ओडिशा से भिलाई ले जाई जा रही सागौन एवम तेंदू चिरान जब्त

वन विभाग द्वारा सीमा पर सघन जांच जारी

पिथौरा| महासमुंद जिले के बागबाहरा क्षेत्र में वन विभाग ने ओडिशा से भिलाई ले जाई जा रही सागौन एवम तेंदू की टुकड़ा चिरान लकड़ी जब्त  की है।ज्ञात हो कि वन विभाग की आंखों के सामने ही प्रतिदिन लाखो रुपयो की लागत से बने विभिन्न प्रजाति की लकड़ियों के फर्नीचर बिक रहे है।इन पर विभाग द्वारा कभी भी कोई कार्यवाही नहीं की गयी।

उपवन मंडलाधिकारी  एस.एस. नाविक एवं वन परिक्षेत्र अधिकारी, बागबाहरा  जयकांत गण्डेचा ने  रात्रि गश्त के निर्देश दिए थे|  वनोपज जांच नाका टेमरी में  वाहनों की सघन  जांच चल रही थी|इस दौरान  ओडिशा से  आने वाले वाहनों की जाँच की गई|

 जाँच के दौरान पिक-अप वाहन क्रमांक सीजी 07 बीडी 6802  से सब्जी कैरेट के नीचे छुपाकर रखे 16 कार्टून में काला तेन्दू टुकड़ी चिरान 2088 नग (0.424 घमी.) एवं सागौन टुकड़ी चिरान 114 नग (0.013 घमी.) योग 2202 नग (0.437 घमी.) बिना कागजात के परिवहन करते हुए पाये गए।

लिहाजा वाहन मालिक व अभियुक्त प्रमोद साहू पिता नत्थून साहू साकिन सुपेला भिलाई जिला दुर्ग पर  वन अपराध जारी कर वाहन को जब्त  किया गया।

कार्यवाही में भरतलाल साहू वनपाल, प्रभारी वनोपज जांच नाका टेमरी व परिक्षेत्र सहायक कोमाखान, रोशनलाल चन्द्राकर, वनरक्षक, कोकिलकांत दिनकर, वनरक्षक, सनी ठाकुर वनरक्षक तथा अविनाश तिवारी, भरतलाल यादव, गौकरण साहू, आदि शामिल रहे|