उप्र: बुलंदशहर की नाबालिग गैंगरेप के बाद गर्भवती, 3 पर मामला दर्ज

नाबालिग ने व्हाट्सएप के जरिए पुलिस को सामूहिक बलात्कार की शिकायत भेजी

बुलंदशहर (उप्र) | बुलंदशहर की 16 वर्षीय लड़की ने गर्भवती होने के बाद व्हाट्सएप के जरिए पुलिस को सामूहिक बलात्कार की शिकायत भेजी है। किशोरी ने दावा किया है कि डेढ़ साल के दौरान 3 लोगों ने उसके साथ कई बार बलात्कारकिया है। महिला सर्कल अधिकारी के नेतृत्व में एक टीम को लड़की के घर भेजकर उसके बयान लिए गए। साथ हीबलात्कार के मामले में 3 लोगों पर मामला दर्ज किया गया है, जिसमें एक 72 वर्षीय व्यक्ति भी शामिल है।

बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसपी) संतोष कुमार ने बताया कि हाल ही में उसकी हालत बिगड़ने के बाद बलात्कार पीड़िता के परिवार को बलात्कार का  पता चला। लड़की को एक स्थानीय अस्पताल में ले जाया गया है।

कुमार ने कहा, “पीड़िता ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि आरोपियों में 72 वर्षीय श्रीचंद, श्रीचंद का 52 वर्षीय भाई बलवीर और एक दूध विक्रेता महेश ने उसके साथ बलात्कार किया।”

पुलिस ने यह भी बताया कि बलवीर ने परिवार को डेढ़ लाख रुपये का कर्ज दिया था, जिसकी अदायगी को लेकर उसका परिवार के साथ झगड़ा भी हुआ था।

कुमार ने आगे कहा, “एक साल पहले पीड़िता के भाई को ट्रेन दुर्घटना में गंभीर चोटें आईं थीं। तब बलवीर ने नोएडा के एक फार्म हाउस के मालिक से इस परिवार को कर्ज दिलाया था। आरोपियों ने दावा किया कि गुरुवार को जब उन्होंने पैसे लौटाने को कहा तो झगड़ा शुरू हो गया।” एसएसपी ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है।

(आईएएनएस)

संबंधित पोस्ट

उप्र : फोन पर व्यस्त नर्स ने महिला को एक साथ कोविड वैक्सीन की 2 खुराक दी

उप्र में नगरसेवक की पत्नी और 2 बच्चों को जिंदा जलाया

उप्र : बेटे का सिर काटकर मां ने की खुदकुशी  

उप्र : शख्स ने विवाहित पड़ोसी महिला को चाकू से गोदा, एसिड डाला

उप्र : प्रेमी संग मिलकर पत्नी ने पति को जिंदा जलाया

उप्र : पेड़ से बांधकर आदमी को जिंदा आग के हवाले कर दिया

“साहब , मैं जिंदा हूं। साहब, मैं एक इंसान हूं, कोई भूत नहीं”

उप्र : शादी के बाद भी प्रेम-संबंध नहीं तोड़ा तो पिता ने बेटी को गोली मार दी 

उप्र : 4 अधिकारियों को डिमोट कर चपरासी, चौकीदार बनाया

उप्र : ‘वैक्सीन रजिस्ट्रेशन’ के बहाने लोगों से साइबर धोखाधड़ी

उप्र :शादी के एक दिन बाद दुल्हन नकदी और जेवर लेकर फरार

उप्र : वाहनों पर अब नहीं लगाए जाएंगे जाति-धर्म से जुड़े स्टीकर