Border Seal : राजधानी रायपुर की सीमाओं को किया गया पूरी तरह सील

पुलिस आवाजाही को रोकने बरत रही है सख्ती

रायपुर | राजधानी रायपुर में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने शासन पूरी तरह से मुस्तैद है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजधानी के सीमाओं को सील करने का निर्देश दिया है। आदेश के अनुसार रायपुर जिले से बाहर न कोई जा सकता है और न ही रायपुर के शहर सीमा मे प्रवेश कर सकता है। जिसके बाद राजधानी पुलिस ने सभी चौक चौराहों पर बैरिकेड लगाकर आवाजाही को अवरुद्ध कर दिया है।

राजधानी रायपुर में कर्फ्यू लागू
राज्य सरकार ने अब कड़ाई करते हुए शहर में लॉक डाउन के साथ ही धारा 144 यानी कर्फ्यू लगा दिया है। जिसमें निधेधाज्ञा का पालन करते हुआ घर से बाहर निकलने पुरी तरह से रोक लगी हुई है। यदि कोई निकल भी रहा है तो उसे पुख्ता कारण भी पुलिस को बताना होगा। यही कारण है कि आज से ही सड़क में लगाए गए चेकिंग पॉइंट पर सख्ती से जांच की जा रही है। साथ ही वाहन चालकों और बिना वजह घूमने वालों को सख्त हिदायत देकर घर लौटाया जा रहा है।

प्रशासन की सलाह
लोगों को प्रशासन के द्वारा अपने घर में ही रहने की सलाह दी जा रही हैं। साथ ही प्रशासन लोगों से सोशल डिस्टेंस बनाए रखने की अपील भी कर रहा है। इसके बाद भी लोगों घरों से निकलकर बाहर घूम रहे हैं। सड़को पर निकले शहरवासियों को पुलिस घर लौटने पहले तो समझाइस दे रही हैं इसके बाद भी नहीं मानने पर उन पर कड़ाई भी बरती जा रही है। राजधानी के चौक चौराहों में चेकिंग प्वाइंट लगाया गया है। जिसमें यातायात पुलिस के साथ ही संबंधित थानों की पुलिस के द्वारा दोपहिया और चार पहिया वाहनों की सघन चेकिंग की जा रही है और आगे गंतव्य तक जाने के लिए रोका भी जा रहा है

रायपुर में एक पॉजिटिव मरीज
आपको बता दें 19 मार्च को लंदन से लौटी रायपुर की युवती में कोरोना संक्रमण पॉजिटिव पाया गया था। प्रदेश में अब तक विदेश से पहुंचे कोरोना के संदिग्ध मरीजों के 122 सैंपल की जांच की गई है। इसमें एक पॉजिटिव है। वहीं सुरक्षा के लिहाज से 96 लोगों को होम आइसोलेशन में रखा गया है। जानकारी के अनुसार विदेश से पहुंचे लोगों में सबसे अधिक राजधानी के हैं। इसी वजह से छत्तीसगढ़ सरकार ने एहतियात के तौर पर ये कदम उठाया है। जिसके बाद शहर भर में धारा 144(1) लागू कर दिया गया था। इसके बाद शासन ने और सख्ती बरतते हुए लॉक डाउन का भी निर्णय लिया था जो अब भी बरकरार है। शासन के आदेशानुसार यह लाॅक डाउन 31 मार्च तक जारी रहेगी।

प्रदेश की सीमाओं पर भी निगरानी
कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए राज्य सरकार ने प्रदेश के 16 स्थानों पर सीमाओं को सील कर दिया है। यह सभी मार्ग महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, मध्य प्रदेश, झारखंड, ओडिशा, उत्तर प्रदेश और बिहार से जुड़ी हुई है। राज्य सरकार ने स्थानीय जिला प्रशासन, पुलिस और परिवहन विभाग के अधिकारियों को इन स्थानों पर तैनात किया है, जो दूसरे राज्यों से आने वाले निजी गाड़ियों की लगातार जांच कर रहे हैं। गौरतलब है कि प्रदेश सरकार ने 31 मार्च तक के लिए सभी सरकारी कार्यालय बंद करने के निर्देश दिए हैं। सिर्फ आपातकालीन सेवाएं और जीवन रक्षक सभी जरूरी सेवाओं को छोड़कर तमाम दुकानें और बाजार बंद कर दी गई।

संबंधित पोस्ट

कोरोना संघर्ष के बीच विश्व ने मनाया अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य दिवस

सीएम भूपेश ने केन्द्रीय खाद्य मंत्री को लिखा पत्र, चावल देने जताई इच्छा…

सीएम भूपेश बघेल ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को लिखा पत्र

Corona Update : बिहार में कोरोना के 6 नए मरीज मिले,  संख्या 21 पहुंची

रायपुर नगर निगम की फूड सप्लाई सेल जरुरत मंदो तक पहुंचाया भोजन

कोरोना को हराने के लिए लामबंदी, समर्थन जरूरी है

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने चैत्र नवरात्रि पर प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं

शहीद जवानों को मुख्यमंत्री भूपेश सहित मंत्रियों,अधिकारीयों ने दी श्रद्धांजलि

Corona : छत्तीसगढ़ से अंतर्राज्यीय बस परिवहन सेवा तत्काल प्रभाव से स्थगित

Covid-19 : कोरोना संक्रमण से बचने घर पर ही “होम आइसोलेशन”

COVID-19 : जामिया मिलिया में हॉस्टल खाली करने का आदेश

Covid-19 : कोरोना वायरस से बचाव के लिए बांटी गई एंटीडोट दवाएं…