रही थी, और इस घटना के बाद […]]]>

इस्लामाबाद। गुरुवार को पाकिस्तान में तीर्थयात्रियों से भरी एक ट्रेन में खाना पकाने के दौरान गैस सिलेंडर फटने से कम से कम 74 लोगों की मौत हो गई और दर्जनों घायल हो गए। स्थानीय टेलीविजन फुटेज में गाड़ी के तीन डिब्बों से आग की लपटें निकलती दिखाई दे रही थी, और इस घटना के बाद लोगों की चीख़ पुकार और रोने की सिसकियों से आस पास का इलाका भी सिहर उठा। पाकिस्तान के मध्य पंजाब प्रांत के एक ग्रामीण इलाके में ये घटना घाटी है।

इस ट्रैन यात्रियों में से कई पाकिस्तान के सबसे बड़े धार्मिक समारोहों में से एक की यात्रा कर रहे तीर्थयात्री थे। पाकिस्तान के एक वरिष्ठ रेलवे अधिकारी अली नवाज ने समाचार एजेंसी को बताया जब उनके दो गैस सिलेंडरों में विस्फोट हो गया था, तब वे यात्री नाश्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कई पाकिस्तानी लंबी ट्रेन यात्रा पर खाना ले जाते हैं, लेकिन गैस सिलिंडर पर प्रतिबंध लगा दिया जाता है। पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख रशीद अहमद ने संवाददाताओं से कहा कि सिलिंडर को बोर्ड पर अनुमति देना एक “गलती” थी।

इस ट्रैन में सफर कर रहे मोहम्मद इमरान ने बताया कि “एक सिलेंडर में विस्फोट हुआ और मुझे नहीं पता कि, हर जगह आग कैसे लगी। मैंने अपनी जान बचाने के लिए ट्रेन से छलांग लगा दी। मेरे पीछे लोगों की पूरी कतार थी, उन्होंने मुझे धक्का दिया, कई लोग मुझे राउंड कर आगे निकले है। उस वक्त लोग चीख रहे थे, मदद के लिए चिल्ला रहे थे, पर कुछ न हो सका और एक एक कर लोग आग में झुलसते गए। “

]]>
pakistan train, train me ag, train me fata gas cylinder 2019-10-31 19:24:00 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/pakistan-Train-me-aag.jpg
CPI नेता और पूर्व सांसद गुरुदास दासगुप्ता का निधन https://deshtv.in/nation/cpi-leader-and-former-mp-gurudas-dasgupta-dies/ Thu, 31 Oct 2019 12:49:29 +0000 https://deshtv.in/?p=11649 कोलकाता। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद गुरुदास दासगुप्ता का लंबी बीमारी के बाद आज निधन हो गया है। पार्टी ने यह जानकारी दी है। गुरुदास दासगुप्ता 83 साल के थे। दासगुप्ता के परिवार में पत्नी और एक बेटी है। बताया जा रहा है कि गुरुदास दासगुप्ता पिछले कुछ महीने से […]]]>

कोलकाता। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद गुरुदास दासगुप्ता का लंबी बीमारी के बाद आज निधन हो गया है। पार्टी ने यह जानकारी दी है। गुरुदास दासगुप्ता 83 साल के थे। दासगुप्ता के परिवार में पत्नी और एक बेटी है। बताया जा रहा है कि गुरुदास दासगुप्ता पिछले कुछ महीने से फेफड़ों के कैंसर से पीड़ित थे। पश्चिम बंगाल में सीपीआई के सचिव स्वपन बनर्जी ने यह जानकारी दी है। बनर्जी ने कहा, “कोलकाता स्थित अपने निवास पर सुबह  दासगुप्ता का निधन हो गया।

अपने राजनीतिक जीवनकाल में वह तीन बार राज्यसभा और दो बार लोकसभा के सदस्य रहे। उनके परिवार में पत्नी और बेटी हैं। खराब स्वास्थ्य के कारण उन्होंने पार्टी के सभी पद छोड़ दिए थे लेकिन वे भाकपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी परिषद के सदस्य थे। दासगुप्ता पहली बार 1985 में राज्यसभा सांसद बने। इसके बाद 1988 में वह दूसरी बार राज्यसभा के लिए चुने गए। 1994 में तीसरी बार दासगुप्ता को राज्यसभा सासंद चुना गया, हालांकि वह तीन बार राज्यसभा सांसद रह चुके थे। इसके बाद भी 2004 में उन्होंने लोकसभा चुनाव लड़ा और वह जीते भी। इस दौरान वह वित्त समिति और पब्लिक अंडरटेकिंग समिति के सदस्य भी रहे।

]]>
CPI, CPI leader Gurudas Dasgupta, CPI neta, Gurudas, Gurudas Dasgupta 2019-10-31 18:19:29 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/gurudasdasgupta-dai.jpg
खट्टर ने बने हरियाणा के सीएम, चौटाला ने ली डिप्टी सीएम की शपथ https://deshtv.in/nation/khattar-becomes-haryana-cm-chautala-sworn-in-as-deputy-cm/ Sun, 27 Oct 2019 09:55:18 +0000 https://deshtv.in/?p=11537 चंडीगढ़। भाजपा के मनोहरलाल खट्टर ने आज दूसरे कार्यकाल के लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। चंडीगढ़ के राजभवन में हुए समारोह में भाजपा के सहयोगी जननायक जनता पार्टी के प्रमुख दुष्यंत चौटाला ने भी डिप्टी सीएम पद की शपथ ली। इस समारोह में कई केंद्रीय और राज्य मंत्रियों और वरिष्ठ भाजपा […]]]>

चंडीगढ़। भाजपा के मनोहरलाल खट्टर ने आज दूसरे कार्यकाल के लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। चंडीगढ़ के राजभवन में हुए समारोह में
भाजपा के सहयोगी जननायक जनता पार्टी के प्रमुख दुष्यंत चौटाला ने भी डिप्टी सीएम पद की शपथ ली। इस समारोह में कई केंद्रीय और राज्य मंत्रियों और वरिष्ठ भाजपा नेताओं ने भाग लिया। इस सूची में केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा, अकाली दल के प्रमुख प्रकाश सिंह बादल, उनके बेटे और पार्टी के वरिष्ठ नेता सुखबीर बादल शामिल थे। कांग्रेस के भूपिंदर हुड्डा भी इस समारोह में शामिल हुए। 40 सीटों वाली भाजपा ने दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी या जेजेपी के साथ एक समझौता किया है, जिसने हाल ही में संपन्न विधानसभा चुनावों में 10 सीटें जीती थीं।

जेजेपी प्रमुख ने दो दिनों वार्ता के बाद शुक्रवार रात भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की थी। इधर सात निर्दलीय विधायकों ने भी भाजपा को समर्थन दिया है। गठबंधन ने राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य के साथ बैठक में कल सरकार बनाने का दावा किया। हालांकि कांग्रेस ने शुरुआत में दुष्यंत चौटाला को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया था। इस साल के शुरू में राष्ट्रीय चुनावों में सभी 10 संसदीय सीटों पर जीत हासिल करने वाली पार्टी के लिए भाजपा का झुकाव कम देखा गया था, और राज्य में 75 सीटों को पार करने की उम्मीद थी। भाजपा के 10 में से आठ मंत्री चुनाव हार गए।

]]>
cm manohar lal khattar, Dushyant Chautala, Dushyant Chautala deputy cm hariyana, head of Jananayak Janata Party, Jananayak Janata Party, manoharlal khattar 2019-10-27 15:25:18 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Manohar-Lal-Khattar.jpg
मन की बात : राम मंदिर पर फैसले से पहले पीएम ने कहीं ये बात https://deshtv.in/nation/mann-ki-baat-pm-said-this-before-the-decision-on-ram-temple/ Sun, 27 Oct 2019 08:13:15 +0000 https://deshtv.in/?p=11534 नई दिल्ली। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देशवासियों से मन की बात की। जिसमें उन्होंने देश की जनता को दीपावली की शुभकामनाओं के साथ सम्बोधित किया। दीपोतस्व की बधाई देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज दीपावली का पावन पर्व है। आप सबको दीपावली की बहुत बहुत शुभकामनाएं। आजकल दुनिया के अनेक […]]]>

नई दिल्ली। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देशवासियों से मन की बात की। जिसमें उन्होंने देश की जनता को दीपावली की शुभकामनाओं के साथ सम्बोधित किया। दीपोतस्व की बधाई देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज दीपावली का पावन पर्व है। आप सबको दीपावली की बहुत बहुत शुभकामनाएं। आजकल दुनिया के अनेक देशों में दिवाली मनायी जाती है। इसमें सिर्फ भारतीय समुदाय शामिल होता है, ऐसा नहीं है बल्कि अब कई देशों की सरकारें, वहां के नागरिक दिवाली को पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाते हैं। एक प्रकार से वहां ‘भारत’ खड़ा कर देते है। उन्होंने कहा कि साथियो, दुनिया में festival tourism का अपना ही आकर्षण है। हमारा भारत, जो country of festivals है, उसमें #FestivalTourism की भी अपार संभावनाएं हैं। हमारा प्रयास होना चाहिये कि हम त्योहारों का प्रसार करें।

उन्होंने कहा कि #BharatKiLaxmi की ऐसी अनेक कहानियां लोगों ने share की हैं। आप जरुर पढ़िये, प्रेरणा लीजिये और खुद भी ऐसा ही कुछ अपने आस-पास से share कीजिये और मेरा, भारत की इन सभी लक्ष्मियों को आदरपूर्वक नमन है। 12 नवंबर को दुनिया भर में गुरुनानक देव जी का 550वाँ प्रकाश उत्सव मनाया जाएगा। #GuruNanak देव जी का प्रभाव भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व मे है। गुरुनानकदेव जी मानते थे कि निस्वार्थ भाव से किए गए सेवा कार्य की कोई क़ीमत नहीं हो सकती। अभी कुछ दिन पहले ही, करीब 85 देशों के राजदूत, दिल्ली से अमृतसर गये थे। वहां राजदूतों ने Golden Temple के दर्शन तो किये ही, उन्हें, सिख परम्परा और संस्कृति के बारे में भी जानने का अवसर मिला। इसके बाद कई राजदूतों ने Social Media पर वहां की तस्वीरें साझा की।

सरदार पटेल और इंदिरा गांधी को किया याद
पीएम मोदी ने अपने मन की बात कार्यक्रम में सरदार पटेल का जिक्र करते हुए कहा कि 31 अक्तूबर की तारीख आप सबको याद होगी। भारत के लौह पुरुष सरदार पटेल की जन्म जयंती का है जो देश को एकता के सूत्र में पिरोने वाले महानायक थे। सरदार साहब की कार्यशैली के विषय में जब पढ़ते हैं, सुनते हैं, तो पता चलता है कि उनकी planning कितनी जबरदस्त होती थी। सरदार पटेल बारीक-से-बारीक चीजें को भी बहुत गहराई से देखते थे, परखते थे। सही मायने में , वे ‘Man of detail’ थे। सरदार साहब की कार्यशैली के विषय में जब पढ़ते हैं, सुनते हैं, तो पता चलता है कि उनकी planning कितनी जबरदस्त होती थी। 31 अक्टूबर, हमारे देश की पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा जी की हत्या भी उस दिन हुई थी। देश को एक बहुत बड़ा सदमा लगा था। मैं आज उनको भी श्रद्धांजलि देता हूं।

राम मंदिर के फैसले का किया जिक्र
PM मोदी ने कहा कि सितम्बर 2010 में जब राम जन्मभूमि पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अपना फैसला सुनाया। जरा उन दिनों को याद कीजिये। भांति-भांति के कितने लोग मैदान में आ गये थे।कैसे-कैसे Interest Groups उस परिस्थितियों का अपने-अपने तरीके से फ़ायदा उठाने के लिए खेल रहे थे। कुछ बयानबाजों ने, बड़बोलों ने सिर्फ और सिर्फ खुद को चमकाने के इरादे से न जाने क्या-क्या बोल दिया था, हमें सब याद है। लेकिन ये सब, पांच दिन, सात दिन, दस दिन, चलता रहा, लेकिन, जैसा ही फैसला आया, एक आनंददायक, आश्चर्यजनक बदलाव देश ने महसूस किया। एक तरफ़ दो हफ़्ते तक गर्माहट के लिए सब कुछ हुआ था, लेकिन, जब राम जन्मभूमि पर फैसला आया तब सरकार ने, राजनैतिक दलों ने, सामाजिक संगठनों ने, civil society ने, सभी सम्प्रदायों के प्रतिनिधियों ने, साधु-संतों ने बहुत ही संतुलित और संयमित बयान दिए। मुझे वो दिन बराबर याद है। जब भी उस दिन को याद करता हूं मन को खुशी होती है। न्यायपालिका की गरिमा को बहुत ही गौरवपूर्ण रूप से सम्मान दिया और कहीं पर भी गर्माहट का, तनाव का माहौल नहीं बनने दिया। एकता का स्वर, देश को, कितनी बड़ी ताकत देता है उसका यह उदाहरण है।

]]>
diwali par modi ke mann ki baat, mann ki baat, mann ki baat 3rd episode 2019, mann ki baat diwali, ram mandir faisla, ram mandir par SC ka faisla 2019-10-27 13:43:15 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Ram-mandir-ayodhyya.jpg
राष्ट्रपति कोविंद, पीएम मोदी, सीएम भूपेश ने दी दीपावली की बधाई https://deshtv.in/nation/president-kovind-pm-modi-cm-bhupesh-congratulated-deepawali/ Sun, 27 Oct 2019 07:06:58 +0000 https://deshtv.in/?p=11525 नई दिल्ली / रायपुर। दीपावली के महापर्व पर देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को अपनी बधाई और शुभकामनाएं प्रेषित की है। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने भी दीपावली पर बधाई दी है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि ” दीपावली […]]]>

नई दिल्ली / रायपुर। दीपावली के महापर्व पर देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को अपनी बधाई और शुभकामनाएं प्रेषित की है। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने भी दीपावली पर बधाई दी है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि ” दीपावली के शुभ अवसर पर सभी देशवासियों को बधाई। आइए इस दिन हम प्रेम, सहानुभूति और मेल-जोल का दीपक प्रज्ज्वलित करते हुए सभी के, खासकर जरूरतमंदों के जीवन में खुशियां लाने का प्रयास करें – राष्ट्रपति कोविन्द ”

वहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने देशवाशियों को शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए कहा कि ” देशवासियों को दीपावली के पावन अवसर पर बहुत-बहुत शुभकामनाएं। रोशनी का यह उत्सव हम सभी के जीवन में नया प्रकाश लेकर आए और हमारा देश सदा सुख, समृद्धि और सौभाग्य से आलोकित रहे। Wishing you all a Happy #Diwali ”

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने ट्वीटर हैंडल पर लिखा ” सभी प्रदेशवासियों एवं देशवासियों को दीपावली के पावन पर्व की ढेर सारी बधाई एवं शुभकामनाएं। इस दीपावली हम सब सच्चाई और ईमानदारी का दीपक जलाएं, झूठ-छल-कपट स्वयं परास्त हो नष्ट हो जाएंगे। आईये ! खुशी एवं धूमधाम से माँ लक्ष्मी और भगवान सीता-राम का यह दिन हम सब मनाएं। #HappyDeepavali ”

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने भी अपनी बधाई सन्देश देते हुए कहा कि ” आँगन में बनी सुंदर रंगोली व दीपों से जगमगाते सभी घरों को #दीपावली पर माता लक्ष्मी जी के चरणकमल का स्पर्श प्राप्त हो। मैं माता लक्ष्मी की करबद्ध वंदना कर उनसे प्रार्थना करता हूँ कि प्रदेश की धरा पर उनके आशीष से सदा सुख-समृद्धि रहे एवं सभी का जीवन मंगलमय हो। #HappyDeepavali ”

]]>
#Diwali2020, Diwali, diwali 2019 ka diya, HappyDiwali, HappyDiwali 2019 2019-10-27 12:36:58 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/HappyDiwali-2019.jpg
Election Results : भाजपा-शिवसेना को महाराष्ट्र की कमान, हरियाणा में माथा पच्ची https://deshtv.in/nation/election-results-bjp-shiv-sena-commanded-by-maharashtra/ Thu, 24 Oct 2019 08:33:56 +0000 https://deshtv.in/?p=11450 नई दिल्ली। भाजपा-शिवसेना गठबंधन 2019 के विधानसभा चुनाव में मजबूत प्रदर्शन के साथ महाराष्ट्र में सत्ता बरकरार रखने के लिए लगभग तैयार है। हालांकि, भाजपा को हरियाणा में चुनाव परिणाम आने तक का इंतज़ार करना होगा, हरियाणा में अगली सरकार के लिए एक त्रिशंकु फैसला भी अब तक की मतगणना में दिखाई पड़ रहा है। […]]]>

