राजनांदगांव के युगांतर पब्लिक स्कूल में हुआ कोरोना विस्फोट

11 शिक्षकों सहित छात्रों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन में हड़कंप

राजनांदगांव | छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण पूरी तरह से खत्म भी नहीं हुआ और राज्य सरकार ने कैबिनेट में सहमति बनाकर प्रदेश भर में स्कूल खोल दिया। 15 फरवरी से खुले स्कूलों में हालांकि सरकार ने गाइडलाइन का पालन करने चेतावनी भी दी थी,लेकिन इसका पालन शायद नहीं हो पाया और जिसका खामियाजा राजनांदगांव के एक निजी स्कुल में दिखाई दिया।

राजनांदगांव जिले के युगांतर पब्लिक स्कूल में स्कूल खुलते ही कोरोना विस्फोट हो गया है। स्कूल के 2 बच्चे और 9 स्टॉफ कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। यानी तीसरे ही दिन बच्चों समेत 11 स्टॉफ संक्रमित मिले हैं।

11 महीनों बाद छत्तीसगढ़ में स्कूल खोलने का आदेश जारी किया और अब स्कूल-कालेज खुल चुके है| लेकिन अब स्कूल में बच्चे कोरोना संक्रमित होने से पलकों में भी खासी नाराजगी प्रशासन के खिलाफ नजर आ रही है। वहीँ संक्रमण के बाद स्कूल प्रबंधन तथा प्रशासन में हड़कंप मच गया है|

दरअसल, सरकार के आदेश के बाद बच्चें स्कूल कालेज जानें की तैयारियों में जुट गए है| कुछ बच्चें जानें लगे है तो कुछ लोगों का परिवार अब भी घबराया हुआ है। लेकिन इससे पहले ही एक ही स्कुल में 13 लोगों के कोरोना पॉजेटिव आने की खबर ने सभी को झकझोर दिया है।

आपको बता दें कि संक्रमित सभी शिक्षक और बच्चे स्कूल में ही रेसिडेंसियल सुविधा के तहत ही रहते हैं। इनमें से पहले एक शिक्षक को कोरोना के संदिग्ध लक्षण मिले थे, जिसके बाद ऐहितियातन रेसिंडेंसियल के अलावा अन्य शिक्षक व बच्चों का भी कोरोना टेस्ट कराया जाएगा।