शीतकालीन सत्र : अरपा पैरी से शुरुवात, दिवंगतों को दी गई श्रद्धांजलि

विधानसभा में स्टेरॉयड इंजेक्शन पर ध्यानाकर्षण

रायपुर। छत्तीसगढ़ के पंचम विधानसभा में शीतकालीन सत्र की आज शुरुआत हुई है। शीतकालीन सत्र में सबसे पहले राष्ट्रगीत वंदे मातरम के बाद आज सदन के भीतर पहली दफा राज्य गीत “अरपा पैरी के धार” को गाया गया। इधर राजगीत के समापन पर कांग्रेस के सदस्य अमितेश शुक्ला ने सरकार को राजगीत को कुछ छोटा करने का निवेदन भी किया है।
सदन में आज विभिन्न राजनीतिक दलों के दिग्गज नेताओं के निधन का उल्लेख करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। जिसमें भारत की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर, भारत के पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली, अविभाजित मध्यप्रदेश विधानसभा के पूर्व सदस्य मालूराम सिंघानिया, लोकसभा के पूर्व सदस्य डॉ बंशीलाल महतो, मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी को सदन ने श्रद्धांजलि दी। जिसके बाद कार्यवाही कुछ देर के लिए स्थगित की गई। जुलाई 2019 के सत्र के प्रश्नों के अपूर्ण उत्तरों के संपूर्ण संकलन को पटल पर रखा गया।

संबंधित पोस्ट

छत्तीसगढ़ विधानसभा का विशेष सत्र 16 जनवरी को…

शीतकालीन सत्र का अवसान, विधानसभा अध्यक्ष डॉ महंत ने जताया आभार

धान का रक़बा घटाने पर गर्भगृह में पंहुचा विपक्ष, निलंबन…

विधानसभा : जिम चलाने का भी बनाए कानून, आसंदी के सरकार को निर्देश

विधायक को जान से मारने की दी धमकी, धारा 151 के तहत हुई कार्यवाही…हंगामा

CGVidhansabha Breaking : “धान खरीदी” पर गरमाया शीतसत्र…

गाँधी जयंती : खादी कुर्ता और सदरी में विधानसभा पहुंची भूपेश सरकार

विधानसभा में उछला “अंडा देने का मामला” विपक्ष का बहिर्गमन

मानसून सत्र : प्रश्नकाल में उठा निजी स्कूलों का मामला

मानसून सत्र : विधानसभा की कार्रवाई 18 जुलाई तक स्थगित

छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र में सत्ता पर हावी विपक्ष

CGVIDHANSABHA विशेष सत्र : श्रद्धांजलि के बाद बुधवार तक सदन स्थगित