बीजापुर जिले में माओवादी गतिविधियों से दहशत का माहौल

अंदरूनी इलाको में अपने जड़े मजबूत करने में जुटे

बीजापुर। विगत कुछ दिनों से जिले में माओवादियों ने अचानक अपनी उपस्थिति दर्ज कर विभिन्न घटनाओं को अंजाम देकर फिर एक बार वातावरण को अशांत कर दिया है। अभी हाल ही में जिला मुख्यालय से महज कुछ ही दूरी पर चेरपाल इलाके में रेत परिवहन कर रहे वाहनों में माओवादियों ने आगजनी जैसी वारदात को अंजाम देकर दहशत फैलाने की कोशिश की। अब छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, तेलांगना के सीमा भोपालपट्टनम में माओवादियों द्वारा बेनर,पाम्पलेट,पर्चे फेंक कर अपनी उपस्तिथि दर्ज की है। वही दूसरी ओर आज जिले में फिर एक बार गंगालूर इलाके में एक अज्ञात युवक का शव मिली है। इन तमाम घटनाक्रमों से ये साफ जाहिर होता है कि माओवादियों ने कुछ अंतराल बाद पुनः बीजापुर जिले के अंदरूनी इलाको में अपने जड़े मजबूत करने में जुटे है। नक्सलियों की बढ़ती गतिविधियों के मद्देनजर त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को शांतिपूर्ण  ढंग से निपटाना आसान नही होगा, लगातार माओवादियों के हरकतों से पंचायत चुनाव में अपना भाग्य अजमा रहे उम्मीदवारों में भय का वातावरण निर्मित होता जा रहा है।

संबंधित पोस्ट

मौत के मुंह से जिंदा लौटा पुलिस का जवान, नक्सलियों ने लगा दी थी जनअदालत

बीजापुर : नाबालिक बच्ची की मौत मामलें में ठेकेदार और रिश्तेदार पर FIR

नौकरी के लिए दूसरे राज्य गई थी बेटी, पैदल लौटते वक़्त हुई मौत…

कोरोना : जवाबदेह पढ़े-लिखों की लापरवाही या मूर्खता

बस्तर : भाजपा के 6 और एक कांग्रेसी नेता को जान से मारने की धमकी

Breaking News : देशभर में छाया बीजापुर…आकांक्षी जिलों में मिला तीसरा स्थान

बीजापुर में तकनीकी पहलुओं के आदान प्रदान से होगा नरवा परियोजना का काम

मुठभेड़ के दौरान IED की चपेट में आने से 1 जवान घायल

बीजापुर : पंचायत चुनाव के मतदान के दौरान कर्मचारी की मौत

लड़कियों को दिल्ली भेजने वाला मानव तस्कर गिरफ्तार

पंचायत चुनाव : नक्सलियों का कहीं विरोध, तो कहीं काबिल प्रत्याशी चुनने की नसीहत

एक ही कुनबे के तीनों ने बढ़ाया बस्तर का मान