दुर्ग :विवाद के बाद बेटे ने लगाई फांसी, बाप ने ट्रेन के आगे दे दी जान

रायपुर आंबेडकर अस्पताल में पति की मौत, पत्नी ने फांसी लगाई

राजनांदगांव । छत्तीसगढ़ के दुर्ग संभाग के राजनांदगांव जिले में पैसों को लेकर विवाद के बाद बाप -बेटे ने खुदकुशी कर ली | बेटे ने फांसी लगा ली तो बाप ने ट्रेन के आगे कूदकर | घटना राजनांदगांव के बंसतपुर थाना इलाके की है|

पुलिस के अनुसार दिवाली के दिन कामठी निवासी विकास अग्रवाल और उसके पिता गोविंद अग्रवाल में लेनदेन को लेकर विवाद हुआ था | बताया जाता है कि विकास ने अपने पिता से पैसे लेकर कारोबार शुरू किया था|

कारोबार ठीक तरह से नहीं चला और बंद हो रहा था | जिसके कारण कारोबार करने के लिए और पैसे की जरुरत थी |
विकास इसके लिए अपने पिता गोविन्द से रकम मांग रहा था | पर वे और रकम देने को तैयार नहीं थे| इस पर विवाद चल रहा था।
बेटे को और पैसे न देने के लिए गोविंद ने पैसे को फिक्स डिपोसिट कर दिया था, जिसके कारण विवाद और बढ़ गया था ।

दिपावली में दोनों बाप-बेटे में खूब झगड़ा हुआ| विकास अपने दुकान में चला गया । काफी देर तक जब वह घर नहीं लौटा तो परिजनों ने जाकर गोदाम में देखा, जहां उसकी लाश फंदे पर लटकी मिली ।

बेटे की मौत के बाद गोविंद अपनी पत्नी को यह कहकर गये कि वे कुछ काम निपटाकर आते हैं।
स्थानीय लोगों ने गोविंद अग्रवाल के खुदकुशी की सूचना परिजनों को दी। उन्होंने गौरी नगर रेलवे फाटक के पास ट्रेन से कटकर जान दे दी।

पति की मौत पत्नी ने फांसी लगाई

उधर दुर्ग जिले की भिलाई निवासी राजधानी रायपुर के आंबेडकर अस्पताल में फांसी लगा जान दे दी| निखत अंजुम नामक इस महिला के पति जाहिद को गंभीर स्थिति में भर्ती कराया गया था, जहां शनिवार उसकी मौत हो गयी।पति के मौत के बाद  निखत ने आज अस्पताल में ही फांसी लगा ली ।

संबंधित पोस्ट

दुर्ग में बिखरी छत्तीसगढ़ी लोककला की छटा

दुर्ग: बेमेतरा के साजा में तेज रफ़्तार बाइकों में टक्कर , 3 की मौके पर मौत

दुर्ग :जेल जाने से बचने प्रेमिका से शादी कर ली, अब प्रताड़ना का मामला दर्ज

राजनांदगांव: बदमाशों ने आधी रात हिस्ट्रीशीटर को चाकू से गोद मार डाला

राजनांदगांव: मोहला में नक्सलियों ने सड़क निर्माण में लगे आधा दर्जन वाहन फूंके

राजनांदगांव:छह माह से कोर्ट में ताले, वकीलों ने मांगी सरकार से क्षतिपूर्ति

राजनांदगांव:बलात्कार-हत्या के आरोपी को फांसी की मांग, रैली-प्रदर्शन

राजनांदगांव: आजादी के बाद पहली बार देखी मलैदा ने चमचमाती सड़क

राजनांदगांवःग्रामीण महिला कांग्रेस की कार्यकारिणी में प्रभारी मंत्री अकबर के करीबियों का वर्चस्व

राजनांदगांवः झंडा जलाने के विवाद से तनाव के बीच बंद रहा मानपुर

राजनांदगांवः विश्व आदिवासी दिवस पर किसान-मजदूरों ने केंद्र  के खिलाफ किया प्रदर्शन 

राजनांदगांवः लो-वोल्टेज से त्रस्त ग्रामीणों का बिजली दफ्तर पर धरना-प्रदर्शन