नई दिल्ली। भाजपा-शिवसेना गठबंधन 2019 के विधानसभा चुनाव में मजबूत प्रदर्शन के साथ महाराष्ट्र में सत्ता बरकरार रखने के लिए लगभग तैयार है। हालांकि, भाजपा को हरियाणा में चुनाव परिणाम आने तक का इंतज़ार करना होगा, हरियाणा में अगली सरकार के लिए एक त्रिशंकु फैसला भी अब तक की मतगणना में दिखाई पड़ रहा है। भाजपा और शिवसेना महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार बनाने की राह पर हैं, जो शिवसेना को अपने पाले में रखने के भाजपा के मिशन के लिए एक सफलता होगी। गौरतलब है कि ये दोनों दल अलग हो गए थे और 2014 के चुनाव अलग लड़े थे, केवल सरकार बनाने के लिए साथ आए थे। हालाँकि, शिवसेना एक सहयोगी सहयोगी रही, जो अक्सर महाराष्ट्र में वास्तविक विपक्षी पार्टी के रूप में सामने आती रही है।


अब तक की मतगणना के आधिकारिक रुझानों ने भाजपा और शिवसेना को 160 सीटों बढ़त दिखाई है। 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा में ये आंकड़ा सरकार बनाने वाले जादुई आंकड़े से भी आगे है। जब कि एनडीए के अन्य सहयोगियों की गिनती इसमें नहीं है। वहीं विपक्षी खेमे में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस को 101 सीटों में बढ़त मिली है।

हरियाणा में माथापच्ची
इधर हरियाणा में सरकार बनाने में भाजपा को थोड़ी मुश्किल हो सकती है। हालाँकि साल 2014 के विधानसभा चुनाव के बाद हरियाणा में अपने प्रदर्शन में सुधार की उम्मीद भाजपा को थी, पर परिणाम उस लिहाज़ से सामने नहीं आ रहे है। हरियाणा के आधिकारिक रुझानों में भाजपा और कांग्रेस 36-35 सीटों से बराबरी पर है, वहीं JJP को 10 सीटों पर और अकाली दल 01 सीट पर आगे है। 90 सदस्यीय हरियाणा विधानसभा में सत्तासीन होने के लिए 46 सीटों का आंकड़ा जरुरी है।

]]>
Election Results Hariyana 2019 Live, Election Results Maharashtra, hariyana Election Results, Maharashtra Assembly Election Results, Maharashtra Election Results 2019 2019-10-24 14:03:56 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/03/Congress-BJP-Logo-Deshtv.jpg
Big News : छत्तीसगढ़ कांग्रेस के सह प्रभारी भाजपा में हुए शामिल https://deshtv.in/nation/big-news-chhattisgarh-congress-co-incharge-joins-bjp/ Wed, 23 Oct 2019 10:58:19 +0000 https://deshtv.in/?p=11428 रांची / रायपुर। झारखंड में विधानसभा चुनाव के पहले ही कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की तरफ से बतौर सह प्रभारी काम कर चुके अरुण उरांव ने भाजपा का दामन थामा है। आज रांची में उन्होंने भाजपा के मुख्यमंत्री रघुवर दास की उपस्तिथि में भाजपा की प्राथमिक सदस्यता ली है। उनके […]]]>

रांची / रायपुर। झारखंड में विधानसभा चुनाव के पहले ही कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की तरफ से बतौर सह प्रभारी काम कर चुके अरुण उरांव ने भाजपा का दामन थामा है। आज रांची में उन्होंने भाजपा के मुख्यमंत्री रघुवर दास की उपस्तिथि में भाजपा की प्राथमिक सदस्यता ली है। उनके साथ कांग्रेस के विधायक सुखदेव भगत और मनोज यादव ने भी भाजपा की सदस्यता ली है। कांग्रेस के आलावा झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायक कुणाल सारंगी, जेपी भाई पटेल, चमरा लिंडा और नव जवान संघर्ष मोर्चा के विधायक भानु प्रताप शाही ने भी भाजपा प्रवेश किया है।

इधर बीजेपी में शामिल होने वाले सभी विधायकों और नेताओं का स्वागत करते हुए भाजपा नेता नंद किशोर यादव ने कहा कि रघुबर दास के नेतृत्व में राज्य की सरकार आम जनता के लिए काम कर रही है। बीजेपी परिवार में शामिल होने वाले सभी लोगों का धन्यवाद। उन्होंने कहा कि जिस झारखंड प्रदेश में हम लोग बैठे हैं उसे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने बनाया था, अब नरेंद्र मोदी इस इस प्रदेश को संवार रहे है।

दूध और शक़्कर की तरह विकास और राष्ट्रवाद
कांग्रेस से भाजपा में शामिल होने के बाद विधायक सुखदेव भगत ने कहा कि वि​कास और राष्ट्रवाद, दूध में शक्कर की तरह है और हम इसकी मिठास को बढ़ाने के लिये भाजपा में शामिल हुए है। उन्होंने आगे कहा कि मैं निष्ठापूर्वक पार्टी के विश्वास पर खरा उतरूं और विकास और राष्ट्रवाद पर चलूं, ऐसा मेरा प्रयास रहेगा।

]]>
Big News, BJP jharkhand, Congress mla join bjp in jharkhand, Jharkhand, jharkhand government job 2019-10-23 16:28:19 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Congress-mla-join-bjp-in-jharkhand.jpg
BCCI अध्यक्ष बनने के बाद बोले गांगुली, भारतीय टीम को मिलेगा पूरा सपोर्ट https://deshtv.in/nation/ganguly-says-after-becoming-bcci-president-indian-team-will-get-full-support/ Wed, 23 Oct 2019 09:54:35 +0000 https://deshtv.in/?p=11425 मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभालने के बाद सौरव गांगुली ने मीडिया से चर्चा की। गांगुली ने इस दौरान कहा कि विराट कोहली भारतीय क्रिकेट में सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति हैं, यह कहते हुए सौरभ बोले कि वह उनके साथ हर संभव सहयोग करेंगे। सौरव गांगुली ने बुधवार को […]]]>

मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभालने के बाद सौरव गांगुली ने मीडिया से चर्चा की। गांगुली ने इस दौरान कहा कि विराट कोहली भारतीय क्रिकेट में सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति हैं, यह कहते हुए सौरभ बोले कि वह उनके साथ हर संभव सहयोग करेंगे। सौरव गांगुली ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा “मैं कल विराट कोहली से बात करूंगा, और हर संभव तरीके से उनका समर्थन कर भारतीय क्रिकेट को और आगे ले जाने की कोशिश हमारी होगी। ” विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने हाल ही में घर में लगातार 11 वीं टेस्ट श्रृंखला जीत दर्ज की, जिसमें दक्षिण अफ्रीका को तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला में 3-0 से हराया है।

गांगुली ने कहा, “विराट कोहली भारतीय टीम को एक नए स्तर पर ले गए हैं। हम उनके साथ हैं और हम उनके साथ रहेंगे।” सौरभ भी भारतीय टीम की कप्तानी करने के साथ बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन (CAB) के अध्यक्ष भी रह चुके है, उन्होंने इस बात को याद करते हुए कहा कि वह भारतीय क्रिकेट बोर्ड का नेतृत्व उसी तरह करेंगे जैसे उन्होंने टीम इंडिया का नेतृत्व किया था। उन्होंने कहा ”बीसीसीआई की विश्वसनीयता, भ्रष्टाचार मुक्त और बीसीसीआई की बेहतरी के लिए कोई समझौता नहीं होगा, जैसा कि मैंने भारतीय टीम के नेतृत्व करने के समय काम किया था वैसे ही बीसीसीआई के लिए काम करूँगा।” पूर्व भारतीय कप्तान ने पूर्व बीसीसीआई अध्यक्षों जगमोहन डालमिया और एन श्रीनिवासन के उदाहरणों का हवाला देते हुए बताया कि कैसे उन्होंने अपनी कप्तानी के दौरान गांगुली का समर्थन किया था।

उन्होंने कहा, “हमारा ध्यान क्रिकेटरों के जीवन को आसान बनाना है। जब मैं कप्तान था और जगमोहन डालमिया अध्यक्ष थे, तो मुझे याद नहीं है कि हमने कुछ मांगा था, और उन्होंने उसकी मंज़ूरी दे दी थी। उन्होंने कहा, “विराट अब कप्तान हैं और हमारे बीच भी वही संबंध होंगे। भारत को अच्छा खेलने में उन्हें जो भी मदद करने की जरूरत है, हम उसे मुहैया कराएंगे। कोहली ने भारतीय टीम को एक नए स्तर पर ले गए हैं। हम उनके साथ हैं और हम रहेंगे। गांगुली निर्विरोध चुने जाने के बाद बीसीसीआई के 39 वें अध्यक्ष बने है।

]]>
BCCI, Captain Virat kohli, dada, President of Board of Control for Cricket, sourav ganguly, Sourav Ganguly President of BCCI, Sourav Ganguly President of Board of Control for Cricket, Team India, Virat Kohli 2019-10-23 15:24:35 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Sourav-Ganguly-President-of-Board-of-Control-for-Cricket.jpg
मनमोहन सिंह से मिले भूपेश, दिया छत्तीसगढ़ आने का न्यौता https://deshtv.in/nation/bhupesh-met-manmohan-singh-gave-invitation-to-come-to-chhattisgarh/ Wed, 23 Oct 2019 07:24:41 +0000 https://deshtv.in/?p=11416 नई दिल्ली। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल नई दिल्ली प्रवास के दौरान आज पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से उनके निवास में सौजन्य मुलाकात की है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व प्रधानमंत्री को छत्तीसगढ़ में किसानों के हित में लिए गए फैसलों और किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी। इसके साथ ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व […]]]>

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल नई दिल्ली प्रवास के दौरान आज पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से उनके निवास में सौजन्य मुलाकात की है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व प्रधानमंत्री को छत्तीसगढ़ में किसानों के हित में लिए गए फैसलों और किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी। इसके साथ ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को रायपुर में आगामी दिनों में होने वाली इंडियन इकोनॉमिक कांग्रेस की बैठक के लिए आमंत्रित भी किया।

मुख्यमंत्री ने मनमोहन सिंह को मंदी से निपटने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किए गए प्रयासों और कुपोषण मुक्ति के लिए चलाए जा रहे छत्तीसगढ़ सुपोषण अभियान की जानकारी भी दी। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने महात्मा गांधी की विचारधारा के अनुरूप आदिवासियों, किसानों सहित समाज के सभी वर्गों के हित में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की। उन्होंने छत्तीसगढ़ को एक मॉडल स्टेट के रूप में स्थापित करने को भी कहा। मुख्यमंत्री ने पूर्व प्रधानमंत्री को छत्तीसगढ़ के बुनकरों द्वारा प्राकृतिक रंगो से बनी कोसे की साड़ी ओर कुर्ता भेंट किया।

]]>
CM Bhupesh Baghel, ex pm meet cm bhupesh, Manmohan Singh, mbhupesh meet manmohan singh 2019-10-23 12:54:41 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Manmohan-singh-cm-bhupesh-baghel.jpg
Election Result 2019 : कल तय होगी हरियाणा और महाराष्ट्र की नई सरकार https://deshtv.in/nation/election-result-tomorrow-haryana-and-maharashtras-new-government-will-be-decided/ Wed, 23 Oct 2019 06:51:44 +0000 https://deshtv.in/?p=11413 नई दिल्ली। हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में 21 अक्टूबर को हुए मतदान के बाद अब कल 24 अक्टूबर को नतीज़े आएंगे। हालांकि इस बार दोनों राज्यों में मतदान प्रतिशत में गिरावट देखी गई। जहां महाराष्ट्र ने शाम 6 बजे तक 60.05 प्रतिशत मतदान हुआ, वहीं साल 2014 में इसका प्रतिशत 63.08 था। वहीं हरियाणा […]]]>

नई दिल्ली। हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में 21 अक्टूबर को हुए मतदान के बाद अब कल 24 अक्टूबर को नतीज़े आएंगे। हालांकि इस बार दोनों राज्यों में मतदान प्रतिशत में गिरावट देखी गई। जहां महाराष्ट्र ने शाम 6 बजे तक 60.05 प्रतिशत मतदान हुआ, वहीं साल 2014 में इसका प्रतिशत 63.08 था। वहीं हरियाणा में इस बार 65 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था, जब कि पिछले चुनाव में 76.54 वोट डाले गए थे। इधर परिणाम से पहले ज़ारी हुए एग्जिट पोल में भारतीय जनता पार्टी के लिए इन दोनों ही राज्यों में जीत बताई हैं।

                     महाराष्ट्र में विभिन्न एग्जिट पोल के एक समूह ने भाजपा-शिवसेना गठबंधन को राज्य की 288 सीटों में से 211 और कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) को सिर्फ 64 निर्वाचन क्षेत्र दिए। हरियाणा में यह भविष्यवाणी की गई कि भाजपा को 90 में से 66 सीटें जीतने की संभावना है, जबकि कांग्रेस का स्कोर 14 है। भाजपा को धारा 370 के तहत जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने जैसे बड़े फैसलों के एक बड़े समर्थन के रूप में अपनी निरंतर जीत का सिलसिला दिखाई दे सकता है, जो दोनों राज्यों में पीएम मोदी की रैलियों में केंद्रीय विषय था।

ये है मतगणना का शेड्यूल
हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव परिणाम का समय मतों की गिनती गुरुवार को सुबह 8 बजे शुरू होगी और चुनाव आयोग द्वारा शाम 5 बजे तक परिणाम घोषित किए जाने की संभावना है। दोनों राज्यों में दोपहर तक नई सरकार बनने की स्तिथि लगभग साफ़ हो जाएगी, लेकिन वोटों की गिनती शाम तक पूरी हो जाएगी।

इन दलों के बिच हुए सियासी दंगल
इस साल हरियाणा में जो चार प्रमुख दल चुनाव लड़ रहे हैं, उनमें भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), इंडियन नेशनल कांग्रेस (आईएनसी), इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) और जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) शामिल हैं। शिरोमणि अकाली दल तीन राज्यों में चुनाव लड़ रहा है। महाराष्ट्र में प्रमुख दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) है।

छत्तीसगढ़ में भी मतगणना कल
इधर छत्तीसगढ़ में चित्रकोट विधानसभा में हुए उपचुनाव के परिणाम भी कल ही सामने आएँगे। कल सुबह आठ बजे से जगदलपुर में बने स्ट्रांग रूम में वोटो की गिनती शुरू की जाएगी। तकरीबन 14 राउंड की गिनती के बाद यहाँ चुनाव परिणाम आएँगे। हालाँकि दोपहर तक की गिनती के बाद लगभग जीत हार का आंकड़ा सामने आने की सम्भावना है। इस उपचुनाव में 6 प्रत्याशियों ने अपनी किस्मत आज़माई थी।

]]>
cm manohar lal khattar, devendra fadnvis, hariyana election result 2019, maharastra election result, narendra modi, Narendra Modi cabinet 2019-10-23 13:11:35 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/03/Congress-BJP-Logo-Deshtv-01.jpg
बैंक हड़ताल : दीपावली से ठीक पहले हड़ताल का बाजार पर दिखा असर https://deshtv.in/nation/bank-strike-strike-just-before-diwali-shows-the-impact-on-the-market/ Tue, 22 Oct 2019 10:18:49 +0000 https://deshtv.in/?p=11389 रायपुर। बैंक इंप्लॉइज फेडरेशन ऑफ इंडिया और एटक ने आज देशव्यापी बैंक हड़ताल किया। जिसमें युनियन से जुड़े सभी बैंक के लिपिकिय कर्मियों ने आंदोलन का भरपुर समर्थन भी किया। देशभर के साथ साथ राजधानी रायपुर में भी बैंक इंप्लॉइज फेडरेशन ऑफ इंडिया और एटक के आह्वान पर सभी बैंक के कर्मी सुबह इकट्ठे होकर […]]]>

