Video:5 कैदीयों ने दी जेल ब्रेक की घटना को अंजाम,कंबल और चादर का लिया सहारा

जेल मंत्री ताम्रध्वज साहू ने जांच टीम बनाकर कार्रवाई करने दिए निर्देश

महासमुंद | महासमुंद जेल से पांच कैदी दीवार फांदकर फरार होने में कामयाब हो गए। जिसके बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। आनन फानन में पूरे जिलें में नाकेबंदी कर फरार आरोपियों की तलाश में पुलिस जुट गई है। फरार कैदियों में महासमुंद जिले के चार कैदी को साल 2019 और एक गाजीपुर उत्तर प्रदेश को साल 2020 मे जेल लाया गया था। फरार कैदियों में तीन लूट के आरोपी, चौथा डकैती और पांचवा बलात्कार का आरोपी बताया जा रहा है। 

जेल में आज कैदियों की गिनती के बाद कैदियों के जेल ब्रेक करने की घटना का पता चला। पांचों आरोपी धनसिंह, डमरूधर, राहुल, दौलत और करण दोपहर में बड़े ही शातिराना ढंग से जेल की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में सेंध लगाकर फरार हो गए। 

वहीं जेल अधीक्षक आर.एस.सिंह के अनुसार आरोपियों ने जेल के कंबल और चादर की रस्सी बनाकर दीवार फांदे हैं। पांचो अलग-अलग दिशा में दौड़ कर भाग गए जेल प्रहरीयों ने उनका पीछा भी किया पर उन्हें पकड़ा नहीं जा सका। 

जिले के एसपी प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने कहा है कि जेल के सीसीटीवी फुटेज में पांचों कैदियों को दीवार फांद कर भागते हुए देखा गया है और जिले के सभी थानों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। सभी थाना प्रभारी अपने-अपने क्षेत्र में नाकेबंदी कर पॉइंट लगा चुके हैं। जल्द ही फरार कैदियों को पकड़ लिया जाएगा। 

जेल मंत्री ने दिया कार्रवाई के निर्देश 

जेल ब्रेक की घटना संज्ञान में आने पर जेल मंत्री ताम्रध्वज साहू ने जेल प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों को दूरभाष पर तत्काल कार्यवाई करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने घटना की बारीकी से जांच कराने और फरार कैदियों की पतासाजी के लिए टीम बनाकर त्वरित कार्यवाही करने को कहा है।अन्य जिलों की पुलिस को भी सर्तक करते हुए फरार कैदियो के बारे मे जानकारी भेजी गयी है। इस घटना के बाद से जेल प्रबंधन ने अन्य बैरकों के साथ पूरे जेल में सुरक्षा व्यवस्था को और सख्त कर दिया है ।