बीजापुर जिले में माओवादी गतिविधियों से दहशत का माहौल

अंदरूनी इलाको में अपने जड़े मजबूत करने में जुटे

बीजापुर। विगत कुछ दिनों से जिले में माओवादियों ने अचानक अपनी उपस्थिति दर्ज कर विभिन्न घटनाओं को अंजाम देकर फिर एक बार वातावरण को अशांत कर दिया है। अभी हाल ही में जिला मुख्यालय से महज कुछ ही दूरी पर चेरपाल इलाके में रेत परिवहन कर रहे वाहनों में माओवादियों ने आगजनी जैसी वारदात को अंजाम देकर दहशत फैलाने की कोशिश की। अब छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, तेलांगना के सीमा भोपालपट्टनम में माओवादियों द्वारा बेनर,पाम्पलेट,पर्चे फेंक कर अपनी उपस्तिथि दर्ज की है। वही दूसरी ओर आज जिले में फिर एक बार गंगालूर इलाके में एक अज्ञात युवक का शव मिली है। इन तमाम घटनाक्रमों से ये साफ जाहिर होता है कि माओवादियों ने कुछ अंतराल बाद पुनः बीजापुर जिले के अंदरूनी इलाको में अपने जड़े मजबूत करने में जुटे है। नक्सलियों की बढ़ती गतिविधियों के मद्देनजर त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को शांतिपूर्ण  ढंग से निपटाना आसान नही होगा, लगातार माओवादियों के हरकतों से पंचायत चुनाव में अपना भाग्य अजमा रहे उम्मीदवारों में भय का वातावरण निर्मित होता जा रहा है।