रायपुर। बैंक इंप्लॉइज फेडरेशन ऑफ इंडिया और एटक ने आज देशव्यापी बैंक हड़ताल किया। जिसमें युनियन से जुड़े सभी बैंक के लिपिकिय कर्मियों ने आंदोलन का भरपुर समर्थन भी किया। देशभर के साथ साथ राजधानी रायपुर में भी बैंक इंप्लॉइज फेडरेशन ऑफ इंडिया और एटक के आह्वान पर सभी बैंक के कर्मी सुबह इकट्ठे होकर केन्द्र सरकार के भेदभाव पूर्ण रवैये पर जमकर विरोध प्रदर्शन किया है। आपको बता दें कि 10 सरकारी बैंकों का विलय कर 4 बड़े बैंक बनाने के विरोध में ऑल इंडिया बैंक इंप्लॉइज एसोसिएशन ने ये विरोध जताया है। सितंबर माह मे भी यूनियन ने बैंक हड़ताल करने की चेतावनी दी थी लेकिन सरकार के आश्वासन के बाद इसे स्थगित किया गया था, लेकिन पुरे एक माह बीत जाने के बाद भी जब केन्द्र सरकार ने इस बात पर कोई संज्ञान नही लिया तो आज बैंक इंप्लॉइज फेडरेशन ऑफ इंडिया ने एक दिवसीय प्रदर्शन कर केन्द्र सरकार के खिलाफ लामबंद हुए। हालाकि बैंको के हड़ताल से उपभोक्ताओं को कैश, डिपॉजिट, निकासी संबंधी जरूरतों में काफी परेशानी उठानी पड़ी।


आपको बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बीते अगस्त माह में 10 सरकारी बैंकों के महाविलय प्लान की घोषणा की थी। जिसके बाद देश में सरकारी बैंकों की संख्या मौजूदा 27 से घटकर 12 रह गई। इसके तहत पंजाब नेशनल बैंक में ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया का, केनरा बैंक में सिंडिकेट बैंक का, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में आंध्रा बैंक व कॉरपोरेशन बैंक का और इंडियन बैंक में इलाहाबाद बैंक का मर्ज होना तय है। निर्मला सीतरामण की माने तो आने वाले 5 साल में देश को पांच लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के लिए नेक्स्ट जेनरेशन बैंकों का होना जरूरी है।

पहले भी हुआ विलय पर नहीं मिला परिणाम
इधर आंदोलन क बाद युनियन के पदाधिकरियों का कहना है कि छह महत्वपूर्ण राष्ट्रीय बैंकों को बंद करना सरकार का दुर्भाग्यपूर्ण और अनपेक्षित निर्णय है। ये अच्छा प्रदर्शन करने वाले बैंक हैं और देश के आर्थिक विकास में उल्लेखनीय योगदान भी इन बैंको ने दिया है। युनियन ये भी कहना है कि इसके पहले भी बैंकों का विलय किया गया था लेकिन इसका कोई सकारात्मक परिणाम नही दिखाई दिया। यह बैंकों के विलय के प्रयोग करने का समय नहीं है। भारत की अर्थव्यवस्था निचे गिरी हुइ है ऐसे मे ये समय बैंकों के विलय के लिए कदापी सही नही है।

ऑनलाइन ट्रांजेक्शन रहा सहारा
देशव्यापी बैंक हड़ताल के चलते करोडों रूपए के नुकसान का अंदेशा अर्थशास्त्री जता रहे है। खासकर दिपावली से ठीक पहले हुए इस बंद का असर व्यापार पर भी काफी पड़ा। ऐसे मे बिगड़ते अर्थव्यवस्था पर आज की ये हड़ताल दुष्प्रभावी माना जा रहा है, लेकिन डिजिटल युग में बैंको द्वारा दी गई ऑनलाइन सुविधा के चलते हड़ताल का प्रभाव कुछ हद तक कम हुआ है। वहीं एसबीआई के भी कर्मचारियों ने भी इस हड़ताल से दुरी बनाए रखी थी।

]]>
Bank Strike, deshbhar me bank band, Diwali market, raipur me bank hadtal, बैंक हड़ताल 2019-10-22 16:54:47 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Bank-Hadtaal.jpg
CM योगी से मिला कमलेश का परिवार, और होटल में बरामद हुए कुर्ते https://deshtv.in/nation/kamleshs-family-met-cm-yogi-and-kurta-recovered-in-hotel/ Sun, 20 Oct 2019 10:21:39 +0000 https://deshtv.in/?p=11314 लखनऊ। यूपी के राजनेता रहे कमलेश तिवारी के परिवार ने आज दोपहर करीब 30 मिनट तक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। बैठक के बाद समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए, पीड़ित की पत्नी किरण तिवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने उन्हें आश्वासन दिया है कि न्याय किया जाएगा। “हमने हत्यारों के लिए मृत्युदंड […]]]>

लखनऊ। यूपी के राजनेता रहे कमलेश तिवारी के परिवार ने आज दोपहर करीब 30 मिनट तक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। बैठक के बाद समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए, पीड़ित की पत्नी किरण तिवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने उन्हें आश्वासन दिया है कि न्याय किया जाएगा। “हमने हत्यारों के लिए मृत्युदंड की मांग की। उन्होंने हमें आश्वासन दिया कि उन्हें दंडित किया जाएगा”।

कमलेश तिवारी की मां और बेटे ने उनकी मौत की जांच के खिलाफ बात की थी। कमलेश की मां ने आरोप लगाया कि उनके बेटे को एक स्थानीय राजनेता ने जमीन विवाद में उसकी हत्या कर दी। वहीं कमलेश के बेटे सत्यम तिवारी ने कहा कि परिवार ने राज्य प्रशासन पर भरोसा नहीं किया और मामले को एनआईए को सौंपने की गुज़ारिश की है। “हम चाहते हैं कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी मामले की जांच करे। हमें किसी पर भरोसा नहीं है। मेरे पिता को मार दिया गया था, हालांकि उनके पास सुरक्षा गार्ड थे। हम प्रशासन पर कैसे भरोसा कर सकते हैं? ” 45 वर्षीय कमलेश तिवारी को सशस्त्र सुरक्षा – दो गनर और एक गार्ड – एक स्थानीय पुलिस स्टेशन द्वारा प्रदान किया गया था। उनकी हत्या के दिन, बंदूकधारी अनुपस्थित थे। पुलिस ने कहा कि गार्ड ने संदिग्धों को गेट पर रोक दिया और जांच के बाद ही उन्हें अंदर जाने दिया था।

पुलिस को मिले खून से सने कुर्ते
उत्तरप्रदेश पुलिस ने इस पूरे मामले में अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार भी किया है। यूपी पुलिस की SIT ने जांच को आगे बढ़ाते हुए लखनऊ के एक होटल के कमरे में रविवार को तलाशी ली है। तलाशी के दौरान होटल के कमरे से एक लवारिस बैग और खून से सना भगवा रंग का कुर्ता भी मिला है। यूपी पुलिस ने इस कमरे से मिले सामान को कब्जे में लेकर उसकी जांच शुरू कर दी है, और फ़िलहाल कमरे सील कर दिया है।

अखिलेश ने साधा निशाना
समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपराध के अनुकूल माहौल बनाने के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार की आलोचना की है। हालाँकि इस मुलाकात पर उन्होंने बहुत ज़्यादा न बोलते हुए मुख्यमंत्री को याद दिलाया कि उत्तर प्रदेश में ऐसी कई घटनाएं हुई है, अन्य परिवारों में भी दुख है ऐसे में उन्हें उनसे भी मिलना चाहिए। अखिलेश ने कहा “यह राज्य की राजधानी में पीड़ितों के शोक संतप्त परिवार से मिलने के लिए एक उचित कदम है। आशा है कि मुख्यमंत्री इलाहाबाद, कन्नौज, झांसी और मेरठ भी जाएंगे, जहां राज्य के बिगड़ती कानून व्यवस्था के अन्य पीड़ितों के परिवार भी मौजूद हैं।”

]]>
Family of #KamleshTiwari, inputs about 2 suspects, kamlesh tiwari, Lucknow police, Sheikh Ashfaq Hussain&Pathan Moinuddin Ahmed, up kamlesh tiwari 2019-10-20 15:51:39 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/kamlesh-tiwari-lakhnau.jpg
Bank Strike : दीपावली से ठीक पहले बैंक हड़ताल… https://deshtv.in/nation/bank-strike-bank-strike-just-before-deepawali/ Sun, 20 Oct 2019 06:59:57 +0000 https://deshtv.in/?p=11306 नई दिल्ली। दीपावली से ठीक पहले बैंकिंग सेवाएं प्रभावित हो सकती है, क्योंकि दो बैंक यूनियनों ने हड़ताल की चेतावनी दी है। बैंक कर्मी और अधिकारीयों के यूनियन ने कहा कि वे हाल ही में बैंकों के विलय, जमा दरों के ब्याज़ में गिरावट और नौकरी में अ-सुरक्षा के के विरोध में 22 अक्टूबर को […]]]>

नई दिल्ली। दीपावली से ठीक पहले बैंकिंग सेवाएं प्रभावित हो सकती है, क्योंकि दो बैंक यूनियनों ने हड़ताल की चेतावनी दी है। बैंक कर्मी और अधिकारीयों के यूनियन ने कहा कि वे हाल ही में बैंकों के विलय, जमा दरों के ब्याज़ में गिरावट और नौकरी में अ-सुरक्षा के के विरोध में 22 अक्टूबर को 24 घंटे के हड़ताल पर जाएंगे। मिली जानकारी के मुताबिक़ दो यूनियनों जिसमें एक अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ (AIBEA) और दूसरा बैंक कर्मचारी महासंघ (BEFI) ने भारतीय बैंक संघ (आईबीए) को एक नोटिस के माध्यम से सूचित किया है कि वे 22 अक्टूबर को सुबह 6 बजे से हड़ताल पर चले जाएंगे, जो की 23 अक्टूबर को सुबह 6 बजे ख़त्म होगी।
इधर देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने इस हड़ताल को लेकर कहा है कि इसका प्रभाव बहुत ज़्यादा नहीं पड़ेगा। क्योंकि उसके अधिकांश कर्मचारी इस हड़ताल में भाग लेने वाले यूनियनों के सदस्य नहीं हैं। एसबीआई ने कहा, ” हड़ताल में भाग लेने वाले यूनियनों में हमारे बैंक कर्मचारियों की सदस्यता बहुत कम है, इसलिए हमारे कामकाज पर हड़ताल का असर न के बराबर होगा।” SBI के अधिकारीयों ने आगे कहा कि प्रस्तावित हड़ताल से होने वाले नुकसान का अब तक निर्धारित नहीं किया जा सका है।

                           इधर बैंक ऑफ महाराष्ट्र और सिंडिकेट बैंक जैसे अन्य बैंकों ने हड़ताल के दौरान ग्राहक सेवा प्रदान करने पर चिंता व्यक्त की है। सिंडिकेट बैंक ने स्टॉक एक्सचेंजों को एक नोटिस में कहा, “बैंक प्रस्तावित हड़ताल के दिन शाखाओं के सुचारू संचालन के लिए आवश्यक कदम उठा रहा है। हालांकि, हड़ताल की स्थिति में शाखाओं / कार्यालयों के कामकाज पर असर पड़ सकता है।”

वहीं बैंक ऑफ बड़ौदा ने एक्सचेंजों के साथ एक फाइलिंग में कहा, “बैंक हड़ताल के दिन बैंक की शाखाओं के सुचारू संचालन की दिशा में काम कर रहे है, अगर हड़ताल की स्थिति बनती है, तो शाखाओं का कामकाज प्रभावित हो सकता है। ”

                          एआईबीईए और बीईएफआई ने कहा कि वे बैंकिंग नौकरियों की नियमित और बारहमासी प्रकृति की आउटसोर्सिंग और बढ़ते बुरे ऋणों की वसूली के लिए लिपिक और उप-कर्मचारियों की पर्याप्त भर्ती की मांग करते हुए और बैंकिंग उद्योग के निजीकरण का विरोध कर रहे हैं।

पिछले महीने अधिकारियों की यूनियनों ने 26 और 17 सितंबर को दो दिवसीय अखिल भारतीय बैंक हड़ताल की थी, जिसे बाद में सरकारी हस्तक्षेप पर वापस ले लिया गया था।

]]>
AIBEA, Bank Strike, Bank Strike 22 Oct, BEFI, Dipawali se pahle Bank Strike, SBI Bank Strike 2019-10-20 12:29:57 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/09/Bank-Strike-26-Sept-2019.jpg
NHAI Recruitment:नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया में भर्ती जारी https://deshtv.in/nation/nhai-recruitment-recruitment-continues-in-national-highway-authority-of-india/ Sat, 19 Oct 2019 06:25:34 +0000 https://deshtv.in/?p=11282 रायपुर |National Highway Authority of India (NHAI) Recruitment: भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने उप प्रबंधक (तकनिकी) पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया जारी है। उम्मीदवार विस्तृत जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट https://nhai.gov.in का अवलोकन कर सकते है। ऑनलाइन आवेदन करते समय आवेदकों द्वारा सावधानी बरतना आवश्यक है, ताकि फॉर्म में कोई त्रुटि न रहे।  महत्वपूर्ण […]]]>

रायपुर |National Highway Authority of India (NHAI) Recruitment: भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने उप प्रबंधक (तकनिकी) पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया जारी है। उम्मीदवार विस्तृत जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट https://nhai.gov.in का अवलोकन कर सकते है। ऑनलाइन आवेदन करते समय आवेदकों द्वारा सावधानी बरतना आवश्यक है, ताकि फॉर्म में कोई त्रुटि न रहे।


 महत्वपूर्ण तारीख: आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि: 31 अक्टूबर 2019
 रिक्ति विवरण : उप प्रबंधक (तकनीकी) : 30 कुल पद
* UR पद 03
* SC पद 04
* ST पद 02
* OBC पद 08
* EWS पद 13

 आधिकारिक यूआरएल – https://nhai.gov.in/current-vacancies.htm
 शहर – नई दिल्ली
 शैक्षिक योग्यता और आयु सीमा:
* किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय / संस्थान से सिविल इंजीनियरिंग में डिग्री। सिविल इंजीनियरिंग अनुशासन में मान्य गेट            (ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग) स्कोर 2019 के आधार पर सीधी भर्ती।
* आयु सीमा: 30 वर्ष से अधिक नहीं।

आवेदन कैसे करें
पात्र आवेदक 31 अक्टूबर 2019 को या उससे पहले ऑनलाइन मोड के माध्यम से पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं। आवेदक ऑनलाइन आवेदन करने के लिए NHAI की वेबसाइट www.nhai.gov.in का उपयोग करें।

]]>
NHAI Recruitment 2019, Recruitment 2019, up prabandhak ki bharti, भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण 2019-10-19 11:55:34 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/NHAI-Recruitment_02.jpg
रंजन गोगोई ने की CJI के लिए शरद अरविंद बोबडे की सिफारिश https://deshtv.in/nation/ranjan-gogoi-recommends-sharad-arvind-bobde-for-cji/ Fri, 18 Oct 2019 09:53:02 +0000 https://deshtv.in/?p=11247 नई दिल्ली। भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने सरकार को पत्र लिखकर जस्टिस शरद अरविंद बोबडे को अगले चीफ़ जस्टिस बनाने की सिफारिश की है। न्यायमूर्ति गोगोई ने अपने पत्र में कथित तौर पर सिफारिश करते हुए लिखा है कि सरकार न्यायमूर्ति एसए बोबडे को भारत के अगले मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्त […]]]>

नई दिल्ली। भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने सरकार को पत्र लिखकर जस्टिस शरद अरविंद बोबडे को अगले चीफ़ जस्टिस बनाने की सिफारिश की है। न्यायमूर्ति गोगोई ने अपने पत्र में कथित तौर पर सिफारिश करते हुए लिखा है कि सरकार न्यायमूर्ति एसए बोबडे को भारत के अगले मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्त कर सकती है।

जस्टिस बोबड़े, जस्टिस गोगोई के बाद वरिष्ठता में नंबर 2 हैं। जस्टिस बोबड़े मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश रहे हैं। वह 23 अप्रैल 2021 को सेवानिवृत्त होने वाले हैं। 24 अप्रैल 1956 को नागपुर, महाराष्ट्र में जन्मे, जस्टिस बोबडे ने नागपुर विश्वविद्यालय में अध्ययन किया। वे 2000 में बंबई उच्च न्यायालय में अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में शामिल हुए। 2012 में, वह मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश बने। उन्हें अप्रैल, 2013 में सर्वोच्च न्यायालय में पदोन्नत किया गया था। वह अयोध्या मंदिर-मस्जिद विवाद, बीसीसीआई मामले और पटाखों के खिलाफ याचिका सहित उच्चतम न्यायालय के समक्ष शीर्ष मामलों में शामिल रहे हैं।

3 अक्टूबर 2018 को मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ लेने वाले जस्टिस गोगोई 17 नवंबर को सेवानिवृत्त होंगे। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि चीफ जस्टिस अपने रिटायरमेंट से एक महीने पहले अपने उत्तराधिकारी के रूप में अगले वरिष्ठ जज के नाम की सिफारिश करने के लिए सम्मेलन में गए हैं। 18 नवंबर को मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ लेने वाले जस्टिस बोबडे का कार्यकाल लगभग 18 महीने का होगा।

