बैकुंठपुर : धान खरीदी पर नेताओं में बयान का दौर

भाजपा और कांग्रेस के प्रवक्ताओं में दिखी तल्खी

बैकुंठपुर । धान खरीदी को लेकर कांग्रेस केन्द्र की मोदी सरकार को कोस रही है तो भाजपा के पूर्व नपा अध्यक्ष शैलेष शिवहरे ने कांग्रेस से उसके चुनावी घोषणा पत्र दिखकर दो सवाल पूछे है। पहला क्या विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस के घोषणा पत्र में धान खरीदी की न्यूनतम दर 2500 प्रति क्विंटल थी? दूसरा कि क्या कांग्रेस ने घोषणा पत्र में किसानों से यह वादा करने के पूर्व केन्द्र सरकार से अनुमति ली थी या सिर्फ किसानों को बहलाने और वोट हासिल करने के लिए यह योजना बनाई थी?

                 उन्होनें कहा कि कांग्रेस सरकार सिर्फ किसानों को बरगला कर इस घोषणा का चुनावी इस्तेमाल किया है, आपने 2500रू क्विंटल धान लेने की घोषणा की है तो अब केन्द्र सरकार पर इसका दोष क्यों मढ रहे हो, जनता सबकुछ जानती है, कांग्रेस बेवकूफ बनाने की कोशिश ना करें, यदि कांग्रेस अपने वादे से मुकरती है तो उसे समय आने पर जनता जवाब देगी, यह तय है, वहीं उन्होनें कांग्रेस सरकार के कल आए 1815 प्रति क्विंटल धान खरीदी के आदेश पर भी चुटकी लेते हुए कहा कि जो कहते है वो करते है आपका नारा कहां गया, आप अपना वादा निभाईए नहीं तो किसान सडकों पर उतरेगें।

वहीं भाजपा जिला महामंत्री देवेन्द्र तिवारी ने सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया है, उन्होनें कहा कि सरकार द्वारा जारी आदेश में सामान्य धान 1815 रू प्रति क्विंटल की दर से खरीदे जाने की बात कही है, जबकि कांग्रेस सरकार को 2500रू प्रति क्विंटल धान खरीदना चाहिए, क्योंकि आपने ऐसा करके विधानसभा चुनाव जीता है,

                सरकार को उनके चुनावी वादों को याद दिलाने आने वाले समय में बडा आंदोलन होगा। किसानों के साथ वादा खिलाफी बर्दाश्त के बाहर है। भाजपा जो कहती है वो करती है, परन्तु कांग्रेस ने किसानो के साथ धोखा किया है।

संबंधित पोस्ट

धान खरीदा पर कंप्यूटर में नहीं की इंट्री, भगुतान के लिए भटक रहे किसान

Breaking News : टोकनधारी किसानों के धान खरीदी का आदेश ज़ारी

धान खरीदी के 6 दिन बाकी, अब तक 78.29 लाख मीट्रिक टन हुई खरीदी

धान खरीदी : 16 लाख किसानों से 68.63 लाख मीट्रिक टन की खरीदी

जशपुर के कांसाबेल में ट्रक से 200 क्विंटल धान जप्त

धान खरीदी : 2 और 3 जनवरी को जारी टोकन का पुनर्व्यवस्थापन

किसानों को धान का 2500 रूपए मूल्य देने मुख्यमंत्री ने गठित की समिति

EXCLUSIVE : आईजी आनंद छाबड़ा ने पकड़ा अवैध धान, लगाई फटकार…

भाजपा ने जलाई उत्पादन प्रमाण पत्र के आदेश की प्रतियां

मुख्यमंत्री के निर्देश पर धान खरीदी की लिमिट व्यवस्था शिथिल

बिना पंजीयन वाले छोटे किसान नहीं बेच पा रहे धान

भाजपा का हल्ला बोल, रमन बोले “गंगाजल की कसम भी भूल गए”