Categories: दुर्ग

भिलाई ट्रिपल मर्डर : टीवी सीरियल से बनाया मर्डर का प्लान, और फिर…

रायपुर। भिलाई में हुए तिहरे हत्याकांड के मामले में पुलिस ने खुलासा किया है। पुलिस ने बताया कि इस तिहरे हत्याकांड में आरोपी कोई और नहीं बल्कि मृतिका का पति ही है। पुलिस ने महज़ 48 घंटे के अंदर ही इस पूरे मामले का खुलासा कर दिया। मिली जानकारी के मुताबिक हत्यारा रवि शर्मा ने अपनी पहली पत्नी के साथ रहने के लिए इस हत्याकांड की कहानी रची थी। यह पूरा घटनाक्रम रवि ने एक टीवी सीरियल देखकर रचा और उसी तर्ज़ पर अंजाम भी दिया। रवि ने अपनी दूसरी पत्नी और बच्चों के साथ एक अन्य व्यक्ति की हत्या कर प्लान तैयार किया, जिसमें रवि खुद को भी मरा हुआ साबित करना चाहता था।


तिहरे हत्याकांड का खुलासा करते हुए एसएसपी अजय यादव ने बताया कि रवि शर्मा जो मूलत: बिहार का रहने वाला है। भिलाई में आकर वह बढ़ई का काम करता था। रवि की शादी साल 2005 में धनबाद की संगीता शर्मा से हुई थी। संगीता से उसके दो बच्चे है, लेकिन साल 2015 में वह बढ़ई का काम करने के लिए रायपुर आया और उसकी मुलाकात मंजू सूर्यवंशी से हुई। मंजू से रवि ने प्रेम संबंध बनाया और खुद को कुंवारा बताकर मंजू से दूसरी शादी कर ली। मंजू की भी यह दूसरी शादी थी उसकी भी 10 साल की एक बच्ची थी। मंजू और रवि दोनों पहले हुडको में किराए के एक मकान में रहने आए थे और तकरीबन साल भर पहले ही दोनों ने अपना मकान तालपुरी में शिफ्ट किया था। इसी बीच मंजू को रवि की पहली शादी के बारे में पता चला लेकिन रवि मंजू के साथ रहने की बात कर पूरे मामले को शांत कर चुका था। साल 2019 में मंजू और रवि को एक बेटी जो हुई। यह बेटी मंजू के मायके में हुई और तालपुरी वापस लौटने के बाद खर्च को लेकर दोनों में जबरदस्त विवाद हुआ। इधर आरोपी रवि ने पुलिस को शुरुआती बयान में बताया कि अक्सर मंजू खर्च को लेकर उससे विवाद करती और आत्महत्या कर फंसाने की धमकी देने लगती थी। जिसके बाद रवि ने उसे मारकर राउरकेला में रह रही अपनी पहली पत्नी और बच्चों के पास जाने की पूरी तैयारी की और इस हत्याकांड को अंजाम दिया।

खुद को मरा हुआ बताने निर्दोष की हत्या
रवि ने खुद को मरा हुआ साबित करने के लिए सबसे पहले अपनी कद काठी की एक व्यक्ति की तलाश की। उसकी ये तलाश सिविक सेंटर के नजदीक एक शराब दुकान के पास जाकर ख़त्म हुई। रवि की मुलाकात एन.राजू से हुई, जो तकरीबन उसी की कद काठी और रंग का था। रवि ने राजू से दोस्ती की और उसके साथ शराब पी। जिसके बाद रवि शर्मा राजू को अपने घर लेकर गया और वहां भी दोनों ने जमकर शराब खोरी की। इधर रवि ने प्लान के मुताबिक नींद की गोलियां राजू के शराब में मिला दी जिससे वह बेहोश हो गया और इसके बाद उसने अपनी पत्नी मंजू को यह कहा कि राजू हमारे बारे में मेरी पहली पत्नी को बताने की धमकी देकर ब्लैकमेल कर रहा है, इसे खत्म करना ही आखरी रास्ता है और अपनी पत्नी को वह दूसरे कमरे में भेज कर राजू के मुंह में टेप चिपकाया और गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। उसी दिन अपनी पत्नी को भी नींद की गोलियां खिलाकर रवि ने उसे बेहोश किया और उसका भी गला घोट दिया। इतना ही नहीं बल्कि रवि ने अपनी बच्ची का भी गला घोटकर उसे मार डाला।

शेयर
प्रकाशित
Nikhil Vishwakarma

This website uses cookies.