]]>
CJI ranjan gogoi, CJI Sharad Arvind Bobde, Ranjan Gogoi, Sharad Arvind Bobde, Sharad Arvind Bobde take Oath as CJI 2019-10-18 15:59:25 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Ranjan-Gogoi-Arvind-Bobde.jpg
मनमोहन का केंद्र पर निशाना, कहा-विकास का डबल इंजन मॉडल फेल https://deshtv.in/nation/manmohan-targets-center-said-double-engine-model-of-development-failed/ Thu, 17 Oct 2019 11:10:48 +0000 https://deshtv.in/?p=11215 नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा है कि मोदी सरकार आर्थिक मंदी को लेकर बेपरवाह है। आर्थिक मंदी के कारण से महाराष्ट्र पर असर पड़ा है। आर्थिक मंदी के कारण महाराष्ट्र पर असर पड़ा है। ऑटो हब बुरी तरह प्रभावित हुआ है। आज हर तीसरा व्यक्ति बेरोजगार है। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने […]]]>

नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा है कि मोदी सरकार आर्थिक मंदी को लेकर बेपरवाह है। आर्थिक मंदी के कारण से महाराष्ट्र पर असर पड़ा है। आर्थिक मंदी के कारण महाराष्ट्र पर असर पड़ा है। ऑटो हब बुरी तरह प्रभावित हुआ है। आज हर तीसरा व्यक्ति बेरोजगार है। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आगे कहा कि महाराष्ट्र को गंभीर आर्थिक मंदी के कुछ बुरे प्रभावों का सामना करना पड़ा है। लगातार 4 वर्षों से महाराष्ट्र की विनिर्माण विकास दर घट रही है।

                                 पिछले 5 वर्षों में महाराष्ट्र सबसे अधिक फैक्ट्रियों के बंद होने का गवाह रहा है। पीएमसी बैंक घोटाले पर मनमोहन सिंह ने कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि इस बैंक में घोटाला हुआ है। मैं महाराष्ट्र के सीएम, पीएम मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से इस मामले को देखने और प्रभावित 16 लाख लोगों की शिकायतों का समाधान करने की अपील करता हूं। इसके अलावा उन्होंने कहा कि मैं भारत सरकार, आरबीआई और महाराष्ट्र सरकार से उम्मीद करता हूं कि वे साथ मिलकर 16 लाख जमाकर्ताओं को न्याय के लिए प्रयास करेंगे।

अफसोस की बात है कि वर्तमान मंदी और सरकार की उदासीनता-असमर्थता हमारे लाखों लोगों के भविष्य और आकांक्षाओं को प्रभावित कर रही है। विकास का डबल इंजन मॉडल, जिस पर भाजपा वोट मांगती है वह पूरी तरह से विफल रहा है। मनमोहन सिंह ने आगे कहा कि मैं पहले भी कह चुका हूं कि 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी के लिए 10 से 12 फीसदी ग्रोथ रेट हर साल चाहिए। लेकिन ग्रोथ रेट प्रतिवर्ष कम हो रही है। आईएमएफ ने भी कहा है कि इस साल सिर्फ 6.1 प्रतिशत बढ़त होगी।

]]>
#DrSinghEconomyKing, ex pm Manmohan singh, Former Prime Minister Manmohan Singh, Manmohan Singh, pm Manmohan singh 2019-10-17 16:40:48 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/dr-manmohan-singh-0.jpg
अयोध्या मामला : अदालत में ज़िरह पूरी, अब फैसले का इंतज़ार https://deshtv.in/nation/ayodhya-case-cross-examination-in-court-now-waiting-for-verdict/ Wed, 16 Oct 2019 12:27:04 +0000 https://deshtv.in/?p=11189 नई दिल्ली। अयोध्या में दशकों पुराने मंदिर-मस्जिद विवाद की दैनिक सुनवाई 40 दिनों के बाद आज सुप्रीम कोर्ट में समाप्त हो गई। इस मामले में फैसला फिलहाल कोर्ट ने सुरक्षित रखा है। उम्मीद जताई जा रही है कि 17 नवंबर से पहले इस फैसले को सार्वजनिक कर दिया जाएगा। इस मामलें में सुनवाई सुनवाई करने […]]]>

नई दिल्ली। अयोध्या में दशकों पुराने मंदिर-मस्जिद विवाद की दैनिक सुनवाई 40 दिनों के बाद आज सुप्रीम कोर्ट में समाप्त हो गई। इस मामले में फैसला फिलहाल कोर्ट ने सुरक्षित रखा है। उम्मीद जताई जा रही है कि 17 नवंबर से पहले इस फैसले को सार्वजनिक कर दिया जाएगा। इस मामलें में सुनवाई सुनवाई करने वाली भारत के मुख्य न्यायधीश रंजन गोगोई समेत पांच-न्यायाधीशों की संविधान पीठ ने की है। जिसमें से सीजेआई रंजन गोगोई 17 नवंबर को सेवानिवृत्त होंगे। सुनवाई के अंतिम दिन, मुस्लिम याचिकाकर्ताओं का प्रतिनिधित्व करने वाले वकील ने कोर्ट में नाटकीय ढंग से एक नक्शें को दाफ दिया जिसमें राम जन्मभूमि का जिक्र था। अधिवक्ता राजीव धवन ने सुन्नी वक्फ बोर्ड सहित मुस्लिम याचिकाकर्ताओं का प्रतिनिधित्व करते हुए अदालत की अनुमति के बाद राम जन्म स्थान वाले एक नक्शे को फाड़ दिया। जिसके बाद अदालती कार्यवाही में गहमा गहमी का माहौल बन गया। इस हंगामे के कारण और दोनों पक्षों के व्यवधानों के बाद मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने बाहर चले जाने की बात कही।

                  पांच-न्यायाधीशों के संविधान ने 6 अगस्त को दिन-प्रतिदिन की कार्यवाही शुरू की, मध्यस्थता की कार्यवाही विवाद का एक सौहार्दपूर्ण समाधान खोजने में विफल रही। सप्ताह भर के दशहरे के अवकाश के बाद सोमवार को सुप्रीम कोर्ट ने दैनिक सुनवाई फिर से शुरू कर दी। 2010 के इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ शीर्ष अदालत में चौदह अपील दायर की गई हैं कि अयोध्या में 2.77 एकड़ जमीन को तीन पक्षों के बीच समान रूप से विभाजित किया जाए – सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्मोही अखाड़ा और राम लल्ला।

कई हिंदुओं का मानना ​​है कि भूमि भगवान राम की जन्मभूमि थी और एक प्राचीन मंदिर के खंडहर पर एक मस्जिद बनाई गई थी। 16 वीं सदी में बाबरी मस्जिद दिसंबर 1992 में दक्षिणपंथी कार्यकर्ताओं द्वारा चकित कर दी गई थी। मस्जिद के विनाश ने देश में दंगे भड़का दिए। कई मध्यस्थता प्रयास दशकों पुराने विवाद के समाधान का उत्पादन करने में विफल रहे है।

]]>
ayodhyya faisla live, ayyodhya, faisla, ram mandir, ram mandir par failsa, ramjanmbhoomi 2019-10-16 17:57:04 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/08/Ram-Janmbhoomi-Babri-Maszid-0.jpg
Big News : जम्मू-कश्मीर में छत्तीसगढ़िहा मजदूर की आतंकी हत्या https://deshtv.in/nation/big-newsterrorist-killing-of-chhattisgarh-laborer-in-jammu-and-kashmir/ Wed, 16 Oct 2019 09:38:18 +0000 https://deshtv.in/?p=11176 रायपुर। जम्मू-कश्मीर में आज दोपहर आतंकियों ने छत्तीसगढ़ के एक मजदूर की गोली मारकर हत्या कर दी। मारे गए मजदूर की पहचान छत्तीसगढ़ के सेठी कुमार सागर के रूप में हुई है, जो नेहामा में एक ईंट के भट्टे पर काम कर रहा था। पुलिस व सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर सर्च अभियान चलाया […]]]>

रायपुर। जम्मू-कश्मीर में आज दोपहर आतंकियों ने छत्तीसगढ़ के एक मजदूर की गोली मारकर हत्या कर दी। मारे गए मजदूर की पहचान छत्तीसगढ़ के सेठी कुमार सागर के रूप में हुई है, जो नेहामा में एक ईंट के भट्टे पर काम कर रहा था। पुलिस व सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर सर्च अभियान चलाया हुआ है, परंतु अभी तक आतंकवादियों का कोई पता नहीं चल पाया है। वहीं श्रमिक के शव को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है। मजदूर छत्तीसगढ़ के किस इलाके के है इसका पता नहीं चल सका है। ज्ञात हो कि प्रदेश के जांजगीर-चांपा और बलौदाबाजार जिले के शिवरीनारायण, कसडोेल इलाके से काफी संख्या में मजदूर काम करने हर बरस दीगर राज्यों में जाते हैं।

पुलिस ने बताया कि घटना दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले की है। पिछले तीन दिन के भीतर आतंकवादियों द्वारा यह दूसरा हमला है। जम्मू कश्मीर के शोपियां जिले में सोमवार को एक संदिग्ध पाकिस्तानी नागरिक समेत दो आतंकवादियों ने राजस्थान के एक ट्रक ड्राइवर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जबकि एक बाग के मालिक से मारपीट की।

 

दरअसल, भारत सरकार द्वारा अनुच्‍छेद-370 हटाए जाने के बाद पाकिस्‍तान में भारी बौखलाहट है। पाकिस्‍तानी सेना सीमा पर सीज फायर वायलेशन की आड़ में लगातार आतंकियों की घुसपैठ की कोशिश कर रही। भारतीय सेना आतंकियों की घुसपैठ की कई कोशिशों को नाकाम कर चुकी है। एहतियातन जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबल हाई अलर्ट मोड पर हैं और चप्पे-चप्पे पर नाकेबंदी की गई है। यही नहीं वायुसेना के कई एयरबेसों को भी हाई अलर्ट मोड पर रखा गया है। बीते दिनों खुफ‍िया एजेंसियों ने अलर्ट जारी करते हुए कहा था‍ कि बौखलाए आतंकी देश में बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते हैं। इसके बाद से देश के संवेदनशी ठिकानों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

बता दें कि पुंछ में नियंत्रण रेखा से सटे शाहपुर किरनी सेक्टर में कल पाकिस्तान ने रिहायशी इलाकों पर गोले दागे थे जिसमें एक महिला की मौत हो गई थी। बीते चार दिनों में पाकिस्तान की गोलीबारी में भारतीय सेना के तीन जवानों ने वीरगति पाई है। रविवार को बारामूला के उड़ी सेक्टर में हुई गोलीबारी में सेना के सिग्नलमैन संतोष गोप शहीद हो गए थे। इससे पहले जम्मू संभाग के नौशहरा के कलाल में पाकिस्तान की ओर से गोलाबारी में नायक सुभाष थापा ने शहादत पाई थी।

]]>
jammu kashmir, jammu kashmir me aatnki hamla, Kashmir, Terrorist killing of Chhattisgarh laborer, Terrorist killing of Chhattisgarh laborer in Jammu and Kashmir 2019-10-16 15:27:26 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/08/Jammu-Kashmir-144.jpg
अयोध्या मामला : “शोधपरक ग्रन्थ” सौपने पर कोर्ट में गहमा गहमी https://deshtv.in/nation/ayodhya-case-the-court-got-over-the-submission-of-research-book/ Wed, 16 Oct 2019 06:49:45 +0000 https://deshtv.in/?p=11159 नई दिल्ली। अयोध्या में राजनीतिक रूप से संवेदनशील राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद में दैनिक सुनवाई आज शाम 5 बजे ख़त्म हो जाएगी। आज की सुनवाई शुरू करने से पहले भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने एक वकील की दलील देने के लिए वक़्त मांगने पर कहा कि “हम सभी शाम 5 बजे तक […]]]>

नई दिल्ली। अयोध्या में राजनीतिक रूप से संवेदनशील राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद में दैनिक सुनवाई आज शाम 5 बजे ख़त्म हो जाएगी। आज की सुनवाई शुरू करने से पहले भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने एक वकील की दलील देने के लिए वक़्त मांगने पर कहा कि “हम सभी शाम 5 बजे तक बैठ जाएंगे।”
इधर अयोध्या मध्यस्थता पैनल आज मध्यस्थता के दूसरे दौर में अपनी रिपोर्ट कोर्ट में प्रस्तुत कर सकती है। अयोध्या मामलें पर इस दफ़े उम्मीद है कि वो 17 नवंबर तक अपना फैसला सुना सकते है। दरअसल भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई 17 नवंबर को रिटायर्ड होने वाले है लिहाज़ा ये क़यास लगाए जा रहे है कि अपना पद छोड़ने से पहले गोगोई 134 साल पुराने इस केस में फैसला सुना सकते है।


गौरतलब है कि मंगलवार को वरिष्ठ वकील के.पराशरन ने राम लल्ला की ओर से अदालती कार्यवाही में ज़िरह करते हुए कहा कि हिंदू सदियों से राम जन्मभूमि के लिए लड़ रहे है, और यह तर्क दिया कि मुसलमान किसी भी मस्जिद में प्रार्थना कर सकते थे। इस तर्क को आगे बढ़ाते हुए पूर्व एडवोकेट जनरल पराशरन ने कहा कि “मुसलमान किसी भी अन्य मस्जिद में भी नमाज़ कर सकते हैं। अयोध्या में 55-60 मस्जिदें हैं। लेकिन हिंदुओं के लिए, यह भगवान राम की जन्मभूमि है, और हम जन्मस्थान नहीं बदल सकते।” फिलहाल इस मामलें में सुनवाई जारी है।

                          सुप्रीम कोर्ट में ऑल इंडिया हिन्दू महासभा की ओर से विकास सिंह ने एडिशनल डॉक्यूमेंट के तौर पर पूर्व आईपीएस किशोर कुणाल की ओर से शोधपरक ग्रन्थ बेंच को दिया गया। इस पर मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने ज़ोरदार आपत्ति जताई है। राजीव धवन ने कहा कि इसे ऑन रिकॉर्ड ना लिया जाए, ये बिल्कुल नई चीज है। कोर्ट इसे वापस कर दें, इसपर अदालत की ओर से कहा गया कि ये किताब वो बाद में पढ़ेंगे। इसी के साथ किताब वापस दे दी गई है। हिंदू महासभा की ओर से विकास सिंह ने अब बहस शुरू कर दी है। जब विकास सिंह ने किताब दी तो चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि क्या वह इसे रख सकके हैं ? मैं इसे बाद में पढ़ूंगा। राजीव धवन के विरोध पर हिंदू महासभा के वकील विकास सिंह ने कहा कि कोर्ट ने किसी नए कागजातों को लाने पर मनाही की है, लेकिन कोई पार्टी किसी तरह का सबूत या किताब दे सकती है।

]]>
Ayodhyya mamala, babri maszid, CJI ranjan gogoi, lord ram, ram, ram janm bhoomi, Ranjan Gogoi, Suprime court 2019-10-16 12:19:45 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/08/Ram-Janmbhoomi-Babri-Maszid.jpg
आयुष्मान भारत के तहत 50 लाख से अधिक लाभार्थी https://deshtv.in/nation/more-than-50-lakh-beneficiaries-under-ayushman-bharat/ Tue, 15 Oct 2019 08:29:38 +0000 https://deshtv.in/?p=11128 नई दिल्ली। आयुष्मान भारत योजना के तहत देशभर में अब तक 50 लाख से अधिक लोगों को लाभ पहुंचाया गया है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “एक स्वस्थ भारत बनाने की यात्रा में यह एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है! इसपर प्रत्येक भारतीय को गर्व होगा कि एक वर्ष में ही, आयुष्मान […]]]>

नई दिल्ली। आयुष्मान भारत योजना के तहत देशभर में अब तक 50 लाख से अधिक लोगों को लाभ पहुंचाया गया है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “एक स्वस्थ भारत बनाने की यात्रा में यह एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है! इसपर प्रत्येक भारतीय को गर्व होगा कि एक वर्ष में ही, आयुष्मान भारत की बदौलत 50 लाख से अधिक नागरिकों को मुफ्त इलाज का लाभ मिला है। इलाज के अलावा, यह योजना कई भारतीयों को सशक्त भी बना रही है।”

गौरतलब है कि ठीक एक वर्ष पहले 2018 में लॉन्च किया गया, आयुष्मान भारत विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना है, जिसका उद्देश्य देश के 10.74 करोड़ से अधिक गरीब नागरिकों को चिकित्सा सुविधा प्रदान करना है। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य (पीएम-जेएवाई) के तहत, 16,085 अस्पतालों को सूचीबद्ध किया गया है और 10 करोड़ से अधिक लोगों को ई-कार्ड जारी किए गए हैं। आयुष्मान भारत के तहत देश भर में लगभग 17,150 स्वास्थ्य एवं वेलनेस केन्द्र कार्य करने लगे हैं।

