वन महकमे को छका रहे बाघ की चतुराई से अफसर हैरान

रेल्वे ट्रेक और हाईवे को पार करना बाघ की सूझबूझ का प्रमाण

राजनांदगांव। राजनांदगांव जिले में करीब सप्ताहभर से मौजूद बाघ की घेराबंदी में जुटा वन अमला इस बात को लेकर हैरान है कि बिना किसी को नुकसान पहुंचाए बाघ का ठौर बरकरार है। अफसरों का मानना है कि जिस तरह से बाघ ने मनगट्टा के जंगल बाहर निकलने के दौरान रेल्वे ट्रेक और हाईवे को पार किया। यह उसकी सूझबूझ का ही प्रमाण है। अफसर मानते हैं कि बाघ ने अपने मूवमेंट के दौरान काफी समझदारी दिखाई। यही कारण है कि अभी तक वह हिंसक नहीं हुआ है। खास बात यह है कि बाघ ने राजनांदगांव जिले से बालोद की ओर रूख करने के दौरान रेल्वे और हाईवे के अंडरब्रिज का उपयोग किया। जिसके चलते बाघ किसी के नजर में नहीं आ पाया।

फिलहाल 3 वर्षीय यह बाघ बालोद से वापस राजनांदगांव के सुरगी क्षेत्र के आरला और भर्रेगांव क्षेत्र में चहलकदमी कर रहा है। महकमे के अफसर दिन-रात एक कर बाघ तक पहुंचने के लिए पदचिन्ह का सहारा ले रहे हैं। डीएफओ बीपी सिंह के मुताबिक बाघ की तलाश में अलग-अलग टीमें तैनात है। वह भी मानते हैं कि बाघ ने जिस तरह से अपने मूवमेंट को छुपाकर रखा है। उससे यह पता चलता है कि वह वापसी की तलाश में लगातार हाथ-पैर मार रहा है।
डीएफओ का कहना है कि बाघ की यह खासियत होती है कि वह सीमित होकर ही आगे बढ़ता है। इस बीच सुरगी के आरला और भर्रेगांव इलाके में दहाड़ ग्रामीणों ने सुनी है। आज सुबह भी बाघ को ढूंढने के लिए वनकर्मी डटे रहे। हालांकि बाघ के निश्चित ठिकाने का पता नहीं चल पाया है। महकमे के अफसर हैरानी के साथ-साथ इस बात को लेकर संतुष्ट हैं कि बाघ की ओर से जनहानि नहीं की गई है। आमतौर पर बाघ इंसानी जीवन से दूर रहते हैं। बाघ की धरपकड़ के लिए राजनांदगांव वन अमले की कोशिशें जारी है।

संबंधित पोस्ट

बालोद में गश खाकर गिरे दर्जनभर स्कूली बच्चे

नांदगांव पहुंचे के.विजयकुमार, MMC जोन के अफसरों के साथ बैठक

राजनांदगांव : नक्सल पुनर्वास नीति के आड़ में वादा खिलाफी का आरोप

नांदगांव में जौहरी के साथ महिला ने की 5 लाख की ठगी

राजनांदगांव : एक हजार बूथों में नौनिहालों को दी गई पोलियो की खुराक

नाले में अज्ञात युवक की मिली लाश

शादी के दबाव से तंग आकर युवती को जलाने का आरोपी गिरफ्तार

राजनांदगांव : टोल प्लाजा में विरोध प्रदर्शन, तोड़फोड़

राजनांदगांव में नक्सलियों ने दो टिप्पर फूंके

राजनांदगांव कोर्ट से रेप का आरोपी चकमा देकर फरार

रमन की हालत खिसयानी बिल्ली जैसी : मरकाम

बिहार के वाल्मीकिनगर व्याघ्र अभयारण्य में बाघ से लड़ाई में बाघिन की मौत