शाहीनबाग में देर रात प्रदर्शनकरियों के दो गुटों में हुई झड़प

झड़प की वीडियो बनाते यूट्यूबर का फोन भी तोड़ा

नई दिल्लीदिल्ली के शाहीनबाग में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन को बंद करवाने को लेकर दो गुट शनिवार देर रात आपस में भिड़ गए। दोनों पक्षों में करीब आधे घंटे तक मारपीट और गालीगलौज हुई। एक गुट चाहता था कि प्रधानमंत्री के द्वारा ‘जनता कर्फ्यू’ के ऐलान का समर्थन किया जाए, जबकि दूसरा गुट इस आह्वान का पालन करने को तैयार नहीं था। इसी बात पर दोनों गुटों में कहासुनी हो गई।

हालांकि, बाद में वहां मौजूद लोगों ने आपस मे भिड़े गुटों को समझा-बुझा कर वहां से भेज दिया और मामले को शांत करवाया।

इससे पहले भी शाहीनबाग में हल्की नोकझोंक देखी गई है और अक्सर लोग प्रदर्शन स्थल की अगुवाई को लेकर आपस मे तू-तू, मैं-मैं करते हैं, जिसकी वजह से शाहीनबाग में कई गुट बन गए है जो चाहते है कि सिर्फ हमारी बात यहां मानी जाए।

बताया जा रहा है कि वहां मौजूद एक यूट्यूबर का फोन भी तोड़ दिया गया है, क्योंकि वो झड़प के वक्त वीडियो बना रहा था।

उल्लेखनीय है कि शाहीनबाग के लोगों ने 21 तारीख को एक बैठक की थी और इस बैठक में जनता कर्फ्यू का पालन करना है या नहीं, इसका फैसला होना था जिसके बाद शाहीनबाग कि तरफ से ये फैसला लिया गया कि सिर्फ ‘जनता कर्फ्यू’ के दिन शाहीनबाग के प्रदर्शन स्थल पर 5 महिलाएं बैठेंगी और किसी तरह का कोई स्पीकर से अनाउंसमेंट नही होगा।

(आईएएनएस)

संबंधित पोस्ट

दिल्ली : मोहल्ला क्लीनिक का एक और डॉक्टर कोरोना पोजिटिव

Corona Update : कोविड-19 पॉजिटिव डॉक्टर के संपर्क में आए 900 लोग क्वारंटाइन

दिल्ली : महिला के मुंह पर कोरोना पान-पीक थूकने वाला गिरफ्तार

खाली कराया गया शाहीन बाग, मौके पर भारी पुलिस बल तैनात

दिल्ली में मोहल्ला क्लिनिक का डॉक्टर कोरोना संक्रमित

कोविड-19 : जामा मस्जिद के इमाम बोले, सरकार के मशविरे पर अमल करें

दिल्ली : कोरोनावायरस के प्रसार रोकने केजरीवाल ने उपायों की समीक्षा की

सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों के विरुद्ध लखनऊ प्रशासन के कड़े कदम

दिल्ली में कोरोनावायरस का पहला मरीज मिला

दिल्ली : विदेशी को अगवा करने वाले 2 अपहरणकर्ता गिरफ्तार

हिंदू सेना के प्रदर्शन खत्म करने का ऐलान, शाहीनबाग में धारा 144 लागू

दिल्ली में हिंसाग्रस्त क्षेत्रों में मुआवजे की प्रक्रिया शुरू