बंफर फसल पर कटाई से पहले माहो का धावा

किसानो के चेहरे पर बनी चिंता की लकीरें

बैकुंठपुर|सरगुजा के साथ ही कोरिया के खेतों में धान की फसल पक कर कटने के लिए तैयार हो गयी है। कटाई की शुरूआत भी दीपावली के बाद से ही कई क्षेत्रों में शुरू हो गयी है। अर्ली वैरायटी वाले धान फसल पूर्व में ही पक गयी जिसे काटकर समेटने में किसान लगे हुए है हालांकि अभी धान कटाई जोर नहीं पकडा है लेकिन तैयारियॉ किसानों द्वारा शुरू कर दी गयी है।

फसल में कीटों का प्रकोप
वैसे इस बार धान की फसल की अच्छी पैदावार हुई लेकिन दीपावली के कुछ ही दिनों पूर्व लगातार कई दिनों की बारिश के बाद धान फसलों में कीटों का प्रकोप बढ़ गया है। माहों कीट का प्रकोप कई क्षेत्रों में धान में देखा जा सकता है। जिसका यदि समय पर उपचार नही किया गया तो फसल को नुकसान पहुच सकता है। जानकारी के अनुसार धान की बालियों में कीट का प्रकोप होने के कारण धान बीज को नुकसान पहुंचा रहे हँ। अब कटाई का समय होने के कारण कई किसान उपचार करने में भी लापरवाही बरत रहे है जिसके चलते कीट का प्रकोप पूरे खेत में फैल रहा है।

धान की कटाई शुरू
जिले भर में धान कटाई का कार्य शुरूआत दौर में चल रहा है धीरे धीरे यह जोर पकडने लगेगा। इस बार दीपावली के पूर्व तक धान कटाई की शुरूआत कही नही हुइ्र थी। दीपावली का पर्व बीतने के बाद धान कटाई की शुरूआत हो गयी है इस माह के अंत तक कई क्षेत्रों की धान फसलों की कटाई कर ली जायेगी। इधर प्रदेश सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के लिए किसानों के पंजीयन कराये जा रहे है जिसके लिए तिथि भी बढ़ा दी गयी है। आगामी माह से किसानों से धान खरीदी की शुरूआत होगी। इस बार देरी से धान फसलों के पकने के कारण खरीदी में भी एक माह की देरी की गयी। जानकारी के अनुसार बीते वर्ष नवंबर मे ही धान की खरीदी शुरू हो गयी थी। लेकिन इस वर्ष ज्यादातर स्थानों पर खेतों में खड़ी फसलों की कटाई की शुरूआत अभी हो रही है जिसे समेट कर खलिहान में ले जाने और फिर मिंसाई करने में समय लगेगा। फिलहाल सभी क्षेत्रों में धान की फसल की कटाई शुरू हो गयी तथा देरी से तैयार होने वाले धान फसल भी धीरे-धीरे पकना शुरू हो गये है। छोटे किसानों के द्वारा अपने परिवार के सदस्यों के सहयोग से ही धान की कटाइ्र का कार्य कर रहे है। बड़े किसान तो मजदूर लगाकर व मशीनों की सहायता से धान की कटाई करते है।