Video:शहीद पिता को साल भर की पुत्री ने दी मुखाग्नि

कांकेर|  नारायणपुर में हुई नक्सली हमले में शहीद हुये जवान के अंतिम संस्कार में उस वक्त सैकड़ों लोगों के आखों में आंसू आ गये जब एक साल की बेटी ने अपने शहीद पिता के पार्थिव शरीर को मुखाग्नि देने का दृश्य सामने आया|

शहीद जवान सेवक सलाम की 1 साल की बेटी अपने चाचा के गोद में थी और अपने पिता का अंतिम संस्कार कर रही थी|

मंगलवार को नक्सलियों ने नारायणपुर जिले में जवानों से भरे बस कों आईईडी ब्लास्ट कर उड़ा दिया था|

हमले में शहीद होने वाले जवानों मे कांकेर जिले के नरहरपुर तहसील अंतर्गत ग्राम चवाड़ का रहने वाला सेवक सलाम भी था|

नारायणपुर में गॉड ऑफ़ ऑनर के बाद जैसे ही पार्थिव शरीर गाव पहुँचा पूरा इलाका शहीद सेवक सलाम अमर रहे के नारे से गूंज उठा| गाम में मातम के बीच सभी क्रियकर्म कराया गया और सलामी दी गयी|

सलामी के बाद शहीद सेवक सलाम की  एक साल की  पुत्री ने मुखाग्नि दी|

शहीद जवान के अंतिम संस्कार में आस पास के गांव के सैकड़ों लोग पहुँचे और नम आखों से सेवक सलाम को अंतिम बिदाई दी|

गांव वालों का कहना था कि  सेवक देश की सेवा करते हुये शहीद हुआ है उसकी कुर्बानी व्यर्थ नहीं जायेगी।आतंकवादियो से मुकाबला करना हो या नक्सलवादियों से बस्तर का युवक हमेशा तैयार मिलेगा।