सीआरपीएफ के प्लाटून कमांडर ने बचाई घायल शावक की जान

घायल अवस्था में जंगल में मिला शावक, इलाज के बाद सौंपा वन विभाग को

बीजापुर। बस्तर के अलग-अलग क्षेत्रों में गश्ती के दौरान सीआरपीएफ जवानों के ऊपर कई आरोप-प्रत्यारोप लगाए गए हैं। इसके बावजूद जवानों द्वारा गश्त के दौरान ही नक्सलियों से लोहा लेने के साथ-साथ गांव में या फिर राह चलते अगर कोई बीमार ग्रामीण या घायल ग्रामीण मिलता है तो गश्त की टीम के साथ चलने वाली सुरक्षा बल के चिकित्सा दल द्वारा मौके पर ही जरूरतमंद का इलाज कर उन्हें बीमारी से निजात दिलाने के कई मामले देखे गए हैं। लेकिन पहली बार नक्सल गढ़ के बीहड़ों से एक ऐसी तस्वीर निकल कर बाहर आई है जहां गश्त के दौरान ही सीआरपीएफ के जवानों द्वारा घायल पड़े शीतल के शावक का इलाज कर उसे वन विभाग के हवाले किया गया।

बताया जा रहा है कि घायल शीतल का शावक जंगल में अच्छे पड़ा हुआ मिला। जिसे सीआरपीएफ के जवानों ने इलाज के बाद वन विभाग को उसके बेहतर इलाज के लिए सौंप दिया गया।

जिले के गंगालूर मार्ग पर स्थित सीआरपीएफ कैम्प पामलवाया में पदस्थ 85 बटालियन के प्लाटून कमांडर मनीर खान ने बताया कि उनकी टीम रोज की तरह गश्त पर निकली हुई थी। इसी दौरान कैंप से करीब दो किलोमीटर ही वेद चले थे।

तभी भोसागुड़ा के जंगलों में उन्हें घायल अवस्था में शीतल का शावक दर्द से करहाता हुआ मिल गया, जिसे उठाकर देखने के बाद प्रथम दृष्टया यही पता चला कि किसी जंगली जानवर ने ही उसका शिकार करने की कोशिश की थी क्योंकि उसके शरीर पर दांतों के निशान पाए गए थे जिसे देखकर उनके पास मौजूद फर्स्ट एड बॉक्स के माध्यम से उसका प्राथमिक उपचार किया गया ताकि उसके शरीर से निकलने वाले खून को रोका जा सके और उसकी जान बचाई जा सके उसके बाद उस शावक को जवानों के माध्यम से पामलवाया कैंप लाया गया, जहां से उसे वन विभाग के हवाले किया गया ताकि उसका बेहतर उपचार हो सके और उसकी जान बचाई जा सके।

खान का कहना है कि अगर समय पर उस घायल शावक का इलाज नहीं हो पाता तो निश्चित ही उसकी मौत हो जाती, लेकिन गश्त के दौरान जवानों को मिले उस घायल शावक का बेहतर से बेहतर इलाज करने की कोशिश की गई और उसे वन विभाग के हवाले कर दिया गया है।

संबंधित पोस्ट

घुटनों के बल चलकर दंतेश्वरी मंदिर पहुंचे स्वास्थ्य कर्मी, नौकरी बचाने लगाई गुहार

कोरिया : नाले पर बना दिया गोठान

बस्तर के कांकेर में नक्सल मुठभेड़, बम- अन्य सामान बरामद

कोरिया जिले में दलाल सक्रिय, सरपंचों पर बना रहे दबाव- देवेन्द्र तिवारी

छत्तीसगढ़ : जशपुर में बनेगा पुरातात्विक संग्रहालय

बस्तर : पत्रकार के खिलाफ एफआईआर को लेकर पत्रकारों ने कमिश्नर-कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

बस्तर : जनताना सरकार का अध्यक्ष और एलओएस सदस्य गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ : कोरिया जिले में दाखिल हुआ टिड्डियों का दल

छग : नकली दरोगा बन हाईवे में वसूली करते दो युवक गिरफ्तार

बस्तर के नारायणपुर में CAF कमांडर की जवानों पर फायरिंग, 2 की मौत, 1 जख्मी

लॉकडाउन से पस्त पान विक्रेता संघ कलेक्टर से मिला, मांगी इजाजत

बस्तरः पुणे से लौटा मजदूर कोरोना संक्रमित, कोविड अस्पताल में भर्ती