चिटफंड कंपनी यालको की संपत्ति की नीलामी से मिले 8 करोड़

250 एकड़ जमीन की कुर्की की राशि प्रशासन के खाते में

राजनांदगांव। चिटफंड यालको ग्रुप की संपत्ति की सिलसिलेवार कुर्की किए जाने से मिली राशि को प्रशासन के खाते में जमा करा दिया गया है। कल प्रशासन ने यालको रियल स्टेट एंड एग्रोफार्मिंग कंपनी के विरूद्ध बड़ी कार्रवाई करते हुए 250 एकड़ जमीन को नीलाम कर दिया। उक्त कंपनी यालको ग्रुप की ही एक अन्य संस्था है। कंपनी पर जिले एवं आसपास के क्षेत्रों से बड़े पैमाने पर लोगों को मोटी रकम दिलाने के नाम पर अवैध निवेश कराए जाने का मामला दर्ज है। कंपनी के संचालक फिलहाल जेल में है। उधर प्रशासन ने कुल 250 एकड़ जमीन को नीलाम कर दिया।
मिली जानकारी के मुताबिक कंपनी के पास 292 एकड़ भूमि है। जिसमें फिलहाल 250 एकड़ को ही बेचा गया है। बताया जाता है कि कंपनी की संपत्ति को कुर्क करने के लिए लंबे समय से प्रक्रिया चल रही थी। न्यायालय के आदेश के बाद करीब 8 करोड़ रुपए कुर्क राशि के तौर पर मिली है।

एसपी बीएस ध्रुव ने बताया कि यालको रियल स्टेट की लगभग 40 एकड़ भूमि जो डोंगरगांव तथा राजनांदगांव विभाग में स्थित है की नीलामी प्रक्रिया जल्द ही पूर्ण कर कुर्की में प्राप्त राशि बैंक खाते में जमा की जाएगी। इसी तरह अन्य अनियमित वित्तीय कंपनियों के विरूद्ध जल्द ही संपत्ति आदि की कुर्की की कार्रवाई की जाएगी। विभिन्न चिटफंड कंपनियों के संचालकों को अभियोजित किया जा सके इसके लिए अभियोजन पक्ष मजबूत करने के लिए आवश्यक हुआ तो अभिकर्ताओं को भी अभियोजन साक्षी के रूप में न्यायालय में प्रस्तुत किया जाएगा।