]]>
Ayushman Bharat, pm narendra modi, आयुष्मान भारत 2019-10-15 13:59:38 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/01/Aayushman-Bhart-Yojna.jpg
खट्टर के बयान पर बोले राजनाथ, “मैंने सुना नहीं तो क्या कहूं” https://deshtv.in/nation/rajnath-said-on-khattars-statement-i-have-not-heard-what-to-say/ Tue, 15 Oct 2019 07:01:37 +0000 https://deshtv.in/?p=11126 मुंबई। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने महाराष्ट्र चुनाव प्रचार के दौरान मनोहरलाल खट्टर के विवादित बयान पर कांग्रेस के हमलों का जवाब दिया है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए राजनाथ ने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाने के लिए कांग्रेस ने अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया था। इस चुनाव […]]]>

मुंबई। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने महाराष्ट्र चुनाव प्रचार के दौरान मनोहरलाल खट्टर के विवादित बयान पर कांग्रेस के हमलों का जवाब दिया है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए राजनाथ ने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाने के लिए कांग्रेस ने अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया था। इस चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन ठीक उसके बाद राजनाथ ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के सोनिया गांधी के लिए दिए गए बयान पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। सोनिया गांधी के खिलाफ खट्टर की अपमानजनक टिप्पणियों का जवाब देने के लिए पूछे जाने पर, रक्षा मंत्री ने कहा “मैंने नहीं सुना कि उन्होंने क्या कहा, इसलिए मैं प्रतिक्रिया नहीं दूंगा।


गौरतलब है कि हरियाणा के सीएम मनोहरलाल खट्टर ने हरियाणा में चुनाव प्रचार करते हुए कहा था, “लोकसभा चुनाव में हार के बाद, राहुल ने पार्टी अध्यक्ष पद छोड़ दिया और कहा कि नया कांग्रेस प्रमुख गांधी परिवार से नहीं होगा। हमने उनके फैसले का स्वागत किया है।” वंशवाद की राजनीति को समाप्त करने के लिए अच्छा है। फिर इन लोगों ने देश भर में नए अध्यक्ष के लिए खोज शुरू की। तीन महीने के बाद, उन्होंने सोनिया गांधी को कांग्रेस का प्रमुख बनाया। यह खोदा पहाड, निकली चुहिया, वो भी मरी हुई…।” भाजपा शासित महाराष्ट्र और हरियाणा, 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान करेंगे। नतीजे 24 अक्टूबर को घोषित किए जाएंगे

राहुल ने पीएम को कहा था चौकीदार
राजनाथ ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा “एक स्वस्थ लोकतंत्र में अगर किसी पद के खिलाफ घटिया शब्दों का इस्तेमाल किया जाता है, चाहे वह प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति या न्यायाधीश हो, तो सभी जानते हैं कि वह व्यक्ति लोकतांत्रिक नैतिकता में विश्वास नहीं करता है। राजनाथ ने कहा कि तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने “चौकीदार चोर है” वाक्यांश के साथ अपने चुनाव अभियान में पीएम मोदी पर बार-बार हमला किया। लेकिन उनका यही बयान कांग्रेस के लिए वोटों में तब्दील होने में विफल रहा। फ्रांस से 36 राफेल लड़ाकू जेट खरीदने के लिए सौदे में भ्रष्टाचार के अपने आरोप के चारों ओर घूम गया और उनका आरोप है कि पीएम ने व्यापारी अनिल अंबानी के लिए एक ऑफसेट अनुबंध की सुविधा दी।

]]>
cm hariyana, Defence Minister Rajnath Singh, hariyana, manohar lal khattar, manoharlal khattar, Rajnath Singh 2019-10-15 12:31:37 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/08/Rajnath-Singh.jpg
सीएम भूपेश ने लिखा नितिन गडकरी को पत्र, छत्तीसगढ़ के अधूरे राष्ट्रीय राजमार्गो को पूरा करने की रखी बात https://deshtv.in/nation/cm-bhupesh-wrote-a-letter-to-nitin-gadkari-said-to-complete-the-incomplete-national-highways-of-chhattisgarh/ Mon, 14 Oct 2019 12:03:11 +0000 https://deshtv.in/?p=11110 रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी को पत्र लिखकर छत्तीसगढ़ में निर्माणाधीन और स्वीकृत विभिन्न राष्ट्रीय राजमार्गों को शीघ्र पूरा कराने का अनुरोध किया है। मुख्यमंत्री बघेल ने रायपुर शहर के टाटीबंध चौक में फ्लाई ओवर, रायपुर से धमतरी मार्ग का चौड़ीकरण, बिलासपुर-अम्बिकापुर, चांपा-कोरबा-कटघोरा मार्ग और पत्थल गांव […]]]>

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी को पत्र लिखकर छत्तीसगढ़ में निर्माणाधीन और स्वीकृत विभिन्न राष्ट्रीय राजमार्गों को शीघ्र पूरा कराने का अनुरोध किया है। मुख्यमंत्री बघेल ने रायपुर शहर के टाटीबंध चौक में फ्लाई ओवर, रायपुर से धमतरी मार्ग का चौड़ीकरण, बिलासपुर-अम्बिकापुर, चांपा-कोरबा-कटघोरा मार्ग और पत्थल गांव के कुनकुरी मार्ग के चौड़ीकरण का कार्य शीघ्र पूर्ण कराने का उल्लेख अपने पत्र में किया है। बघेल ने कहा है कि राज्य के इन मार्गो के अपूर्ण होने से जनता को आवागमन में भारी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री को प्रेषित पत्र में उल्लेख किया है कि राष्ट्रीय राजमार्ग 53 में रायपुर शहर के टाटीबंध चौक स्थित है, जो रायपुर-दुर्ग, रायपुर-सिमगा, टाटीबंध-आमानाका एवं टाटीबंध-भनपुरी पांच मार्गों का जंक्शन है। आपके द्वारा 10 सितम्बर 2018 को छत्तीसगढ़ प्रवास के दौरान 100 करोड़ रूपए की लागत से फ्लाई ओवर निर्माण करने घोषणा के एक वर्ष बाद भी निर्माण कार्य प्रारंभ नहीं हो सका है। मुख्यमंत्री ने कहा कि टाटीबंध चौक शहर का व्यस्तम चौक होने एवं जंक्शन का निर्माण मानकों के अनुसार नहीं होने के कारण लगातार दुर्घटनाएं हो रही है। यहां सुगम यातायात फ्लाई ओवर के निर्माण के लिए शीघ्र कार्य शुरू कराने का आग्रह किया है।

रायपुर-धमतरी सड़क का निर्माण है बंद
इसी तरह मुख्यमंत्री बघेल ने केन्द्रीय मंत्री को लिखे पत्र में उल्लेख किया है कि राष्ट्रीय राजमार्ग 30 रायपुर-धमतरी मार्ग का चौड़ीकरण कार्य मई 2018 से पूर्णतः बंद होने और निर्माण एजेंसी द्वारा सड़क के कई हिस्सों में आधी चौड़ाई में सड़क निर्मित कर छोड़ दिया है। जगह-जगह कार्य अधूरे हैं, इससे यातायात बाधित हो रहा है। यह सड़क रायपुर-जगदलपुर को जोड़ने वाली महत्वपूर्ण सड़क है। सड़क का निर्माण कार्य नहीं होने के कारण आम जनता को यातायात में बड़ी असुविधा हो रही है। मुख्यमंत्री ने रायपुर-धमतरी फोरलेन सड़क का काम शीघ्र शुरू कर पूरा कराने का अनुरोध केन्द्रीय मंत्री से किया है। इसके अलावा राष्ट्रीय राजमार्ग 43 पत्थलगांव-कुनकुरी मार्ग का चौड़ीकरण एवं उन्नयन का कार्य निर्माण एजेंसी द्वारा अधूरा छोड़ दिया गया है। पत्थलगांव-कांसाबेल के मध्य ठेकेदार द्वारा सड़क खोदकर छोड़ देने के कारण लगातार दो वर्षो से यातायात में असुविधा हो रही है एवं विगत तीन माह से लगातार हुई बारिश से यातायात में जाम की स्थिति निर्मित हो रही है। यह मार्ग प्रदेश के आदिवासी बाहुल्य जिला जशपुर से गुजरता है एवं छत्तीसगढ़ को झारखण्ड से जोड़ने वाला मुख्य मार्ग है।

चांपा-कोरबा-कटघोरा मार्ग का भी किया ज़िक्र
मुख्यमंत्री ने पत्र में लिखा है कि राष्ट्रीय राजमार्ग 149 बी चांपा-कोरबा-कटघोरा मार्ग मार्च 2014 में राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित किया गया था तथा मार्ग का निर्माण छत्तीसगढ़ लोक निर्माण विभाग के माध्यम से कराया जा रहा था, परन्तु इस मार्ग में यातायात के घनत्व के आधार पर फोरलेन निर्माण हेतु उपयुक्त पाए जाने पर भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण से कार्य कराये जाने के लिए सड़क परिवहन राजमार्ग मंत्रालय नई दिल्ली द्वारा निर्देश दिए गए थे। 30 माह की समय अवधि बीत जाने के बाद भी आज दिनांक तक निर्माण हेतु एजेंसी निर्धारित नहीं हुई है। वर्तमान में राष्ट्रीय राजमार्ग चांपा-कोरबा-कटघोरा अतिवृष्टि से पूर्णतः क्षतिग्रस्त हो गया है एवं साधारण मरम्मत से सुधार योग्य नहीं है। अतः इस मार्ग का तत्काल उन्नयन एवं चौड़ीकरण कराया जाना अत्यंत आवश्यक है। मुख्यमंत्री ने इस राष्ट्रीय राजमार्ग के चौड़ीकरण एवं उन्नयन का कार्य राज्य लोक निर्माण विभाग के माध्यम से कराने का अनुरोध किया है, ताकि आम जनता को हो रही यातायात की असुविधा को शीघ्र दूर किया जा सके।

खस्ता हाल बिलासपुर-अंबिकापुर मार्ग
मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय मंत्री को छत्तीसगढ़ राज्य में राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 111 बिलासपुर-पतरापाली-कटघोरा-शिवनगर-अम्बिकापुर मार्ग के संबंध में लिखा है कि इस मार्ग में निर्माण कार्य भी अधूरा है। पतरापाली-कटघोरा मार्ग का निर्माण लगभग पांच वर्षो से लंबित है और इस वर्ष हुई अतिवृष्टि से मार्ग पूर्णतः ध्वस्त हो चुका है एवं लोगों को यातायात में अत्यधिक असुविधा हो रही है। मुनगाडीह नाला पर स्थित पुराना पुल क्षतिग्रस्त हो गया है। बिलासपुर-कटघोरा के बीच यातायात अवरूद्ध हो गया है। राज्य सरकार द्वारा उपरोक्त मार्ग पर पड़ने वाले शहरी भाग के पुर्ननिर्माण के लिए 24 करोड़ 26 लाख रूपए का प्राक्कलन 26 सितम्बर 2019 को किया गया है। मुख्यमंत्री बघेल ने इन मार्गों के निर्माण कार्यो को शीघ्र कराने का अनुरोध केन्द्रीय मंत्री से किया।

]]>
bilaspur raipur NH, CM Bhupesh Baghel, dhamtari Raipur road NH, Nitin Gadkari, raipur bilaspur NH, raipur dhamtari road NH, Union Minister of Road Transport and Highways, Union Minister of Road Transport and Highways Nitin Gadkari 2019-10-14 17:33:11 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Raipur-Bilaspur-road-NH.jpg
सौरभ गांगुली होंगे BCCI के नए अध्यक्ष, कुछ घंटों में होगा आधिकारिक ऐलान https://deshtv.in/nation/saurabh-ganguly-will-be-the-new-chairman-of-bcci-official-announcement-in-a-few-hours/ Mon, 14 Oct 2019 07:09:02 +0000 https://deshtv.in/?p=11092 मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी BCCI की कमान अब भारतीय टीम के सफलतम कप्तानों में अव्वल रहे सौरभ गांगुली के हाथों में होगी। आज नामांकन से पहले BCCI के भावी अध्यक्ष सौरव गांगुली ने मीडिया से मुख़ातिब होते हुए कहा है कि ये समय उन्हें खुद को साबित कर बोर्ड के लिए कुछ बेहतर […]]]>

मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी BCCI की कमान अब भारतीय टीम के सफलतम कप्तानों में अव्वल रहे सौरभ गांगुली के हाथों में होगी। आज नामांकन से पहले BCCI के भावी अध्यक्ष सौरव गांगुली ने मीडिया से मुख़ातिब होते हुए कहा है कि ये समय उन्हें खुद को साबित कर बोर्ड के लिए कुछ बेहतर करने का वक़्त होगा। सौरभ ने कहा कि वह ऐसे समय में बोर्ड की कमान संभाल रहे है जब उसकी छवि काफी खराब है। गांगुली ने अध्यक्ष पद की होड़ में बृजेश पटेल को पीछे कर इस पद के लिये अकेले उम्मीदवार बने है। हालाँकि उन्होंने ये भी कहा कि इसके लिए आपको दोपहर तीन बजे तक इंतजार करना होगा।

                      सौरभ ने कहा निश्चित तौर पर यह बहुत अच्छा अहसास है क्योंकि मैंने देश के लिये खेला है और कप्तान रहा हूं। मैं ऐसे समय में कमान संभालने जा रहा हूं जब पिछले तीन साल से बोर्ड की स्थिति बहुत अच्छी नहीं है। इसकी छवि बहुत खराब हुई है। मेरे लिए यह कुछ अच्छा करने का सुनहरा मौका है। उन्होंने कहा कि उनकी प्राथमिकता प्रथम श्रेणी क्रिकेटरों की देखभाल होगी। 47 वर्षीय गांगुली जो वर्तमान में क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल (सीएबी) के अध्यक्ष है, उन्हें सितंबर 2020 में अपने पद से हटना होगा। क्योंकि वह अनिवार्य कूलिंग ऑफ पीरियड में चले जाएंगे।

]]>
Caiptan cool, captain sourav ganguly, sourav ganguly, sourav ganguly BCCI President 2019-10-14 12:39:02 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/sourav-ganguly-0.jpg
हरियाणा चुनाव : कुमारी शैलजा बोली – कांग्रेस में सब ठीक, हर वादा करेंगे पूरा https://deshtv.in/nation/haryana-elections-kumari-selja-bid-all-right-in-congress-every-promise-will-be-fulfilled/ Sun, 13 Oct 2019 07:39:47 +0000 https://deshtv.in/?p=11067 नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में पार्टी को हार का सामना करने के बाद हरियाणा में विधानसभा चुनाव कांग्रेस के लिए एक बड़ी चुनौती है। 21 अक्टूबर को होने वाले मतदान के ऐलान के महज़ कुछ दिन बाद ही कांग्रेस ने यहाँ अपना प्रदेश अध्यक्ष बदला था। कांग्रेस ने कुमारी शैलजा को हरियाणा की जिम्मेदारी सौपी […]]]>

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में पार्टी को हार का सामना करने के बाद हरियाणा में विधानसभा चुनाव कांग्रेस के लिए एक बड़ी चुनौती है। 21 अक्टूबर को होने वाले मतदान के ऐलान के महज़ कुछ दिन बाद ही कांग्रेस ने यहाँ अपना प्रदेश अध्यक्ष बदला था। कांग्रेस ने कुमारी शैलजा को हरियाणा की जिम्मेदारी सौपी थी। इसके पहले हरियाणा पीसीसी की जिम्मेदारी निभा रहे अशोक तंवर ने बागी तेवर दिखाकर पार्टी छोड़ी थी। तंवर की नाराज़गी के बाद पीसीसी चीफ बनी सुश्री शैलजा ने कहा कि “कांग्रेस में सब ठीक है, कांग्रेस की तुलना में भाजपा में अधिक घुसपैठ है।”


कांग्रेस पार्टी ने शनिवार को अपना घोषणापत्र भी जारी किया। जिसमें अन्य बातों के अलावा कृषि ऋण माफी का वादा किया गया था। बेरोजगारी भत्ता, राज्य में सरकारी नौकरियों और निजी संस्थानों में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण, पंचायती राज संस्थाओं, नगर पालिका निगमों और नगर परिषदों में महिलाओं के लिए 50 प्रतिशत आरक्षण, अनुसूचित जातियों और अत्यंत पिछड़े वर्गों के छात्रों को छात्रवृत्ति और महिलाओं के स्वामित्व वाली संपत्तियों के लिए गृह कर में 50 प्रतिशत की छूट का अभी ऐलान किया गया है।

