कोरबाः कोयला लदे वैगन से भाई को निकालते बहन की हाईटेंशन लाइन से मौत

भाई सुरक्षित, लाश 2 घंटे वैगन में पड़ी रही

कोरबा। बिलासपुर संभाग के कोरबा जिले में मालगाड़ी वैगन से कोयला निकाल रहे भाई को नीचे उतारने चढ़ी बहन हाईटेंशन लाइन के संपर्क में आ गई और उसकी वहीं मौत हो गई। उसका भाई सुरक्षित है। सूचना पर रेल्वे विभाग ने  पवार ब्रेक किया इसके बाद लाश को नीचे उतारा गया।

कोरबा में आज दोपहर यह दिल दहला देने वाले से सभी सकते में आ गए। मिली जानकारी के अनुसार आज दोपहर कोयले से भरी मालगाड़ी रेलवे स्टेशन से पंडित श्यामा प्रसाद मुखर्जी पावर प्लांट जा रही थी।

शहर के शारदा विहार रेलवे क्रॉसिंग में सिग्नल न मिलने के कारण खड़ी थी। इसी दौरान आसपास की बस्ती के लोग मालगाड़ी से कोयला निकालने लगे। कोयला निकालने में कुरैशी परिवार का एक लडक़ा भी शामिल था।

जब इसकी जानकारी उसकी बहन गुलशन कुरैशी को लगी तो वह अपने भाई को वहां से निकालने के लिए मालगाड़ी के वैगन में चढ़ गई। चढ़ने के दौरान ही वह हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ गई। युवती की  मौके पर ही मौत हो गई और उसका शव लगभग 2 घंटे तक मालगाड़ी के वैगन में पड़ा रहा।

सूचना के बाद जब रेलवे रेलवे के इलेक्ट्रिकल विभाग ने शटडाउन किया तब  स्थानीय लोगों की मदद से युवती के शव को वैगन से नीचे उतारा गया।  इसके बाद रेलवे व स्थानीय पुलिस ने विभागीय कार्यवाही पूरी की।

इस घटना के कारण शहर के बीच में स्थित  शारदा विहार रेलवे क्रॉसिंग में घंटो जाम लगा रहा। बहरहाल मृतका का भाई सुरक्षित है। उसे किसी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचा है।