हिन्दुस्तान में हॉकी की बदौलत नांदगांव का नाम – चौबे

प्रख्यात सर्वेश्वरदास हॉकी प्रतियोगिता के शुभारंभ पर बोले कृषि मंत्री

प्रदीप मेश्रम, राजनांदगांव। हॉकी की नर्सरी संस्कारधानी राजनांदगांव में रविवार से ऐतिहासिक महंत राजा सर्वेश्वरदास स्मृति अखिल भारतीय हॉकी प्रतियोगिता शुरू हो गई। प्रतियोगिता का 78वां वर्ष है।
बतौर मुख्य अतिथि प्रतियोगिता का शुभारंभ करने पहुंचे प्रदेश के कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे ने ने कहा कि हॉकी की बदौलत राजनांदगांव का नाम हिन्दुस्तान में जाना जाता है। उन्होंने कहा कि इस खेल के प्रति यहां के लोगों की आत्मीयता काबिले तारीफ है। उन्होंने कहा कि हॉकी खेल से यहां के हर वर्ग का गहरा लगाव है।
मैच के शुभारंभ से कृषि मंत्री ने खिलाडिय़ों से मैदान में पहुंचकर परिचय प्राप्त किया। कृषि मंत्री ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में कहा कि राजनांदगांव में सदियों से जनता के सहयोग से महंत राजा सर्वेश्वरदास की याद में हॉकी प्रतियोगिता परंपरागत रूप से हो रही है।
उन्होंने कहा कि इस प्रतियोगिता को देखने के लिए जब भी मुझे मौका मिलता है, हर बार राजनांदगांव आता हूं। यहां आकर राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय खिलाडिय़ों की प्रतिभा को देखने का सौभाग्य प्राप्त होता है।
इससे पहले कृषि मंत्री श्री चौबे सहित सभी अतिथियों ने शुरूआत में स्वर्गीय महंत राजा सर्वेश्वरदास और स्वर्गीय महंत राजा दिग्विजय दास के तैल चित्र पर माल्र्यापण किया। सभी अतिथियों, दर्शकों और उद्घाटन मैच की दोनों टीमों के खिलाडियों ने दो मिनट का मौन रखकर स्वर्गीय महंत राजा सर्वेश्वरदास और स्वर्गीय महंत राजा दिग्विजय दास को श्रद्धांजलि दी। मुख्य अतिथि श्री चौबे ने उद्घाटन मैच के खिलाडिय़ों से परिचय प्राप्त करने के बाद प्रतियोगिता के विधिवत शुभारंभ की घोषणा की।
प्रतियोगिता के शुभारंभ समारोह की अध्यक्षता करते सांसद संतोष पाण्डेय ने कहा कि शिक्षा, साहित्य, कला-संस्कृति और खेल के क्षेत्र में उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल करना राजनांदगांव की विशेषता रही है। इतिहास इसका गवाह है।
हॉकी के क्षेत्र में भी राजनांदगांव से नामी.गिरामी खिलाड़ी हुए हैं। महापौर और आयोजन समिति की अध्यक्ष हेमा देशमुख ने कहा कि हॉकी प्रतियोगिता आयोजित करने के लिए एस्ट्रोटर्फ की साफ.-सफाई एक चुनौती थीए जिसे आयोजन से जुड़े सभी लोगों ने मिलकर पूरा किया।
राजनांदगांव खेल प्रतिभाओं के मामले में संपन्न है। शुभारंभ अवसर पर पूर्व लोकसभा सांसद करूणा शुक्ला, राजगामी संपदा राजनांदगांव के अध्यक्ष विवेक वासनिक, कलेक्टर तथा स्टेडियम समिति के अध्यक्ष जयप्रकाश मौर्य ने भी संबोधित किया।

संबंधित पोस्ट

दुर्ग :विवाद के बाद बेटे ने लगाई फांसी, बाप ने ट्रेन के आगे दे दी जान

राजनांदगांव: बदमाशों ने आधी रात हिस्ट्रीशीटर को चाकू से गोद मार डाला

राजनांदगांव:छह माह से कोर्ट में ताले, वकीलों ने मांगी सरकार से क्षतिपूर्ति

राजनांदगांव:बलात्कार-हत्या के आरोपी को फांसी की मांग, रैली-प्रदर्शन

राजनांदगांव: आजादी के बाद पहली बार देखी मलैदा ने चमचमाती सड़क

राजनांदगांवःग्रामीण महिला कांग्रेस की कार्यकारिणी में प्रभारी मंत्री अकबर के करीबियों का वर्चस्व

राजनांदगांवः झंडा जलाने के विवाद से तनाव के बीच बंद रहा मानपुर

राजनांदगांवः विश्व आदिवासी दिवस पर किसान-मजदूरों ने केंद्र  के खिलाफ किया प्रदर्शन 

राजनांदगांवः राज्य और केंद्र की नीतियों पर बरसे किसान

राजनांदगांवः तेन्दूपत्ता से भरी ट्रक में जा घुसी तेज रफ्तार कार

राजनांदगांव : गुजारा भत्ता के लिए फिर चालकों का प्रदर्शन

राजनांदगांवः मनरेगा कर्मियों से मारपीट का आरोप, आधा दर्जन महिलाएं थाना तलब