भाजपा के पास नहीं है मुद्दे-शैलजा
भाजपा द्वारा उठाए गए मुद्दों के बारे में पूछे जाने पर शैलजा ने कहा “भाजपा ने 150 चीजों का वादा किया था, लेकिन पिछले पांच वर्षों में इसने कुछ भी नहीं किया है। यह धारा 370 के प्रावधानों और नागरिकों के NRC के स्क्रैपिंग जैसे मुद्दों को उठा रहें है। ये हरियाणा में मुद्दे नहीं हैं।” यह पूछे जाने पर कि क्या यह संभव है कि किसानों को फसल की क्षति / सूखा की भरपाई के लिए 12,000 रुपए प्रति एकड़ के हिसाब से उनकी पार्टी ने वादा किया है इस पर उन्होंने जवाब देते हुए कहा “अगर पैसा जनता का है, तो इसे किसानों को क्यों नहीं बांटा जा सकता। कांग्रेस हर चीज का ध्यान रखेगी और सभी वादे पूरे करेगी।”

]]>
Assembly elections in Haryana, elections in Haryana, hariyana, Kumari Selja, modi in hariyana, The Assembly elections in Haryana 2019-10-13 13:09:47 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Congress-Kumari-Selja-0.jpg
आप को अलविदा कह चुकी अलका अब कल थामेंगी कांग्रेस का हाथ… https://deshtv.in/nation/alka-who-has-said-goodbye-to-aap-will-now-hold-the-hand-of-congress-tomorrow/ Fri, 11 Oct 2019 08:50:48 +0000 https://deshtv.in/?p=11022 नई दिल्ली। आप से इस्तीफा दे चुकी चांदनी चौक विधायक अलका लांबा अब घर वापसी करेंगी। यानी अलका वापस कांग्रेस का हाथ थमेंगी, उन्होंने हाल ही में उन्होंने आप से इस्तीफ़ा देकर झाड़ू छोड़ा है। वैसे तो अलका लांबा कुछ कार्यकर्ताओं एक साथ आज ही दोपहर तीन बजे कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण करने वाली […]]]>

नई दिल्ली। आप से इस्तीफा दे चुकी चांदनी चौक विधायक अलका लांबा अब घर वापसी करेंगी। यानी अलका वापस कांग्रेस का हाथ थमेंगी, उन्होंने हाल ही में उन्होंने आप से इस्तीफ़ा देकर झाड़ू छोड़ा है। वैसे तो अलका लांबा कुछ कार्यकर्ताओं एक साथ आज ही दोपहर तीन बजे कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण करने वाली थी, लेकिन संभवतः सोनिया गांधी के टाइट शेड्यूल की वज़ह से कार्यक्रम रद्द कर दिया है।
अलका ने पहले ट्वीट कर इस बात का ऐलान किया कि “आज दुपहर 3बजे,काँग्रेस मुख्यालय 24अकबर रोड में मैं अपने साथियों के साथ काँग्रेस की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण करुँगी. मैं सोनिया गांधी जी, @RahulGandhi जी एवं काँग्रेस परिवार के सभी सदस्यों का आभार व्यक्त करती हूँ,मुझे एक बार फिर परिवार के सदस्य के तौर पर स्वीकार कर सम्मान देने पर।”

इसके तकरीबन दो घंटे बाद उन्होंने एक और ट्वीट कर इस कार्यक्रम के रद्द होने की जानकारी दी। उन्होंने लिखा ” आज किन्हीं कारणों से काँग्रेस में मेरी और मेरे अन्य साथी-सहयोगियों की joining नहीं हो पा रही है, अब हम सब कल काँग्रेस में शामिल होंगें। आप सभी को हुई असुविधा के लिए मुझे खेद है। जय हिंद।”

]]>
Alka Lamba, Alka Lamba Chandi Chauk MLA, Alka Lamba resigns, LambaAlka 2019-10-11 14:54:22 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/08/Alka-Lamba.jpg
यहाँ है देश का पहला गार्बेज कैफे, कचरा देने पर मिलता है स्वादिष्ट खाना… https://deshtv.in/nation/here-is-the-countrys-first-garbage-cafe-tasty-food-is-found-on-garbage/ Thu, 10 Oct 2019 11:29:46 +0000 https://deshtv.in/?p=11003 अंबिकापुर। छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर शहर में देश के पहले गार्बेज कैफे का शुभारंभ बुधवार को प्रदेश के पंचायत ग्रामीण विकास एवं स्वास्थ मंत्री टीएस सिंहदेव ने किया। ये कैफे बस स्टैंड में खोला गया है। इस कैफे के पीछे लोगो को स्वच्छता के सन्देश देने के साथ उन्हें इसके लिए सहभागी बनाने की मंशा महापौर […]]]>

अंबिकापुर। छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर शहर में देश के पहले गार्बेज कैफे का शुभारंभ बुधवार को प्रदेश के पंचायत ग्रामीण विकास एवं स्वास्थ मंत्री टीएस सिंहदेव ने किया। ये कैफे बस स्टैंड में खोला गया है। इस कैफे के पीछे लोगो को स्वच्छता के सन्देश देने के साथ उन्हें इसके लिए सहभागी बनाने की मंशा महापौर ने बताई है। अंबिकापुर के मेयर डॉ. अजय तिर्की की इस सोच से अंबिकापुर का नाम एक बार देश के उन चुनिंदा शहरों में शुमार हो चूका है जो स्वच्छता के लिए नित नए प्रयास कर रहे है।

इस कैफे की शुरुवात करने पहुंचे स्वास्थ मंत्री टीएस सिंहदेव ने भी यहाँ एक किलो का प्लास्टिक कचरा देकर यहाँ के व्यंजनों का स्वाद चखा। साथ ही इस अनूठी सोच और कल्पना के लिए उन्होंने मेयर तिर्की को बधाई और साधुवाद भी दिया। सिंहदेव ने कहा कि “अंबिकापुर नगर निगम की शानदार पहल #garbagecafe का उद्घाटन करने पर मुझे बहुत गर्व है, जो प्लास्टिक के बदले जरूरतमंदों को खिलाने का प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा की मुझे गर्व है कि प्लास्टिक के खिलाफ लड़ाई में अंबिकापुर सबसे आगे है, और मै भी इस शहर का एक नागरिक हूँ।” गौरतलब है कि अंबिकापुर कचरा प्रबंधन के लिए देश के स्मार्ट सिटीज में अपनी खासी पहचान बना चूका है। स्वच्छता सर्वेक्षण में कई दफे देश में अव्वल रहने के साथ ही अंबिकापुर में साढ़े चार सौ महिलाओं को कचरा प्रबंधन के रोजगार के लिए भी एक अलग पहचान मिली है। अंबिकापुर देशभर में हर कैटेगरी में दूसरा स्वच्छ शहर भी है।

आधा किलो में नाश्ता, एक किलों में मिलेगा खाना
इस गार्बेज कैफे में आधा किलो प्लास्टिक कचरा लाने पर गर्मा गरम नाश्ता और एक किलो प्लास्टिक कचरा लाने पर भरपेट और लज़ीज़ भोजन दिया जा रहा है। इसके अलावा यह कैफे केवल कचरा लाने वाले लोगों के लिए नहीं बल्कि शहर के हर वर्ग के नागरिकों के लिए भी है। इस कैफ़े में स्वच्छता के लिए प्रेरित करने वाले स्लोगन भी बड़े ही आकर्षक ढंग से लिखे है।

]]>
cg first garbage cafe, garbage cafe ambikapur, garbagecafe, indias first garbage cafe 2019-10-10 16:59:46 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/garbagecafe-ambikapur.jpg
मानहानि मामला : राहुल बोले मैं निर्दोष, 10 दिसंबर को अगली सुनवाई https://deshtv.in/nation/defamation-case-rahul-says-i-am-innocent-next-hearing-on-december-10/ Thu, 10 Oct 2019 07:29:11 +0000 https://deshtv.in/?p=10983 सूरत। कांग्रेस नेता राहुल गांधी सूरत की एक अदालत के सामने मानहानि के मामलें में पेश हुए। कोर्ट में दायर किए गए मानहानि के मुकदमे में राहुल गांधी ने कोर्ट रम में अपने पर लगे सभी आरोपों को खारिज किया है। उन्होंने कोर्ट में खुद को निर्दोष बताया है। दरअसल राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव […]]]>

सूरत। कांग्रेस नेता राहुल गांधी सूरत की एक अदालत के सामने मानहानि के मामलें में पेश हुए। कोर्ट में दायर किए गए मानहानि के मुकदमे में राहुल गांधी ने कोर्ट रम में अपने पर लगे सभी आरोपों को खारिज किया है। उन्होंने कोर्ट में खुद को निर्दोष बताया है। दरअसल राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव में कर्नाटक की एक चुनावी रैली में अप्रैल-मई में एक बयान दिया था, जिस मामलें में भाजपा विधायक पूर्णेश मोदी ने कोर्ट में याचिका दाखिल की थी। विधायक ने अपनी याचिका में कहा है कि राहुल के बयान “चुनावी सभा में राहुल ने “सभी चोरों के पास आम उपनाम के रूप में मोदी है” से मोदी समुदाय की भावनाएं आहत हुई है।


इधर राहुल गांधी की तरफ से इस मामले में भविष्य की अदालती कार्यवाही में सशरीर उपस्तिथि में स्थायी छूट के लिए भी एक आवेदन भी दायर किया है। जिस पर अदालत ने 10 दिसंबर को आवेदन के जवाब ेने की बात कहीं है।हालांकि अदालत ने ये भी कहा कि राहुल को उस सुनवाई के लिए अदालत में उपस्थित होने की आवश्यकता नहीं थी।

सूरत पहुंचने से पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज सुबह ट्वीट किया “मैं आज सूरत में अपने राजनीतिक विरोधियों द्वारा मेरे खिलाफ दायर मानहानि के मुकदमे में पेश होने के लिए बेताब हूं। मुझे चुप कराने के लिए मैं यहां एकत्र हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं के प्यार और समर्थन के लिए आभारी हूं।”

]]>
Gandhi Rahul, modi manhaani mamla, modi manhani case, Rahul gandhi, rahul gandhi in court, rahul in surat, rahul in surat court 2019-10-10 12:59:11 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Rahul-Gandhi.jpg
Jio Customer को झटका, अब कॉलिंग के लिए कराना होगा रिचार्ज https://deshtv.in/nation/jio-customer-a-shock-now-will-have-to-be-recharged-for-calling/ Thu, 10 Oct 2019 06:40:34 +0000 https://deshtv.in/?p=10979 नई दिल्ली। रिलायंस जियो ने अन्य मोबाइल नेटवर्क पर कॉल करने के लिए ग्राहकों को छह पैसे प्रति मिनट का शुल्क देना होगा। जियो हेड ऑफ़िस में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस बात की जानकारी दी गई। नया वॉयस चार्ज प्रचलित इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज (IUC) की दर पर होगा, जो भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) द्वारा […]]]>

नई दिल्ली। रिलायंस जियो ने अन्य मोबाइल नेटवर्क पर कॉल करने के लिए ग्राहकों को छह पैसे प्रति मिनट का शुल्क देना होगा। जियो हेड ऑफ़िस में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस बात की जानकारी दी गई। नया वॉयस चार्ज प्रचलित इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज (IUC) की दर पर होगा, जो भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) द्वारा मोबाइल ऑपरेटरों के लिए तय किया गया है। नए टैरिफ के मुताबिक़ Jio ग्राहकों को अन्य नेटवर्क पर वॉयस कॉल करने के लिए एक अतिरिक्त IUC टॉप-अप वाउचर खरीदना होगा। इसके लिए JIO ने चार नए IUC टॉप-अप वाउचर शुरू में सब्सक्राइबर की विविध आवश्यकताओं के अनुरूप प्रदान किए गए हैं।

Jio IUC टॉप-अप वाउचर
आज से शुरू होने वाले अन्य मोबाइल नेटवर्क के लिए सभी आउटगोइंग कॉल के लिए IUC टॉप-अप वाउचर के माध्यम से Reliance Jio सब्सक्राइबर्स से छह पैसे प्रति मिनट की दर से शुल्क लिया जाएगा। इसका मतलब यह है कि आपके पास जो भी रिचार्ज योजना है, उसके बावजूद आपको अन्य नेटवर्क पर वॉयस कॉल करने के लिए एक अलग IUC टॉप-अप वाउचर खरीदना होगा।

हालांकि Jio IUC टॉप-अप वाउचर खपत के आधार पर उस कीमत का अतिरिक्त डेटा दे रहा है। डेटा एंटाइटेलमेंट IUC के साथ छह पैसे प्रति मिनट के हिसाब से बराबर मिनटों के अलावा आता है।

IUC टॉप-अप राशि      IUC मिनट      डेटा एंटाइटेलमेंट (जीबी)
      10                           124                        1
      20                           249                        2
      50                           656                        5
    100                        1,362                      10

Reliance Jio द्वारा दिया गया पहला और सबसे सस्ता IUC टॉप-अप वाउचर 10 रुपए का है, जो 1GB डेटा एंटाइटेलमेंट के अलावा अन्य मोबाइल नेटवर्क पर 124 मिनट की वॉइस कॉलिंग देता है। यदि किसी ग्राहक को इससे ज़्यादा कलिंग टेरिफ की जरुरत है तो वो 20 रुपए के आईयूसी टॉप-अप वाउचर में 249 मिनट का टेरिफ ले सकता है, इसमें 2GB डेटा एंटाइटेलमेंट भी शामिल है। इसके आलावा 50 रुपए में 656 मिनट, 5 जीबी और 100 रुपए में 1362 मिनट और 10 जीबी डेटा वाला टेरिफ भी निकला है।

नहीं है कोई वैलिडिटी
IUC टॉप-अप वाउचर में कोई अलग वैधता शामिल नहीं है। साथ ही, मौजूदा Jio योजनाओं में कोई बदलाव नहीं किया गया है। प्रीपेड Jio ग्राहकों की तरह ही, पोस्टपेड ग्राहकों को भी ऑफ-नेट आउटगोइंग कॉल करने के लिए छह पैसे प्रति मिनट की दर से बिल भेजा जाएगा। रिलायंस जियो ग्राहकों को कुछ हद तक क्षतिपूर्ति करने के लिए समान मूल्य का मुफ्त डेटा प्रदान करेगा।

ग्राहकों में नाराज़गी
नए विकास ने ग्राहकों के बीच नाराजगी पैदा कर दी क्योंकि रिलायंस जियो ने शुरू में अपने नेटवर्क पर वॉयस कॉलिंग मुफ्त देने का वादा किया था और केवल मोबाइल डेटा के लिए सब्सक्राइबर्स को चार्ज किया था। छह पैसे प्रति मिनट का शुल्क केवल अन्य मोबाइल नेटवर्क पर किए जा रहे वॉयस कॉल पर लागू होता है। इसका मतलब है कि सभी Jio-to-Jio कॉल और Jio-to-landline कॉल अभी भी मुफ्त हैं। इसी तरह, ऑपरेटर वॉयस-ओवर-इंटरनेट-प्रोटोकॉल (वीओआईपी) प्लेटफॉर्म जैसे व्हाट्सएप या फेसटाइम का उपयोग करके आने वाली कॉल और कॉल के लिए चार्ज नहीं कर रहा है।

]]>
BoycottJio, India With Jio, jio call charge, Jio ICU topup, jio new tariff, JioUsers 2019-10-10 12:10:34 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/jio-new-tariff.jpg
निर्वाचन आयोग की अपील “प्रचार में सिंगल यूज प्लास्टिक का न करें इस्तेमाल” https://deshtv.in/nation/election-commission-appeal-do-not-use-single-use-plastic-in-publicity/ Wed, 09 Oct 2019 12:23:57 +0000 https://deshtv.in/?p=10971 नई दिल्ली / रायपुर।  भारत निर्वाचन आयोग ने निर्वाचन प्रचार अभियान में पर्यावरण-अनुकूल सामग्री के प्रयोग की अपील की है। ज्ञात हो कि आयोग ने सभी मान्यता-प्राप्त राजनीतिक दलों से यह बात जोर देकर कही थी, कि वे निर्वाचनों में प्रचार सामग्री के रूप में ‘सिंगल यूज प्लास्टिक’ का उपयोग न करें। निर्वाचन प्रचार के […]]]>

नई दिल्ली / रायपुर।  भारत निर्वाचन आयोग ने निर्वाचन प्रचार अभियान में पर्यावरण-अनुकूल सामग्री के प्रयोग की अपील की है। ज्ञात हो कि आयोग ने सभी मान्यता-प्राप्त राजनीतिक दलों से यह बात जोर देकर कही थी, कि वे निर्वाचनों में प्रचार सामग्री के रूप में ‘सिंगल यूज प्लास्टिक’ का उपयोग न करें। निर्वाचन प्रचार के दौरान पोस्टर, बैनर, कट-आउट, होर्डिंग, विज्ञापन, कटलरी, पानी पीने के पाउच, बोतल में सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग से संपूर्ण पर्यावरण पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है, जो विशेष रूप से मनुष्यों और पशुओं के स्वास्थ्य को दुष्प्रभावित करता है। यह स्थिति सभी के सक्रिय सहयोग से बदली जा सकती है।

