बस्तर: कलेक्टर, एसपी और आला अधिकारियों ने बजाया आदिवासी वाद्ययंत्र   

ग्राम संपर्क अभियान एवं सामुदायिक पुलिसिंग कार्यक्रम में उमड़ा जन समुदाय 

धर्मेन्द्र महापात्र, जगदलपुर| बस्तर  जिले के दरभा विकासखंड के सुदूर वनांचल एवं घोर नक्सल प्रभावित ग्राम कोलेंग में आज आयोजित ग्राम संपर्क अभियान में शामिल होने गये  कलेक्टर रजत बंसल एवं पुलिस अधीक्षक  दीपक झा सहित जिले के आला अधिकारियों ने आदिवासी वाद्ययंत्र  बजाया और जमकर झूमे|

राज्य शासन के मंशानुरूप आयोजित इस ग्राम संपर्क अभियान एवं सामुदायिक पुलिसिंग कार्यक्रम में ग्राम कोलेंग तथा आस-पास के गांवों के लोगों का अपार जन समुदाय  उमड़ा पड़ा| जनप्रतिनिधि एवं जिला प्रशासन के आला अधिकारी घनघोर जंगलों एवं दुर्गम रास्तों से होकर ग्राम कोलेंग पहुंचे थे|

कलेक्टर – एसपी को अपने बीच अपने बीच पाकर ग्रामीण काफी उत्साहित नजर आ रहे थे तथा उनमें अपने ग्राम एवं अंचल के विकास के लिए नए आशा की किरण नजर आ रहा था|

ग्रामीणों ने अपने मांगों एवं समस्याओं के निराकरण हेतु कलेक्टर रजत बंसल को आवेदन भी प्रस्तुत किया, कलेक्टर ने लोगों के मांगों एवं समस्याओं को पूरी संवेदनशीलता के साथ सुना तथा संबंधित विभाग के अधिकारियों को तलब कर शीघ्र निराकरण के निर्देश दिए|

 

इस दौरान सामुदायिक पुलिसिंग कार्यक्रम के अंतर्गत ग्रामीणों एवं स्कूली बच्चों के लिए विभिन्न खेल प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया

इसके साथ ही कुपोषण मुक्ति के लिए जिला प्रशासन द्वारा ’’दू पईडील सुपोषण बर’’ अभियान कार्यक्रम के तहत् ग्रामीणों एवं युवोदय के वालंटीयरों के द्वारा रैली भी निकाली गई|

अपने ग्राम में कलेक्टर, एसपी  समेत वरिष्ठ आला अधिकारियों की उपस्थिति से अभिभूत ग्रामीणों ने अपने पारंपरिक नृत्य के साथ अतिथियों का आत्मीय स्वागत भी किया|

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कलेक्टर रजत बंसल ने ग्रामीणों को कुपोषण के दुष्प्रभावों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी तथा इसे दूर करने में सभी से सहयोग से अपील की|

 पुलिस अधीक्षक श्री दीपक झा ने कहा कि कलेक्टर श्री रजत बंसल और मैंने ग्रामीणों की जीवन शैली को समझने तथा गाँवों व क्षेत्र के वास्तविक हालात का जानने कोलेंग में रात बिताया है| पुलिस प्रशासन समाज में शांति व्यवस्था स्थापित करने तथा लोगों को सुरक्षा मुहैया उपलब्ध कराने के लिए कटिबद्ध है|

इस दौरान वनमंडलाधिकारी सुश्री स्टायलो मंडावी एवं कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान के निर्देशक ने भी अपना विचार व्यक्त किया, कार्यक्रम में स्कूली बच्चों के लिए कब्ड्डी, क्रिकेट, व्हालीबाल, दौड़ आदि प्रतियोगिता के अलावा ग्रामीणों के लिए रस्सी खींच आदि प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को प्रशासन की ओर से पुरस्कार भी प्रदान किया गया|

 

संबंधित पोस्ट

Video-बस्तर:  IED ब्लास्ट में सीएएफ जवान शहीद

बस्तर :आईटीबीपी के एक और जवान की ख़ुदकुशी, खुद को गोली मार ली  

बस्तर : किसानों के समर्थन में भैरमगढ़ में ट्रैक्टर रैली निकली

बस्तर: बोधघाट परियोजना का फिर विरोध, जुट रहे आदिवासी

छतीसगढ़ बस्तर के कोंडागाव में 22 बच्चे कोरोना पॉजिटिव

बस्तर: नक्सलियों ने अपहरण के बाद एंबुलेंस चालक की कर दी हत्या

बस्तर:  ब्लास्ट के बाद मुठभेड़, जवान जख्मी, एक नक्सली मारा गया

बस्तर: डीआरडीओ के प्रस्तावित नये आवासीय कॉलोनी का विरोध शुरू

बस्तर : ओडिशा से एम पी जाते ट्रक से 5 क्विंटल गांजा बरामद

बस्तर: नक्सली भी कोरोना की चपेट में, ध्वस्त कैम्प में मिले सामानों से हुआ खुलासा 

बस्तर: आईईडी ब्लास्ट में सीआरपीएफ कोबरा बटालियन का अधिकारी घायल

बस्तर: बीजापुर जिले में इनामी नक्सली डिप्टी कमांडर गिरफ्तार