झारसुगड़ा-गोंदिया पैसेंजर के टॉयलेट में मिली जली हुई लाश

मृतक की पहचान नहीं, जांच में जुटा रेल विभाग

रायगढ़। रायगढ़ के पास झारसुगड़ा-गोंदिया पैसेंजर ट्रेन के टॉयलेट में एक अज्ञात व्यक्ति की संदिग्ध स्थिति में जली हुई लाश मिली है। लोगों को इसकी भनक लगते ही बोगी में यह बात आग की तरह फैलने लगी जिसके बाद यात्रियों द्वारा इस घटना की जानकारी रायगढ़ के अधिकारियों को दी गई। तब तक पैसेंजर ट्रेन जामगांव स्टेशन पहुंच गई । इसके बाद ट्रेन को जामगांव रेलवे स्टेशन में रोका गया। खबर पाकर रायगढ़ जीआरपी व आरपीएफ मौके पर पहुंचा। टॉयलेट का गेट अंदर से बंद था। इसे तोड़कर शव को बाहर निकाला गया। आग लगी या किसी कारणवश अचानक लग गई, यह स्पष्ट नहीं हो सका है। रेलवे के दोनों सुरक्षा विभाग के अलावा मैकेनिकल व इंजीनियरिंग विभाग जांच में जुटी हुई है।

मिली जानकारी के अनुसार घटना कल शाम करीब सात बजे की है। ट्रेन रायगढ़ से खुली और उसके बाद कोरतलिया रेलवे स्टेशन से आगे बढ़ी। जामगांव स्टेशन पहुंचने वाली थी, तभी रेलवे फाटक में तैनात गेटमैन को जलने की बदबू आई। उसने तत्काल कंट्रोल के अलावा जामगांव रेलवे स्टेशन को खबर दी।

खबर पाने के बाद स्टेशन मास्टर व आरपीएफ ने ट्रेन की जांच की। इस दौरान उन्हें बीच के एक कोच के टॉयलेट के अंदर आग लगने के बारे में पता चला । इसके बाद यात्रियों के बीच हड़कंप मच गया। खिड़की से झांककर देखा तो एक व्यक्ति बुरी तरह से जला हुआ था। इस बारे में उन्होंने रायगढ़ जीआरपी को खबर दी ।

इधर, घटना के बाद यात्रियों की भीड़ लग गई। रायगढ़ जीआरपी के पहुंचने के बाद गेट को तोड़ने का निर्णय लिया गया। गेट टूटने के बाद जली हुई लाश बाहर निकाली गई। मृतक की पहचान नहीं हो सकी और न ही आग लगने की वजह का पता चल पाया है।