डोंगरगढ़ में आधुनिक रोप-वे लोकार्पित, चैत्र नवरात्री से सीएम भूपेश ने दी सौगात…

मां बम्लेश्वरी की पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि की कामना की

डोंगरगढ़। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ स्थित मां बम्लेश्वरी मंदिर प्रांगण में नवनिर्मित मां बम्लेश्वरी उड़न खटोला (रोप-वे) का लोकार्पण किया। चैत्र नवरात्रि से ठीक पहले सीएम भूपेश ने इस रोप-वे का लोकार्पण किया है। मुख्यमंत्री अतिथियों के साथ रोप-वे से पहाड़ी पर स्थित मां बम्लेश्वरी मंदिर पहुंचे। वहां उन्होंने पूजा-अर्चना कर प्रदेश की प्रगति, समृद्धि और खुशहाली का आशीर्वाद मांगा।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि अब यहां एक नगर पालिका का और एक मंदिर ट्रस्ट का रोप-वे हो गया है। दो रोप-वे होने से यहां आने वाले श्रद्धालुओं को दर्शन करने में काफी सुविधा होगी। यहां लाखों की संख्या में हर वर्ष श्रद्धालु आते हैं। उनकी सुविधा के लिए यह व्यवस्था की गई है।
उल्लेखनीय है कि अत्याधुनिक रोप-वे के प्रारंभ होने से मां बम्लेश्वरी के दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को एक अच्छी सुविधा मिलेगी। दर्शन में लगने वाले समय की बचत होगी, वहीं बुजुर्गों और दिव्यांगों को भी आसानी होगी।

इस लोकार्पण समारोह की अध्यक्षता वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने की। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, विधायक डोंगरगढ़ भूनेश्वर शोभाराम, विधायक संगीता सिन्हा सहित अनेक जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे।

आठ करोड़ की लागत से हुआ निर्माण
इस रोप-वे के लिए 8 करोड रूपए की लागत आयी है। रोप-वे में 14 ट्रालियां लगायी गई हैं। एक घंटे में अब 500 श्रद्धालु मां का दर्शन करने पहाड़ी पर जा सकेंगे। यह रोप-वे अत्याधुनिक और पूरी तरह से कम्प्यूटरीकृत प्रणाली से संचालित है। यह रोप-वे विद्युत तथा डीजल से चलेगी। दर्शनार्थियों के लिए पहाड़ी के नीचे और ऊपरी हिस्से में तीन मंजिला हाल बनाने कार्य भी किया जा रहा है। नई सुविधाओं और रोप-वे के निर्माण से इस पूरे क्षेत्र में पर्यटन को एक नया आयाम मिलेगा।

संबंधित पोस्ट

छत्तीसगढ़ में पढ़ना-लिखना अभियान में ढाई लाख लोगों को साक्षर करने का लक्ष्य

छत्तीसगढ़ में राम वन गमन पर्यटन परिपथ जल्द ही लेगा मूर्त रूप

Video : पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने गोबर से की राजकीय चिन्ह की तुलना

वन्य प्राणियों के उपचार के लिए छत्तीसगढ़ में विकसित होेंगे 3 अत्याधुनिक अस्पताल

दुर्ग जिले के अमलेश्वर में होगी 132 केवी क्षमता के विद्युत उप केंद्र की स्थापना

कोरोना लॉक डाउन के बीच राजनीतिक बयानबाजी से मचा घमासान

माँ बम्लेश्वरी के दर्शनार्थियों के पैरों पर कोरोना से लगेगी बेडी

शादी के दबाव से तंग आकर युवती को जलाने का आरोपी गिरफ्तार

लोकसभा में उठा डोंगरगढ़ पहुंचने वाली अन्तर्राज्यीय सड़क निर्माण का मुद्दा