चचेरे भाई बहन का प्यार परवान चढ़ने से पहले ही हुआ खत्म,भाई और चाचा ने की हत्या

दुर्ग |भिलाई के सुपेला थाना क्षेत्र अंतर्गत रिश्ते ने ही रिश्ते को मौत के घाट उतार दिया है। मामले में भाई और मझले चाचा ने इस क्रूर हत्या को अंजाम दिया है। हत्याकांड में युवती के भाई चरण और चाचा रामू को सुपेला पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल,रिश्ते में चचेरे भाई बहन ऐश्वर्य कोप्पल और श्रीहरि एक दूसरे को दिलो जान से चाहते थे। लेकिन परिवार वाले इसके खिलाफ थे। यह बात दोनों युगल को पता था। ऐश्वर्या जहां परिवार में सबसे बड़े भाई की बेटी थी। वही श्रीहरि परिवार में सबसे छोटे भाई का लड़का था। 20 सितंबर को मृतक ऐश्वर्या और श्रीहरि ने सगाई की थी। ये प्रेमी जोड़ा घर से भागकर 21 सितंबर को चेन्नई चले गए थे। 21 सितंबर को ही सुपेला थाने में दोनों के परिजनों ने अलग-अलग गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाई थी। जिसके बाद पुलिस ने छानबीन शुरू की,जिसमे 7 अक्टूबर को पुलिस ने चेन्नई से इन्हें लाकर रिश्तेदारों को सौंपा दिया था।

10 अक्टूबर की रात पुलिस को पड़ोसियों से खबर मिली कि ऐश्वर्य के घर झगड़ा हो रहा है। लेकिन जब पुलिस ऐश्वर्य के घर पहुंची तो घर में ऐश्वर्य और श्रीहरि नहीं मिले। पूछताछ में ऐश्वर्य का भाई चरण और चाचा रामू पुलिस को गुमराह करने जैसी बात कहने लगे जिसपर पुलिस को शंका हुई। पुलिस ने जब दोनों पर दबिश दी तो ये दोनों ने सारा राज उगल दिया और अपनी गुनाह कबूल कर ली।

आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि ऐश्वर्य और श्रीहरि का प्यार इन्हे नागवार गुजर रहा था। जिसके बाद रिश्ते से नाराज होकर उन्होंने यह कदम उठाया। आरोपियों ने पहले युवती और युवक को जहर पिलाया उसके बाद गला दबाकर मार डाला। उसके बाद लाश को बोरी में भरकर जेवरा-सिरसा के नदी किनारे ले गए और टायर से जलाने की कोशिश की गई ताकि सबूत मिट जाये।

सुपेला पुलिस ने पूछताछ के बाद दोनों आरोपियों को मौके पर ले गए और नदी किनारे से जले हुए शव बरामद किए। दोनों आरोपियों चरण और रामू के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया।

शेयर
प्रकाशित
Swaroop Bhattacharya

This website uses cookies.