बिलासपुर : भाजपा ने मैदान छोड़ा, रामशरण निर्विरोध मेयर

बिलासपुर। कांग्रेस प्रत्याशी रामशरण यादव निर्विरोध मेयर चुने गए हैं। भाजपा को बहुमत नहीं मिलने के बाद नेताओं ने निर्वाचन प्रक्रिया में हिस्सा नहीं लिया। बहुमत के आधार पर कांग्रेस प्रत्याशी रामशरण यादव को निर्विरोध महापौर चुन लिया गया है। पीठासीन अधिकारी व जिलाधीश डॉ संजय अलंग ने आज दोपहर 1.20 बजे लखीराम आडिटोरियम में चुनाव प्रक्रिया पूरी कराते हुए यह घोषणा की। कांग्रेस के पास 34 पार्षद है, 3 निर्दलीय पार्षदों भी कांग्रेस को समर्थन दिया है। इसके बाद कांग्रेस के पास कुल 37 पार्षद हो गए हैं। बहुमत के आधार पर कांग्रेस प्रत्याशी निर्विरोध महापौर चुने गए हैं।

बता दें कि भाजपा के पास 32 पार्षद हैं। भाजपा महापौर पद पर अपना उम्मीदवार खड़ा करे या नहीं इसे लेकर ऊहापोह में थी। आखिरकार आज सुबह तय किया गया कि उनके पास पार्षदों का बहुमत नहीं है, इसलिये वह मैदान में नहीं उतरेगी। हालांकि, नामांकन दाखिले के अंतिम समय तक ऊहापोह की स्थिति बनी हुई थी।

कांग्रेस प्रत्याशी के लिए रामशरण यादव का नाम आज सुबह तय किया गया और उनकी ओर से अकेले नामांकन दाखिल किया गया। बताया गया है कि सीधे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उनके नाम को फाइनल किया। महापौर पद की दौड़ में विजय केशरवानी और शेख नजीरूद्दीन भी थे। नजीरूद्दीन का नाम फाइनल नहीं किये जाने के विरोध में उनके इलाके सत्यम चौक और तालापारा में कुछ युवकों ने एकत्र होकर नारेबाजी भी की।

सुबह 9.30 बजे पार्षदों के शपथ ग्रहण के बाद महापौर पद पर निर्वाचन की प्रक्रिया शुरू की गई। दोपहर 12.45 नामांकन दाखिला का अंतिम समय पूरा होने तक भाजपा का नामांकन दाखिल नहीं होने के बाद यादव का निर्विरोध निर्वाचन तय हो गया। बड़ी संख्या में उपस्थित कांग्रेसजनों ने उनको बधाई देना शुरू हो गये। इस दौरान कुछ पल के लिए यादव भावुक भी हो गये और उन्होंने हाल ही में दिवंगत शेख गफ्फार को याद किया। निर्वाचन की घोषणा होने के बाद बधाई देने वालों का तांता लग गया।इनमें कांग्रेस विधायक शैलेष पांडेय, विधायक रश्मि सिंह ठाकुर, कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव, जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी, शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, भाजपा नेता व पूर्व सभापति अशोक विधानी अनेक पार्षद, उनके समर्थक और अन्य शामिल थे।

रामशरण यादव ने डीपी विप्र कॉलेज बिलासपुर से 1984 में राजनीति शुरू की थी। वहां के अध्यक्ष छात्रसंघ  रहे।  जिला विपणन संघ के तीन बार अध्यक्ष रहे। यादव समाज प्रदेश युवा इकाई के पिछले 20 साल से अध्यक्ष रहे हैं। वे तीसरी बार पार्षद चुने गये हैं। इस समय वे राजेन्द्र नगर वार्ड से पार्षद हैं। महापौर पद के लिए पिछली बार हुए चुनाव में उन्हें प्रत्याशी बनाया गया था जिसमें भाजपा को जीत मिली थी। रामचरण यादव ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि वह बिलासपुर में लगातार गिरते जा रहे भूजल स्तर को सुधारने तथा पानी निकासी की व्यवस्था को दुरुस्त करने पर काम  को प्राथमिकता देंगे।भाजपा विधायक रजनीश सिंह ठाकुर ने कहा कि  चूंकि भाजपा के पास बहुमत नहीं था इसलिये संगठन ने प्रत्याशी नहीं उतारने का निर्णय लिया।

संबंधित पोस्ट

भाजपा की नई टीम का एलान जल्द, नए चेहरों को मिल सकता है मौका

कोरोना मरीजों के शवों से भर गया दिल्ली का पंजाबी बाग श्मशान घाट, वीडियो वायरल

गुजरात : कांग्रेस को एक और झटका, मोरबी विधायक ने इस्तीफा दिया

कोरिया : नाले पर बना दिया गोठान

कोरिया जिले में दलाल सक्रिय, सरपंचों पर बना रहे दबाव- देवेन्द्र तिवारी

छत्तीसगढ़ : जशपुर में बनेगा पुरातात्विक संग्रहालय

छत्तीसगढ़ : कोरिया जिले में दाखिल हुआ टिड्डियों का दल

छग : नकली दरोगा बन हाईवे में वसूली करते दो युवक गिरफ्तार

बस्तर के नारायणपुर में CAF कमांडर की जवानों पर फायरिंग, 2 की मौत, 1 जख्मी

भाजपा की कुदृष्टि किसानों की खेती पर, कारपोरेट के जाल में फंसेंगे खेत : अखिलेश

लॉकडाउन से पस्त पान विक्रेता संघ कलेक्टर से मिला, मांगी इजाजत

बस्तरः पुणे से लौटा मजदूर कोरोना संक्रमित, कोविड अस्पताल में भर्ती