सरगुजा: बलात्कार के बढ़ते मामलों ने उड़ाई पुलिस प्रशासन की नींद

पखवाड़े भर के भीतर करीब आधा दर्जन मामले, एसडीओपी व थाना प्रभारी निलंबित

अंबिकापुर। सरगुजा संभाग में बीते कुछ दिनों में करीब आधा दर्जन बलात्कार के मामले ने प्रशासन की नींद उड़ा दी है| पीड़ितों में नाबालिग भी शामिल हैं| इधर डीजीपी ने महिला संबंधी अपराधों की विवेचना में लापरवाही बरतने पर वाड्रफनगर एसडीओपी व थाना प्रभारी रघुनाथनगर को निलंबित कर दिया है|

बता दें कि सरगुजा में बढ़ते बलात्कार मामले को लेकर विपक्ष सरकार पर लगातार हमलावर रुख अपनाये हुए है|

सरगुजा के बलरामपुर जिले  में लगातार बलात्कार के मामले सामने आये हैं व।अभी कुछ दिन पहले भी वाडफनगर क्षेत्र का एक मामला प्रकाश में आया था उसके बाद से लगातार यहाँ चार पांच घटनाएं सामने आ चुकी हैं|   मंगलवार को बलरामपुर जिला में एक 5 वर्षीय बालिका व एक 17 वर्षीय किशोरी के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है जिसमें पुलिस दो तीन लोगों को पकड़ी भी है। पुलिस ने जिन लोगों को पकड़ा है वो सभी अपचारी बालक बताए जा रहे हैं।

सरगुजा  जिले के मैनपाट में एक युवती को बंधक बनाकर दुष्कर्म का मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक मैनपाट के कमलेश्वरपुर थाना क्षेत्र  निवासी 20 वर्षीय युवती 29 सितंबर की शाम अपनी सहेली से मिलने पैदल उसके घर जा रही थी। इसी   सिमोन तिग्गा नामक युवक ने स्कूल के पीछे ले जाकर उसके साथ बलात्कार किया।   युवती को धमकी दी कि यदि वह शोर मचाएगी या किसी को ये बात बताएगी तो वह उसे जान से मार देगा। फिर  उसे अपने घर ले गया और रातभर बंधक बनाकर बलात्कार किया। घटना के 13 दिन बाद युवती हिम्मत कर मां के साथ कमलेश्वरपुर थाना पहुंची और युवक के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

इधर बलरामपुर जिला के राजपुर जंगल में मवेशी चराने गई 15 वर्षीय नाबालिग  के साथ बलात्कार का मामला सामने आया है। सूनेपन का फायदा उठाते हुए गांव के ही एक नाबालिग ने उसके साथ बलात्कार किया| शाम को अपने घर लौटी नाबालिग बालिका ने अपनी आप बीती अपने परिजनों को बताई| पुलिस ने पीड़िता के परिजनों के रिपोर्ट पर गांव के ही नाबालिग बालक के विरुद्ध मामला दर्ज किया है।

वहीँ बलरामपुर जिले का दूसरा मामला रघुनाथ नगर थाना क्षेत्र अंतर्गत सामने आया है। पीड़िता के पिता द्वारा शिकायत दर्ज कराई गई कि उसकी 17 वर्षीय पुत्री के साथ दो युवकों द्वारा घर से भगा कर ले गए और बारी बारी से युवती के साथ बलात्कार किया ।रघुनाथनगर पुलिस द्वारा इस मामले में अपराध पंजीबद्ध कर दोनों आरोपियों को पकड़ लिया गया है।

दरअसल पीड़िता के पिता अनुसार एक अक्टूबर को उसकी नाबालिग पुत्री को गांव का ही युवक बहला-फुसलाकर घर से भगा कर उत्तर प्रदेश ले गया था। साथ में उसके चचेरे भाई ने भी युवती को घर से भगा ले जाने में सहयोग किया था। तकरीबन चार-पांच दिनों बाद युवती उत्तर प्रदेश से उन लोगों के साथ लौटे और घर पर आकर कुछ दिनों बाद अपने साथ घटी घटना को परिवार वालों को बताई।

युवती ने बताया कि एक युवक प्रेम प्रसंग के बहाने बहला-फुसलाकर उत्तर प्रदेश ले गया था और उसके चचेरे भाई भी साथ में गया हुआ था। उसके प्रेमी ने उसके साथ जबरन शारीरिक संबंध बनाया और उसके चचेरे भाई ने भी बलात्कार किया| रघुनाथनगर थाना पुलिस ने महिला पुलिस अधिकारी बलरामपुर के समक्ष युवती को पेश कर बयान दर्ज कराया गया जिस पर युवती के कहे अनुसार दोनों आरोपियों को रघुनाथनगर थाना पुलिस ने उसके घर से पकड़ अनाचार,पास्को एक्ट की धारा के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

एसडीओपी और थाना प्रभारी निलंबित

महिला संबंधी अपराधों की विवेचना में लापरवाही बरतने पर वाड्रफनगर के एसडीओपी ध्रुवेश जायसवाल और थाना प्रभारी रघुनाथनगर जान प्रदीप लकड़ा को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। मुख्यमंत्री के निर्देश के तत्काल बाद पुलिस महानिदेशक डी.एम. अवस्थी द्वारा इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिया गया है। निलंबन अवधि में इनका मुख्यालय पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय सरगुजा रखा गया है।

 

संबंधित पोस्ट

सरगुजा : डाक्टर पर कालेज छात्रा ने लगाया रेप का आरोप, मामला दर्ज

सरगुजा: शादी पंडाल में आ धमका हाथी, हमले में घायल बुजुर्ग की मौत

सरगुजा : पत्नी की प्रेमी संग प्रताड़ना से तंग पति ने फांसी लगा ली

सरगुजा: बलरामपुर में शराबी बेटे ने माँ को जिन्दा जला दिया  

Video:लेमरू एलिफेंट प्रोजेक्ट: विरोध कर रहे ग्रामीणों को मिला मंत्री सिंहदेव का साथ

सरगुजा: विरोध में फंसकर रह न जाये लेमरू हाथी कोरीडोर परियोजना

सरगुजा: विवाहित प्रेमिका से मिलने गया वह उसकी आखरी रात बनी

सरगुजा : हाथियों ने 2 हेक्टेयर फसल रौंदा, दहशत में ग्रामीण  

सरगुजाः प्रतापपुर वन परिक्षेत्र में फिर एक हाथी का शव मिला, मौत स्पष्ट नहीं

EXCLUSIVE कोरियाः डीएमएफ से ढाई गुणा काम स्वीकृत पर रायल्टी बीते तीन साल से कम

सरगुजाः हाथियों की मौत की जांच-पड़ताल में जुटा केंद्रीय दल

सरगुजाः वन्य प्राणियों को बेहोश कर इलाज का प्रशिक्षण लेंगे वनअफसर-पशु चिकित्सक