आजकल परंपरागत रीतियों के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के ऐसे पर्यावरण अनुकूल विकल्प मौजूद हैं, जिनका निर्वाचन प्रचार अभियान के लिए उपयोग किया जा सकता है। भारत निर्वाचन आयोग ने अपील में यह कहा है कि एक जिम्मेदार राजनीतिक दल होने के नाते, सभी से यह आशा की गयी है कि अब से निर्वाचनों के प्रयोजनार्थ किसी भी रूप में ‘सिंगल यूज प्लास्टिक’ का प्रयोग न किया जाए। तदनुसार, किसी भी रूप में ‘सिंगल यूज प्लास्टिक’ से अपने पर्यावरण को मुक्त रखने के लिए सामूहिक संकल्प लेना चाहिए। भारत निर्वाचन आयोग ने सभी राजनीतिक दलों, अभ्यर्थियों, निर्वाचन अधिकारियों और निर्वाचकों से पुनः अनुरोध किया है कि देश को प्लास्टिक प्रदूषण से मुक्त बनाने में अपना पूर्ण सहयोग दें।

]]>
Do not use single use plastic in publicity, Election Commission of India, single use plastic, भारत निर्वाचन आयोग 2019-10-09 17:53:57 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/03/Nirvachan-Aayog.jpg
राफेल पर बोले राजनाथ – धमकाने के लिए नहीं अपनी शक्ति बढ़ाने ख़रीदा राफ़ेल https://deshtv.in/nation/rajnath-said-on-rafale-rafale-bought-to-increase-his-power-not-to-bully/ Wed, 09 Oct 2019 07:23:41 +0000 https://deshtv.in/?p=10934 नई दिल्ली। भारत किसी भी देश को धमकाने के लिए हथियारों की खरीद नहीं करता है, लेकिन अपनी रक्षा क्षमताओं को बढ़ाने के लिए हम हमेशा तैयार रहते है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राफेल लड़ाकू जेट में अपनी लगभग 25 मिनट की उड़ान के बाद ये बयान दिया है। इस उड़ान को उन्होंने बहुत […]]]>

नई दिल्ली। भारत किसी भी देश को धमकाने के लिए हथियारों की खरीद नहीं करता है, लेकिन अपनी रक्षा क्षमताओं को बढ़ाने के लिए हम हमेशा तैयार रहते है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राफेल लड़ाकू जेट में अपनी लगभग 25 मिनट की उड़ान के बाद ये बयान दिया है। इस उड़ान को उन्होंने बहुत आरामदायक और स्मूथ बताया है। राजनाथ सिंह ने फ्रांस के मेरिग्नैक हवाई अड्डे पर राफ़ेल जेट की बतौर शस्त्र पूजा की जिसके बाद सवारी के लिए लड़ाकू विमान को उड़ाया गया है। राजनाथ ने कहा कि ये विमान भारतीय वायु सेना की लड़ाकू क्षमता को बड़े पैमाने पर बढ़ाएगा। उन्होंने आगे कहा कि हम किसी भी देश को धमकाने के लिए नहीं बल्कि अपनी क्षमताओं को बढ़ाने और अपनी सुरक्षा को मजबूत करने के लिए हथियारों और अन्य रक्षा उपकरणों की खरीद नहीं करते हैं। राफेल जेट के अधिग्रहण का श्रेय पीएम नरेंद्र मोदी को जाना चाहिए। उनकी निर्णायकता ने हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा को बहुत लाभ पहुंचाया है।

राफेल में अपनी उड़ान को एक यादगार बताते हुए सिंह ने कहा, “मैंने कभी नहीं सोचा था कि मुझे सुपरसोनिक गति से उड़ाया जाएगा। एक बहुत ही आरामदायक और स्मूथ उड़ान, जिसके दौरान मैं निरीक्षण करने में सक्षम था। जेट की कई क्षमताएं, इसके एयर-टू-एयर और एयर-टू-ग्राउंड युद्धक क्षमता बेहतरीन है। सिंह ने कहा मैं हर साल लखनऊ में शस्त्र पूजा करता हूं और आज मैंने फ्रांस में पूजा के लिए राफेल को शस्त्र के रूप में लिया है।

भारत द्वारा अधिग्रहित 36 जेट विमानों की डिलीवरी के लिए टाइमलाइन देते हुए राजनाथ ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि फरवरी 2021 तक पहले 18 विमान वितरित किए जाएंगे, शेष अप्रैल-मई 2022 तक विमान पहुचेंगी। मंत्री के रूप में देख रहे वायु सेना के उप प्रमुख, एयर मार्शल हरजीत सिंह अरोड़ा ने राफेल विमान में एक सॉर्टी में उड़ान भरी, कहा कि IAF के लिए नव-अधिग्रहित राफेल मुकाबला भारत की हवा में एक महत्वपूर्ण वृद्धि को चिह्नित करेगा। एक बार वे पंजाब के अंबाला और पश्चिम बंगाल के हासिमारा में तैनात हैं।

एयर मार्शल चीफ़ मार्शल अरोड़ा ने कहा “यह आज एक ऐतिहासिक क्षण है, जो भारत की सटीक हथियार क्षमता रक्षा प्रणाली में एक महत्वपूर्ण वृद्धि का प्रतीक है, जिसमें राफेल की मिसाइल क्षमता सबसे महत्वपूर्ण है। यह भारत की हवाई रक्षा के लिए अब तक का सबसे शक्तिशाली संसाधन शामिल होगा।”

]]>
Defence Minister Rajnath Singh, rafale, Rafale bought to increase his power not to bully, Rajnath said on Rafale, Rajnath Singh 2019-10-09 12:53:41 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/rajnath-singh.jpg
Weather alert : महीने भर की देरी के साथ 10 अक्टूबर तक विदा होगा मानसून… https://deshtv.in/nation/weather-alert-monsoon-will-leave-by-october-10-with-a-month-long-delay/ Mon, 07 Oct 2019 08:45:40 +0000 https://deshtv.in/?p=10864 नई दिल्ली। उत्तर भारत समेत देशभर से अब मानसून रुख़्सत हो रहा है। हालाँकि इस वापसी में मानसून ने तकरीबन एक महीने का वक़्त ज़्यादा ले लिया है। महीने भर ज़्यादा और ज़मकर बसरे बादलों ने देश के कई राज्यों की सड़कों पर नव चलवाने के हालत बनाए। बाढ़ के प्रकोप ने जहाँ कई सूबों […]]]>

नई दिल्ली। उत्तर भारत समेत देशभर से अब मानसून रुख़्सत हो रहा है। हालाँकि इस वापसी में मानसून ने तकरीबन एक महीने का वक़्त ज़्यादा ले लिया है। महीने भर ज़्यादा और ज़मकर बसरे बादलों ने देश के कई राज्यों की सड़कों पर नव चलवाने के हालत बनाए। बाढ़ के प्रकोप ने जहाँ कई सूबों में जनजीवन अस्त व्यस्त कर दिया और वहीं कुछ राज्यों में इसकी मार विदाई के समय भी नज़र आई। भारी बारिश से इस साल उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों को भी बाढ़ जैसी आपदा का सामना करना पड़ा है। वहीं महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, उत्तराखंड समेत की राज्यों में भी नदी नाले ज़बरदस्त उफान पर रहे।

बिहार सरकार के उप मुख्यमंत्री भी इस बाढ़ की चपेट में थे। कमोबेश यही हाल यूपी के प्रयागराज और बनारस का भी दिखाई दिया था। मौसम वैज्ञानिको के मुताबिक अब तक मानसून उत्तर भारत से भी लौट जाया करता था, लेकिन इस साल तक़रीबन महीने भर की देरी के बाद अब जा कर मानसून की वापसी शुरू हो पाई है। मौसम विभाग के मुताबिक करीब एक महीने की देरी के साथ मानसून 10 अक्टूबर से लौट सकता है।

अब तक नहीं हुई थी देर
भारतीय मौसम विभाग के मानसून के आंकड़ों पर अगर नज़र डाली जाए तो मानसून की वापसी अब तक कभी इतनी देरी नहीं दिखी थी। देशभर में जहां वर्षा का रिकार्ड भी इस साल सामान्य से ज़्यादा दर्ज़ किया गया है। IMD ने साल 2019 में वर्षा का दीर्घ कालिक औसत (LPA) 110 फीसद दर्ज किया है। एलपीए 1961 से 2010 के बीच 88 सेंटीमीटर था। विभाग ने एक पूर्वानुमान ज़ारी करते हुए कहा है कि राजस्थान में औसत समुद्र तल से करीब डेढ़ किमी ऊपर छह अक्टूबर के आस-पास हवा के उच्च दबाव का क्षेत्र बनने के कारण उत्तर पश्चिमी भारत से 10 अक्टूबर के करीब दक्षिण-पश्चिम मानसून की वापसी शुरू होने की उम्मीद है।

]]>
maansoon, mansoon ki vidai, Weather alert 2019-10-07 14:15:40 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/07/Weather-Alert-Chhattisgarh-Girl-in-Rain-0.jpg
महानवमी पर PM मोदी और CM भूपेश ने दी देशवासियों को बधाई https://deshtv.in/nation/pm-modi-and-cm-bhupesh-congratulated-the-countrymen-on-mahanavami/ Mon, 07 Oct 2019 07:13:31 +0000 https://deshtv.in/?p=10857 नई दिल्ली। महानवमी पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को शुभकामनाएं दी है। देवी दुर्गा या शक्ति के नौ रूपों में से एक देवी सिद्धिदात्री के स्वरूप में आज उन्हें पूजा जाता है। माँ सिद्धिदात्री अपने भक्तों के कष्ट हर सुख समृद्धि वैभव का आशीर्वाद देती है। इस लिहाज़ से नवरात्रि का नौवां दिन […]]]>

नई दिल्ली। महानवमी पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को शुभकामनाएं दी है। देवी दुर्गा या शक्ति के नौ रूपों में से एक देवी सिद्धिदात्री के स्वरूप में आज उन्हें पूजा जाता है। माँ सिद्धिदात्री अपने भक्तों के कष्ट हर सुख समृद्धि वैभव का आशीर्वाद देती है। इस लिहाज़ से नवरात्रि का नौवां दिन एक शुभ माना जाता है कि आज के दिन माता अपने भक्तों को ज्ञान और आध्यात्मिक शक्ति प्रदान करती है। पुराणों में भी इस बात का उल्लेख है कि नवरात्री के नवें दिन देवी सिद्धिरात्रि की विधि पूर्वक पूजा करने से सभी कष्ट दूर हो जाते हैं। महानवमी के शुभ अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ट्विटर पर देशवासियों को शुभकामना देते हुए लिखा, “महा नवमी के शुभ अवसर पर, मैं सभी को शुभकामनाएं देता हूं। देवी सिद्धिरात्रि के आशीर्वाद से, हम सभी को पूरा हो सकता है।”

अमित शाह ने महानवमी की बधाई प्रेषित करने हुए माँ दुर्गा के सिद्धिदात्री स्वरूप की एक तस्वीर साझा की है। उन्होंने इस तस्वीर को ट्वीट करते हुए लिखा ” सभी को महानवमी के पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनाएँ। जय माता दी ! ”

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी महानवमी की शुभकामनाएं दी है। उन्होंने लिखा ” आज नवमी के दिन हम माँ दुर्गा के सिद्धिदात्री स्वरूप की पूजा करके महानवमी के पर्व को धूम-धाम से मनाते हैं। महानवमी के पावन पर्व पर सभी प्रदेशवासियों को ढेर सारी बधाई। माता रानी हमारे समाज एवं प्रदेश में खुशियों का संचार करें ऐसी मैं कामना करता हूँ।”

भारत के पूर्वी और पूर्वोत्तर राज्यों में, दुर्गा पूजा नवरात्रि का पर्याय है। पुराणों और धार्मिक ग्रंथो में उल्लेखित है कि महा नवमी के दिन देवी दुर्गा ने राक्षस महिषासुर पर अपना अंतिम हमला किया था, और अगली सुबह यानी विजयादशमी पर उस पर विजय प्राप्त की थी। कल विजयदशमी का त्यौहार देशभर में मनाया जाएगा। दशहरा बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। माँ दुर्गा के साथ इस दिन भगवान राम ने राक्षस राजा रावण का वध किया था। दक्षिणी राज्यों में दशहरा को देवी चामुंडेश्वरी और भगवान राम की जीत के रूप में मनाया जाता है। सभी मामलों में सामान्य विषय बुराई पर अच्छाई की जीत है।

]]>
durga puja, durga puja 2019, Dusshera festival, Dusshera festival wrs colony live video, Mahanavami, Mahanavami 2019, Navratri 2019, ravan dahan, vijiyadashmi 2019 2019-10-07 12:43:31 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Mahanavami-2019.jpg
RBI ने फिर घटाई रेपो दर, कम हो सकती है ब्याज़ दर https://deshtv.in/nation/rbi-again-reduced-repo-rate-may-reduce-the-interest-rate/ Fri, 04 Oct 2019 08:22:49 +0000 https://deshtv.in/?p=10766 रायपुर। भारतीय रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को रेपो दर को 25 आधार अंकों से घटा दिया है। जिसके बाद 5.40 से नीचे लाकर 5.15 प्रतिशत कर दिया है। देश के आर्थिक विकास को पुनर्जीवित करने के लिए RBI ने नीतिगत तौर पर ये फैसला किया है। रेपो दर वह दर है जिस पर केंद्रीय बैंक […]]]>

रायपुर। भारतीय रिजर्व बैंक ने शुक्रवार को रेपो दर को 25 आधार अंकों से घटा दिया है। जिसके बाद 5.40 से नीचे लाकर 5.15 प्रतिशत कर दिया है। देश के आर्थिक विकास को पुनर्जीवित करने के लिए RBI ने नीतिगत तौर पर ये फैसला किया है। रेपो दर वह दर है जिस पर केंद्रीय बैंक बैंकों को अल्पकालिक धनराशि उधार देता है। मौद्रिक नीति समिति के सभी छह सदस्यों ने गवर्नर शक्तिकांत दास की अध्यक्षता में रेपो दर को कम करने और मौजूदा नीति रुख को बनाए रखने के लिए एक साथ सहमति प्रदान की है। आज की इस कमी के साथ इस साल में अब तक 5 दफ़े रेपो दर में कमी की गई है।

                 इस कमी से लोन पर लगने वाले ब्याज में भी कमी आने की उम्मीद है। यह कटौती अर्थशास्त्रियों की उम्मीदों के अनुरूप थी। समाचार एजेंसी के मुताबिक अर्थशास्त्रियों के एक सर्वेक्षण में रायटर ने 25 आधार अंकों की दर में कटौती कर 5.15 प्रतिशत की भविष्यवाणी की थी। आरबीआई ने फरवरी के बाद से लगातार पांच द्विमासिक समीक्षाओं में प्रमुख ब्याज दर को 135 आधार अंकों या 1.35 प्रतिशत अंक तक घटा दिया है। केंद्रीय बैंक ने कहा कि निर्णय उपभोक्ता मुद्रास्फीति के 4 प्रतिशत के मध्यम अवधि के लक्ष्य के अनुरूप हैं।

                भारतीय रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के लिए अपने मुद्रास्फीति लक्ष्य को थोड़ा बढ़ाकर 3.4 प्रतिशत कर दिया, जबकि चालू वित्त वर्ष की दूसरी छमाही के लिए अनुमानों को 3.5 – 3.7 प्रतिशत और 2020-21 की पहली तिमाही के लिए 3.6 प्रतिशत को बरकरार रखा गया। आरबीआई ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के लिए अपनी वृद्धि का अनुमान 6.1-5.3 प्रतिशत और चालू वित्त वर्ष की दूसरी छमाही के लिए 6.6-7.2 प्रतिशत घटाया।

]]>
accommodative, lowered the repo rate, RBI, RBI ATM Rule, Reserve Bank of India 2019-10-04 13:52:49 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/RBI-Repo-rate.jpg
पटरी पर दौड़ी देश की पहली प्राइवेट ट्रेन “तेजस एक्सप्रेस” ये है सुविधाएं https://deshtv.in/nation/tejas-express-the-first-private-train-in-the-country-is-on-track/ Fri, 04 Oct 2019 08:00:24 +0000 https://deshtv.in/?p=10760 लखनऊ। लखनऊ-दिल्ली रूट पर तेजस एक्सप्रेस को आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में हरी झंडी दिखाई है। देश में पहली कॉर्पोरेट ट्रेन के यात्रियों को बधाई देते हुए आदित्यनाथ ने कहा, “मैं इसमें यात्रा करने वाले यात्रियों के पहले जत्थे को बधाई देता हूं और आशा करता हूं कि अन्य शहरों […]]]>

