मुख्यमंत्री ने की घोषणा : छत्तीसगढ़ में बनेगा सिंचाई विकास प्राधिकरण

सिंचाई सुविधाओं से लबरेज होंगे किसान

रायपुर | छत्तीसगढ़ के किसानों को सिंचाई सुविधाओं का भरपूर लाभ मिल सके इसके लिए राज्य में सिंचाई विकास प्राधिकरण का गठन किया जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सिंचाई विकास प्राधिकरण के गठन के लिए आदेश दिए है।

गौरतलब है कि राज्य में कुल कृषि योग्य भूमि लगभग 57 लाख हेक्टेयर है। वर्ष 2004 में राज्य में निर्मित सिंचाई क्षमता 15 लाख 51 हजार हेक्टेयर और वास्तविक सिंचाई क्षमता 10 लाख 22 हजार हेक्टेयर थी, वहीं वर्ष 2018 में निर्मित सिंचाई क्षमता 20 लाख 88 हजार हेक्टेयर जबकि वास्तविक सिंचाई क्षमता केवल 10 लाख 38 हजार हेक्टेयर ही हो पाई है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि सिंचाई विकास प्राधिकरण राज्य में वास्तविक सिंचाई क्षमता के विस्तार के साथ ही नवीन सिंचाई योजनाओं के निर्माण की कार्ययोजना बनाएगा ताकि प्रदेश के किसानों को उसका अधिक से अधिक लाभ मिल सके।

 

उल्लेखनीय है कि राज्य में वर्तमान में वास्तविक सिंचाई क्षमता 10.38 लाख हेक्टेयर है जो कि कुल कृषि योग्य भूमि का 18 प्रतिशत है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि सिंचाई साधनों का विकास राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में शामिल है। सिंचाई साधनों के तेजी से विकास के लिए मिशन मोड में कार्य करना आवश्यक हैै। इसके लिए राज्य में छत्तीसगढ़ सिंचाई प्राधिकरण का गठन किया जाएगा।

संबंधित पोस्ट

गणतंत्र दिवस : रायपुर में राज्यपाल करेंगी ध्वजारोहण, जगदलपुर जाएंगे CM भूपेश

बजट 2020 के सीएम ने की चर्चा, कृषि एवं जलसंसाधन मंत्री ने दिए प्रस्ताव

नक्सल प्रभावित इलाकों में आदिवासियों पर दर्ज़ 215 प्रकरण हुए वापस

सीएम हाउस में हुई भूपेश कैबिनेट की बैठक

लोकवाणी : स्वाभिमान, अस्मिता और नई ऊर्जा से प्रारंभ हुआ आगे बढ़ने का नया दौर

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बॉयो-एथेनॉल के लिए नीति आयोग को लिखा पत्र

छत्तीसगढ़ में आज है अन्न दान का महापर्व छेरछेरा

गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की तर्ज पर नांदगांव का विकास – सीएम भूपेश

छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण का गठन

भक्त राजिम माता जयंती पर सीएम की सौगात, मेला स्थल में बनेगा राजिम माता भवन

सीएम भूपेश के निर्देश – वेंटिलेटर, आई.सी.यू. और ऑपरेशन थेएटर रखें अपडेट

नाचा नाटक खेल और चित्रकला से सजेगा “युवा महोत्सव 2020”