दिल्ली : विदेशी को अगवा करने वाले 2 अपहरणकर्ता गिरफ्तार

रिहाई के लिए मांगे थे 2 करोड़ रुपये की फिरौती

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने विदेशी का अपहरण करने के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। बुल्गारिया मूल के पीड़ित को सकुशल रिहा करा लिया गया है। पुलिस ने बताया कि व्यक्ति की रिहाई के लिए अपहर्ताओं ने फोन पर दो करोड़ रुपये की फिरौती मांगी थी। पकड़े गए अपहर्ताओं के कब्जे से हथियार भी मिले हैं।

द्वारका जिले के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) एंटो अल्फांसो ने आईएएनएस को यह जानकारी रविवार को दी।

डीसीपी के मुताबिक, “अपहर्ताओं ने विदेशी का अपहरण किया था। पीड़ित सुरक्षित है। अपहर्ताओं को दबोचने के लिए पुलिस और बदमाशों के बीच गोलीबारी भी हुई।”

संयुक्त पुलिस आयुक्त शालिनी सिंह ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, “मोहन गार्डन इलाके से 27 फरवरी की रात को विदेशी नागरिक का एटीएम के बाहर से अपहरण किया गया। बाद में आरोपियों ने विदेशी नागरिक के दोस्त को कॉल कर दो करोड़ रुपये की मांग की। अपहर्ताओं ने रुपये लेकर व्यक्ति के दोस्त को नजफगढ़ झाड़ोदा रोड पर एक सुनसान स्थान पर बुलाया था। पुलिस की टीमें भी बुलाए गए स्थान पर मौजूद थी। शक होने पर आरोपियों ने भागने की कोशिश की। हालांकि, उनका पीछा कर उन्हें पकड़ लिया गया। बचाव अभियान के दौरान तीन पुलिसकर्मी भी घायल हो गए, लेकिन हम विदेशी नागरिक को सकुशल रिहा कराने में कामयाब रहे हैं।”

अपहर्ताओं की पहचान अनूप और नवीन के रूप में हुई है। अनूप का आपराधिक रिकॉर्ड रहा है। वह हत्या के मामले में आरोपी है, जबकि नवीन हाल फिलहाल में अपराध की दुनिया में आया है।

–आईएएनएस

संबंधित पोस्ट

दिल्ली : झुग्गियों में लगी भीषण आग, 250 झोपड़ियां जलकर राख

लॉकडाउन में भटक रहे मासूम को ओडिशा कैडर आईपीएस का सहारा

दिल्ली में फर्जी ई-पास बनाने के मामले का भंडाफोड़, घेरे में कर्मचारी

जामिया हिंसा : शादाब और आसिफ पर दिल्ली पुलिस ने लगाया यूएपीए

शराब माफियाओं पर भारी पड़ी दिल्ली की पहली महिला आईपीएस

Corona Update : दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 19 मरे, अब तक 148 मौत

दोपहर से रात तक दिल्ली-यूपी बार्डर पर लगी रही भीड़, रेंगता रहा ट्रैफिक

शराब पर लगे विशेष कोरोना शुल्क पर रोक लगाने से इनकार

किरायेदार छात्रों से मांगा भाड़ा, एफआईआर

Corona Update : दिल्ली पुलिस के 1 आईपीएस सहित 140 से ज्यादा जवान संक्रमित

लॉकडाउन में भी होती रहीं वारदातें, दिन-दहाड़े चली गोली

Lockdown : आपराधिक दुनिया में लिप्त होने लगीं पढ़ी लिखी औरतें