नारायणपुर में 07 लाख के 03 ईनामी नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

इलाके में चलाया जा रहा है नक्सल विरोधी अभियान

नारायणपुर | आईटीबीपी और छसबल द्वारा लगातार संयुक्त नक्सल विरोधी अभियान बस्तर अंचल में चलाया जा रहा है। पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के कारण नक्सलियों पर दबाव बढ़ रहा है। साथ ही शासन की पुनर्वास नीति से माओवादी अब प्रभावित होने लगे हैं। इसी कड़ी में जिला नारायणपुर में 4 नक्सली सदस्यों ने माओवादी संगठन को छोड़कर समाज के मुख्यधारा में सम्मिलित हो गए। नारायणपुर पुलिस के सामने आज 4 नक्सलियों ने आत्म समर्पण किया है। 

आत्मसमर्पित करने वाले नक्सलियों में हेमबती सलाम उर्फ मनीषा (माड़ डिवीजन मास स्कूल शिक्षिका), मंगू मोडिय़ामी उर्फ मंगेश उर्फ विश्वनाथ (उत्तर गढ़चिरोली कसनसुर एरिया कमेटी में कसनसुर एलओएस सदस्य), मासे पोडिय़ाम उर्फ सुमित्रा (इन्द्रावती एलओएस सदस्य), मोटी उसेण्डी उर्फ लक्ष्मी (पोरयुल पंचायत सीएनएम सदस्य) शामिल हैं। 

आत्मसमर्पण करने वाले 4 नक्सलियों में से 3 नक्सलियों के पर 7 लाख का इनाम भी घोषित है। इनमे से हेमबती सलाम पर शासन ने 5 लाख रूपए का इनाम रखा था। इसके साथ ही मंगेष मोड़ियाम  और मासे पोड़ियामी पर 1-1 लाख का इनाम रखा गया था। ये नक्सली विभिन्न घटनाओं में शामिल थे।