सुकमा : डंडे से पीटकर दो मासूमों को उतार दिया मौत के घाट

आरोपी को विक्षिप्त बता रहे परिजन, झाड़फूक कराने लाने की कही बात

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले धुर नक्सल प्रभावित चिंतागुफा इलाके में एक सिरफिरे ग्रामीण ने दो बच्चों की डंडे से मारकर बेरहमी से हत्या कर दी। आरोपी मानसिक रुप से बीमार है और उसने हत्या से पहले दो मवेशियों को भी मार डाला था। उसे इलाज के लिए इस गांव में लाया गया था। इस दौरान वह भाग निकला और इस घटना को अंजाम दिया। आरोपी हिरासत में है और मामले की जांच चल रही है। एसपी शलभ सिंह ने मामले की पुष्टि की है।


मिली जानकारी के मुताबिक चिंतागुफा गांव के दो बच्चियों की बेरहमी से हत्या कर दी गई है। हत्या का आरोप पास के गांव के एक शख्स पर लगाया जा रहा है। बताया जा रहा है कि बुधवार सुबह सोमा नाम के एक शख्स को गांव वाले चिंतागुफा झाड़फूक कराना लाए थे। लोगों के मुताबिक उसकी मानसिक स्थिति खराब थी, इसी दौरान वो वहां से भाग निकला और पास के घर में घुस गया। इसी दौरान उसने मासूमों पर हमला कर दिया।

बताया जा रहा है कि चिंतागुफा गांव में दो बच्चियां अपनी मां के साथ घर पर मौजूद थी। परिवार वाले किसी काम से घर के बाहर बैठे थे, इसी दौरान आरोपी घर में घुसा और पास में पड़े डंडे से मासूम बच्चों के सिर पर जानलेवा वार कर दिया। उसे पीट-पीट कर दोनों बच्चियों की बेरहमी से हत्या कर दी। बच्चों को बेदर्दी से मारने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। परिजनों ने घटना की जानकारी चिंतागुफा थाने में दी। शिकायत मिलने के बाद कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ की कार्रवाई की जा रही है। मामले की जांच करने की बात पुलिस ने की है।

संबंधित पोस्ट

घुटनों के बल चलकर दंतेश्वरी मंदिर पहुंचे स्वास्थ्य कर्मी, नौकरी बचाने लगाई गुहार

बस्तर के कांकेर में नक्सल मुठभेड़, बम- अन्य सामान बरामद

बस्तर : पत्रकार के खिलाफ एफआईआर को लेकर पत्रकारों ने कमिश्नर-कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

बस्तर : जनताना सरकार का अध्यक्ष और एलओएस सदस्य गिरफ्तार

बस्तर के नारायणपुर में CAF कमांडर की जवानों पर फायरिंग, 2 की मौत, 1 जख्मी

बस्तरः पुणे से लौटा मजदूर कोरोना संक्रमित, कोविड अस्पताल में भर्ती 

बस्तरः जगदलपुर में कोरोना की दस्तक, मिला पहला पॉजिटिव

बस्तरः कांकेर में कोरोना वॉरियर्स डॉक्टर पॉजिटिव

बस्तर : भाजपा नेता को मिला धमकी भरा पत्र, लिखा “तेरा अंत होने वाला है” 

नक्सल प्रभावित क्षेत्र में ऑनलाईन क्लासेस, 61 हजार बच्चे कर रहे पढ़ाई

मौत के मुंह से जिंदा लौटा पुलिस का जवान, नक्सलियों ने लगा दी थी जनअदालत

बस्तर मुठभेड़ में शहीद जवान को दी गई अंतिम सलामी