बिलासपुर: पूर्व डीएमई डॉ एसएल आदिले को हाईकोर्ट ने दी राहत

महिला ने  नौकरी लगाने का झांसा देकर बलात्कार का आरोप लगाया है

बिलासपुर|  बलात्कार के आरोप का सामना कर रहे पूर्व डीएमई डॉ एसएल आदिले को हाईकोर्ट की सिंगल बेंच ने एक बड़ी राहत देता उनकी जमानत याचिका को स्वीकार कर लिया है| डॉ आदिले ने अपने खिलाफ दर्ज मामले को लेकर हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी|

इससे पहले राजधानी रायपुर  की फ़ास्ट ट्रेक कोर्ट ने इसी साल सितंबर में डॉ आदिले की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी।

बता दें कि  पूर्व डीएमई डॉ.आदिले के खिलाफ पिछले महीने कांकेर की एक महिला  ने  नौकरी लगाने का झांसा देकर  बलात्कार का आरोप लगाया था और महिला थाने में शिकायत की थी।  जिस पर डॉ.आदिले के खिलाफ fir दर्ज की गई थी।

पीडिता का आरोप है कि परीक्षा  वर्ष जनवरी 2018 में किसी काम से रायपुर आई थी  तब डॉ.आदिले उसे स्कूटी पर बैठाकर अपने घर ले गए थे, जहां उसके साथ बलात्कार किया।

fir दर्ज होने के बाद छत्तीसगढ़ शासन ने डॉ आदिले को डीएमई के पद से हटा दिया था। इसी साल मार्च-अप्रेल में सरकार ने रिटायरमेंट के बाद डॉ आदिले को संविदा नियुक्ति दी थी|