लखनऊ। लखनऊ-दिल्ली रूट पर तेजस एक्सप्रेस को आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में हरी झंडी दिखाई है। देश में पहली कॉर्पोरेट ट्रेन के यात्रियों को बधाई देते हुए आदित्यनाथ ने कहा, “मैं इसमें यात्रा करने वाले यात्रियों के पहले जत्थे को बधाई देता हूं और आशा करता हूं कि अन्य शहरों को भी जोड़ने के लिए इस तरह की पहल की जाएगी। साथ ही योगी ने उनकी यात्रा के सुखद अनुभव की भी कामना की है।

                लखनऊ से दिल्ली स्टेशनों के बीच यात्रा करने में तेजस एक्सप्रेस को तकरीबन 6 घंटे का समय लगेगा। इस ट्रेन की यात्रा का समय शताब्दी एक्सप्रेस से भी कम है। वर्तमान में इस रूट पर सबसे तेज ट्रेन तेजस ही है। यह मंगलवार को छोड़कर सप्ताह में छह दिन चलेगा।


गौरतलब है कि तेजस एक्सप्रेस भारतीय रेलवे द्वारा संचालित भारत की पहली निजी ट्रेन है। यह वातानुकूलित चेयर कारों की शताब्दी एक्सप्रेस श्रेणी का अधिक प्रीमियम संस्करण है। दिल्ली-लखनऊ रूट पर जाने वाली ट्रेन दो स्टेशनों- कानपुर और गाजियाबाद में रुकेगी। तेजस एक्सप्रेस दोपहर 3.35 बजे दिल्ली से रवाना होगी और रात 10.05 बजे लखनऊ पहुंचेगी। यह ट्रेन लखनऊ से सुबह 6.10 बजे शुरू होगी और दोपहर 12.25 बजे दिल्ली पहुंचेगी।

ये है तेजस एक्सप्रेस की खासियत
तेजस एक्सप्रेस में एक एक्जीक्यूटिव क्लास एसी चेयर कार और नौ एसी चेयर कार कोच हैं। ट्रेन की कुल वहन क्षमता 758 यात्रियों की है। दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस से यात्रा करने वाले सभी यात्रियों को 25 लाख रुपए तक का मुफ्त बीमा दिया जाएगा। दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस में यात्रा करने वाले यात्रियों को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के कार्यकारी लाउंज और लखनऊ जंक्शन स्टेशन के रिटायरिंग रूम तक पहुंच प्राप्त होगी। ऑन-बोर्ड भोजन के अलावा, तेजस एक्सप्रेस में चाय और कॉफी मशीन भी उपलब्ध हैं। ट्रेन में आरओ मशीनें लगाई गई हैं और यात्री इन मशीनों के माध्यम से पानी के लिए कॉल कर सकते हैं। देरी के मामले में लखनऊ-दिल्ली तेजस एक्सप्रेस के यात्रियों को मुआवजा दिया जाएगा।

]]>
live train status, Lucknow-Delhi-Lucknow Tejas Express, Tejas Express, Tejas Express scheduled 2019-10-04 13:30:24 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Lucknow-Delhi-Lucknow-Tejas-Express-1.jpg
भारत से फिर हारा पाकिस्तान, निज़ाम की रक़म भारत का हक़ https://deshtv.in/nation/pakistan-lost-to-india-again-nizams-money-indias-right/ Thu, 03 Oct 2019 09:09:18 +0000 https://deshtv.in/?p=10718 नई दिल्ली। ब्रिटेन के उच्च न्यायालय ने फैसला सुनाया है कि हैदराबाद के निज़ाम उस्मान अली खान को 1948 में ब्रिटेन में पाकिस्तान के उच्चायुक्त को हस्तांतरित किया गया धन, जो अब लगभग 35 मिलियन पाउंड है, पाकिस्तान के दावे को खारिज करते हुए कहा गया भारत के अंतर्गत आता है। संयोग से महात्मा गांधी […]]]>

नई दिल्ली। ब्रिटेन के उच्च न्यायालय ने फैसला सुनाया है कि हैदराबाद के निज़ाम उस्मान अली खान को 1948 में ब्रिटेन में पाकिस्तान के उच्चायुक्त को हस्तांतरित किया गया धन, जो अब लगभग 35 मिलियन पाउंड है, पाकिस्तान के दावे को खारिज करते हुए कहा गया भारत के अंतर्गत आता है।
संयोग से महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर निज़ाम ने अपने राज्य के भारत का हिस्सा बनने के बाद वापस मांगी गई धनराशि के लाभार्थी पर 70 साल से अधिक कानूनी विवाद को समाप्त कर दिया।

              लंदन में रॉयल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस में अपने फैसले में जस्टिस मार्कस स्मिथ ने फैसला सुनाया, “निज़ाम VII को फ़ंड के लिए फ़ायदेमंद और निज़ाम VII के हक़ में दावा करने वाले – शहज़ादे और भारत – उनके योग को पूरा करने के हकदार हैं। गण राज्य सिद्धांत और गैर-प्रवर्तनीयता के विदेशी कृत्य के कारण पाकिस्तान की गैर-न्यायिक व्यवहार्यता के आधार पर दोनों की असफलता। लंदन के नैटवेस्ट बैंक में 35 मिलियन पाउंड के कब्जे के लिए पाकिस्तान के खिलाफ कानूनी लड़ाई में पिछले साल आठवें निजाम, प्रिंस मुकर्रम जाह, और उनके छोटे भाई मफखम जेह ने भारत सरकार के साथ हाथ मिलाया। बैंक अपने सही कानूनी मालिक की स्थापना तक, पाकिस्तान के उच्चायुक्त हबीब इब्राहिम रहीमटोला के खाते में जमा धनराशि को सुरक्षित कर रहा है।

निजाम ने पाकिस्तान में शामिल होने की संभावना के अनुमान पर 1948 में 1,007,940 पाउंड और नौ शिलिंग उच्चायुक्त को हस्तांतरित कर दिए थे। यह राशि तब से 35 मिलियन पाउंड में हो गई है, क्योंकि भारत द्वारा समर्थित निज़ाम के वंशज हैं, उन्होंने दावा किया कि यह उनका है और पाकिस्तान ने दावा किया कि यह सही है। “हमें खुशी है कि आज का फैसला निज़ाम VIII के फंडों के अधिकारों को मान्यता देता है, जो 1948 से अपरिहार्य है। हमारा ग्राहक तब भी बच्चा था, जब विवाद पहले उठा था और अब वह 80 के दशक में है। विल्स एलएलपी के पार्टनर पॉल हेविट ने कहा, इस विवाद को आखिरकार अपने जीवनकाल में देखना बड़ी राहत की बात है, क्योंकि 2013 में पाकिस्तान द्वारा कार्यवाही जारी किए जाने के बाद से यह टाइटैनिक राजकुमार के लिए काम कर रहा था।

]]>
bhart se hara pakistan, haidrabad, nizaam ka paisa, nizam of hyderabad, pakistan ki haar 2019-10-03 14:39:18 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Nizam-Of-Haidrabaad-0.jpg
अगर भारत-पाक में परमाणु युद्ध हुआ तो… https://deshtv.in/nation/if-there-was-a-nuclear-war-in-indo-pak-then/ Thu, 03 Oct 2019 08:30:14 +0000 https://deshtv.in/?p=10713 नई दिल्ली। कश्मीर पर जिस तरह के पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र के मंच पर परमाणु युद्ध की धमकी दे डाली उसके बाद दुनिया की नज़र एक बार फिर भारत-पाकिस्तान पर है। इन सबके बीच अमरीका की एक यूनिवर्सिटी ने अपनी रिसर्च में दावा किया है कि अगर भारत-पाक में परमाणु युद्ध […]]]>

नई दिल्ली। कश्मीर पर जिस तरह के पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र के मंच पर परमाणु युद्ध की धमकी दे डाली उसके बाद दुनिया की नज़र एक बार फिर भारत-पाकिस्तान पर है। इन सबके बीच अमरीका की एक यूनिवर्सिटी ने अपनी रिसर्च में दावा किया है कि अगर भारत-पाक में परमाणु युद्ध हुआ तो 10 करोड़ जानें जाएंगी।
रिपोर्ट के अनुसार, कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान में बैठे आतंकवादी भारत में हमला तेज कर सकते हैं, जिनका निशाना भारत की संसद तक हो सकता है और 2025 में ये मामला पूरी तरह चरम पर जा सकता है।

                 इसके अनुसार भारत और पाकिस्तान के पास अभी करीब 150 परमाणु हथियार हैं, लेकिन 2025 तक इनकी गिनती 200 को पार कर जाएगी। यानी दोनों देशों के पास हथियारों की संख्या 400-500 हो सकती है। यही जंग अगर छिड़ती है तो परमाणु युद्ध की वजह से करीब 10 करोड़ लोगों की जान जा सकती है। रिपोर्ट को लिखने वाले एलन रोबॉक कहते हैं कि जम्मू-कश्मीर को लेकर जिस तरह लड़ाई जारी है और हर महीने बॉर्डर पर लोगों की जान जा रही है, उसकी वजह से ये जंग एक दिन चरम पर पहुंच सकती है।

 

इस रिपोर्ट में इस दौरान फरवरी में दोनों देशों के बीच हुई आर-पार की लड़ाई का भी जिक्र है, जब भारत के द्वारा पाकिस्तान में की गई एयरस्ट्राइक से तबाही मची थी और पाकिस्तान के लड़ाकू विमान भारत में आ गए थे। रिसर्च में कहा गया है कि विश्व युद्ध 2 में करीब 80 मिलियन लोग मारे गए थे, लेकिन ये तबाही 100 मिलियन के आंकड़ों को पार करेगी। इसमें दावा है कि अगर दो पड़ोसी देश जिनके पास सैकड़ों की संख्या में छोटे परमाणु हथियार हो तो वह दुनिया को डराते हैं और बड़े देशों को इनकी तरफ ध्यान देना चाहिए।

]]>
bhart pakistan, bhart pakistan ka yudh, indo pak, indo pak waar 2019-10-03 14:00:14 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/INDO-PAK-waar-0.jpg
सड़कों पर लगी होर्डिंग को हैक कर चलाया पोर्न https://deshtv.in/nation/porn-hoarded-the-hoardings-on-the-streets/ Wed, 02 Oct 2019 08:45:27 +0000 https://deshtv.in/?p=10660 नई दिल्ली। सड़कों पर लगे बड़े-बड़े हार्डिंग में जब पॉर्न दिखाई दे तो…एक ऐसा ही मामला इन दिनों छाया हुआ है। इसमें हैकर्स सड़कों पर लगी डिजिटल होर्डिंग को हैक कर उसमें पोर्न वीडियो चला रहे है। इतना ही नहीं बल्कि इस वीडियो को रोकने में भी कम से कम आधे से पौन घंटे का […]]]>

नई दिल्ली। सड़कों पर लगे बड़े-बड़े हार्डिंग में जब पॉर्न दिखाई दे तो…एक ऐसा ही मामला इन दिनों छाया हुआ है। इसमें हैकर्स सड़कों पर लगी डिजिटल होर्डिंग को हैक कर उसमें पोर्न वीडियो चला रहे है। इतना ही नहीं बल्कि इस वीडियो को रोकने में भी कम से कम आधे से पौन घंटे का वक्त होर्डिंग ऑपरेट कर रही कंपनी को लग रहा है। तब तक इस डिजिटल स्क्रीन पर सरे राह पॉर्न वीडियो चलता रहेगा।


न्यूज़ एजेंसी के मुताबिक यह घटना अमेरिका के मिशिगन शहर की बताई जा रही है, जहां ऑबर्न हिल्स हाईवे पर लगी डिजिटल होर्डिंग को हैकरों ने हैक किया और पोर्न वीडियों चला दिए। हैकर सबसे पहले वहां पहुंचे जहाँ से इस होर्डिंग में प्ले होने वाले वीडियों को कंट्रोल किया जाता है। वहां घुसने के बाद हैकर्स ने उस डिजिटल होर्डिंग की आउटपुट डिवाइस में पॉर्न वीडियो इंसर्ट कर उसे ऑन एयर (प्ले) कर दिया। वीडियो बुधवार तकरीबन रात 11:00 बजे से शुरू हुआ जो 12:00 बजे तक चला।

बंद करने में छूटे पसीने
जैसे ही इस वीडियो की सूचना डिजिटल होर्डिंग चलाने वाली कंपनी को दी गई, आनन-फानन में उसके अधिकारी भी इसे बंद करने और रोकने पहुंचे। इसमें तकरीबन पौन घंटे की मशक्कत के बाद उसे बंद किया गया। इधर पुलिस ने हैकर्स की तलाश शुरू कर दी है।

]]>
hindi Porn, Porn hoarded the hoardings, Porn video, Porn video on hoardings 2019-10-02 14:15:27 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Porn-videos-in-billboards.jpg
Google Doodle : नशे के ख़िलाफ़ इन्होंने दी थी अपनी जिंदगी… https://deshtv.in/nation/google-doodle-he-gave-his-life-against-drugs/ Tue, 01 Oct 2019 05:39:18 +0000 https://deshtv.in/?p=10581 नई दिल्ली। डॉ. हर्बर्ट क्लेबर ने नशे की लत के इलाज के लिए अपना आधे से ज्यादा जीवन समर्पित कर दिया, मादक द्रव्यों के सेवन के कारणों का अध्ययन करने और उससे उबरने के लिए उपचार विकसित करने में उन्होंने 50 साल से भी ज़्यादा का समय दिया। उनके इस काम ने व्यसन को देखा […]]]>

नई दिल्ली। डॉ. हर्बर्ट क्लेबर ने नशे की लत के इलाज के लिए अपना आधे से ज्यादा जीवन समर्पित कर दिया, मादक द्रव्यों के सेवन के कारणों का अध्ययन करने और उससे उबरने के लिए उपचार विकसित करने में उन्होंने 50 साल से भी ज़्यादा का समय दिया। उनके इस काम ने व्यसन को देखा और इलाज किया और अनगिनत जीवन बचाने में मदद की। अमेरिकी मनोचिकित्सक और अग्रणी मादक द्रव्यों के सेवन शोधकर्ता के काम का सम्मान करने के लिए, Google मंगलवार को अपने डूडल को उनके लिए समर्पित किया है।

                                    दरअसल 23 बरस पहले आज के ही दिन उन्हें नेशनल एकेडमी ऑफ मेडिसिन चुना गया था। जब उन्होंने अपना करियर शुरू किया, तो मादक द्रव्यों का सेवन चिकित्सा समुदाय के लिए अनुसंधान का एक प्रमुख केंद्र नहीं था। नशे की लत में उनका अनुसंधान तब शुरू हुआ जब उन्हें लेक्सिंगटन, केंटकी के एक अस्पताल में तैनात किया गया। इस अस्पताल में लोगो के नशे की लत के लिए इलाज किया जा रहा था।


1964 में उन्होंने येल यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ साइकेट्री में एक संकाय पद ग्रहण किया, जहां उन्होंने 1968 में ड्रग डिपेंडेंस यूनिट की स्थापना की। उन्होंने राष्ट्रपति जॉर्ज एच डब्लू द्वारा 1989 में नियुक्त किए जाने से पहले दो दशकों से अधिक समय तक इकाई के प्रमुख के रूप में कार्य किया। बुश ने नेशनल ड्रग कंट्रोल पॉलिसी के कार्यालय में डिमांड रिडक्शन के लिए उप निदेशक के रूप में सेवा दी। अपने पांच-दशक के करियर के दौरान, क्लेबर ने 250 से अधिक पत्र-पत्रिकाओं और व्यसनों पर लेख लिखे और इसका इलाज कैसे किया इस पर उन्होंने बहुत काम किया है।

                     अमेरिकन साइकिएट्रिक प्रेस टेक्स्टबुक ऑफ़ सब्स्टेंस एब्यूज़ ट्रीटमेंट के वे सह-संपादक थे। येल, और बाद में कोलंबिया विश्वविद्यालय में अपने समय के दौरान, उन्होंने शोधकर्ताओं की पीढ़ियों का उल्लेख किया, जो मादक द्रव्यों के सेवन के क्षेत्र में अग्रणी होंगे। 84 वर्ष की आयु में 5 अक्टूबर, 2018 को उनकी मृत्यु हो गई।

]]>
Dr. Herbert Kleber, Google Doodle, Google का डूडल, National Academy of Medicine, today Google Doodle, Trending today 2019-10-01 11:11:29 https://deshtv.in/wp-content/uploads/2019/10/Dr.-Herbert-Kleber-3.jpg