भाजपा प्रदेश अध्यक्ष उसेंडी ने CM भूपेश के कार्यकाल को कहा असफल

बदलापुर की राजनीती में व्यस्त रही भूपेश सरकार - विक्रम उसेंडी

रायपुर| छत्तीसगढ़ की सरकार यानी भूपेश सरकार के कार्यकाल के एक साल पुरे हो गए हैं। सीएम भूपेश ने अपने एक साल के कार्यकाल पर “छत्तीसगढ़ सेवा और जतन का एक साल” पुस्तक का विमोचन किया था। जिसमे सरकार ने सभी विभागों के द्वारा किये गए अब तक के कार्यों की जानकारी दी है। इस किताब में गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की रुपरेखा को संकल्पित किया गया है। सरकार के एक साल पुरे होने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा था की आज इस बात की खुशी है कि हर वर्ग यह महसूस कर रहे है कि यह मेरी सरकार है।

इधर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार के एक साल का कार्यकाल को बदलापुर की राजनीती से प्रेरित बताया। उसेेंडी ने कहा कि प्रदेश सरकार के काम की शुरुआत पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के खिलाफ बदलापुर से शुरू हुई और डॉ. रमन सिंह के खिलाफ फिर दुर्भावनापूर्ण कार्रवाई के साथ एक साल इस सरकार ने पूरा किया है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष श्री उसेंडी ने कहा कि प्रदेश सरकार के पास एक साल में गिनाने के लिए एक उपलब्धि तक नहीं है। विकास के काम ठप पड़े हैं, जो काम पूर्ववर्ती सरकार ने शुरू किए थे, उन्हें रोक दिया गया।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष उसेंडी ने कहा कि प्रदेश सरकार की बदनीयती, कुनीतियों और नेतृत्व की वैचारिक- दीवालियापन ने छत्तीसगढ़ को बदहाल कर रखा है। किसानों को ठगने वाली प्रदेश सरकार को अपने एक साल पूरा होने का जश्न नहीं, मातम मनाना चाहिए क्योंकि इस एक साल में प्रदेश में कानून-व्यवस्था की बदहाली सेे नागरिक सुरक्षा, महिला सुरक्षा दांव पर लगी है। केवल तबादला उद्योग चलाकर कमीशनखोरी इस सरकार का राजनीतिक चरित्र रहा है। वादाखिलाफी की जो मिसाल इस सरकार ने पेश की है, उसे पूरा प्रदेश भोग रहा है। शराबबंदी, बेरोजगारी भत्ता, किसानों की पूरी कर्जमाफी, बकाया बोनस भुगतान, 25 सौ रुपए क्विंटल की दर पर धान खरीदी जैसे तमाम मुद्दों ने प्रदेश में जन-असंतोष को जन्म दिया है, और प्रदेश सरकार ऐसे माहौल में अपनी सालगिरह का जश्न मनाना समझ से परे हैं। साथ ही उसेंडी ने कहा कि प्रदेश पर हजारों करोड़ रुपये का कर्ज लादकर प्रदेश के खजाने को लुटाकर इस राज्य सरकार ने छत्तीसगढ़ को कंगाली के कगार पर ला खड़ा किया है।

संबंधित पोस्ट

नक्सल प्रभावित इलाकों में आदिवासियों पर दर्ज़ 215 प्रकरण हुए वापस

सीएम हाउस में हुई भूपेश कैबिनेट की बैठक

लोकवाणी : स्वाभिमान, अस्मिता और नई ऊर्जा से प्रारंभ हुआ आगे बढ़ने का नया दौर

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बॉयो-एथेनॉल के लिए नीति आयोग को लिखा पत्र

छत्तीसगढ़ में आज है अन्न दान का महापर्व छेरछेरा

छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण का गठन

भक्त राजिम माता जयंती पर सीएम की सौगात, मेला स्थल में बनेगा राजिम माता भवन

सीएम भूपेश के निर्देश – वेंटिलेटर, आई.सी.यू. और ऑपरेशन थेएटर रखें अपडेट

नाचा नाटक खेल और चित्रकला से सजेगा “युवा महोत्सव 2020”

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए नाम निर्देशन का सिलसिला जारी

छत्तीसगढ़ विधानसभा के सेंट्रल हाल में महान विभूतियों के तैलचित्र का अनावरण

जंगल अफसरों को CM भूपेश की दो टूक, आदिवासी है वनों के मालिक