शीतकालीन सत्र का अवसान, विधानसभा अध्यक्ष डॉ महंत ने जताया आभार

विधानसभा के शीतकालीन सत्र के 6 बैठकों में तीस घंटे हुई चर्चा

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के शीतकालीन सत्र के अवसान की सुचना आसंदी ने सदन को दी। जिसके बाद शीतकालीन सत्र का समापन हो गया। इस सत्र में कुल 10 बैठकें आहूत की गई थी, लेकिन 6 बैठकों के बाद ही सत्रावसान कर दिया गया। इन 6 बैठकों में कुल 30 घंटे की चर्चा की जानकारी विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत ने मीडिया को दी। उन्होंने बताया कि पचंम विधानसभा के चतुर्थ सत्र (शीतकालीन) में तारांकित और अतारांकित के कुल 1472 प्रश्नों विधानसभा सचिवालय को प्राप्त हुए थे जिसके जवाब भी विभागीय मंत्रियों से मिले। विपक्ष और सत्तापक्ष के सदस्यों ने सदन के भीतर ध्यानाकर्षण के माध्यम से प्रदेश के कुल 74 मामलों पर सरकार का ध्यान आकृष्ट करने की सूचनाएं मिली। 61 सूचना शून्यकाल सूचना में परिवर्तित की गई इसके आलावा सदन ने एक स्थगन प्रस्ताव पर भी चर्चा की। विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत ने कहा “मैं सदन की सूचारु कार्यवाही के लिए सभी के प्रति आभार प्रकट करता हूँ।”

फरवरी में हो सकता है बजट सत्र
इधर विधानसभा का अगला और बजट सत्र फरवरी महीने में होने की आशंका जताई जा रही है। जिसमे भूपेश सरकार छत्तीसगढ़ के लिए साल 2020-2021 के वित्तीय वर्ष का बजट पेश करेगी।