यू-ट्यूब से सीखी क्लोनिंग, बनाया गैंग और ATM में शुरू की हेराफेरी

ATM क्लोनिंग कर रुपये चुराने वाला IIT इंजीनियर गिरफ़्तार

रायगढ़। रायगढ़ जिले में कुछ दिन पहले कोतरारोड के किरोडीमल नगर निवासी एक महिला के एटीएम से क्लोनिंग के जरिए रुपए निकालने के मामले में पुलिस ने एक आरोपी को बिहार से गिरफ्तार किया है। आरोपी IIT चेन्नई से B.Teh है, उसके गैंग में अन्य 3 लोग भी हैं । आरोपी सुधांशु कुमार ने बताया कि वह 2015 से 18 तक जिओ कंपनी में प्रोजेक्ट इंजीनियर के पद पर हरियाणा में कार्यरत था। करीब 6 माह पहले यूट्यूब वीडियो देखकर एटीएम क्लोनिंग करना सीखा और अपने तीन और साथियों के साथ मिलकर एटीएम से क्लोनिंग कर पैसा निकालने की योजना बनाई थी। उसके साथियों की तलाश जारी है।
पुलिस के अनुसार विवेचना दरमियान कोतरारोड पुलिस द्वारा पीड़िता सरोज देवी और उसके पुत्र गुलशन तथा गवाहों का से पूछताछ किया गया। संबंधित किरोड़ीमल नगर आजाद चौक के पास स्थित एसबीआई एटीएम तथा मार्ग में लगे सीसीटीवी का फुटेज ‍निकलवाकर चेक किया गया। साथ ही थाना प्रभारी कोतरारोड़ निरीक्षक रूपक शर्मा द्वारा इस प्रकार की वारदात हॉल ही में कहां-कहां घटित हुई है, इस संबंध में जानकारी जुटाया गया।

विवेचना के दौरान रायगढ़ सायबर सेल के सायबर एक्सपर्ट से सुधांशु कुमार निवासी गया, ‍बिहार के संबंध में कुछ महत्वपूर्ण सुराग हासिल हुए। रूपये रायगढ़- रांची- बिहार मार्ग पर स्थित एटीएम से रूपये से निकाले गये थे । जिस पर थाना प्रभारी कोतरारोड़ द्वारा पुलिस अधीक्षक से अनुमति प्राप्त कर कोतरारोड थाने से टीम गठित कर आरोपी कि पतासा जी गिरफ्तारी के लिए टीम बिहार रवाना किया गया ।

कोतरारोड पुलिस की टीम आज आरोपी सुधांशु कुमार भूमिहार निवासी फतेहपुर जिला गया बिहार को उसके सकुनत से गिरफ्तार कर ट्रांजिट रिमांड पर रायगढ़ लेकर आई ।आरोपी उच्च शिक्षा प्राप्त IIT चेन्नई B.Teh से पढा इंजीनियर है जिसने बताया कि उसके साथ गैंग में अन्य 3 लोग भी हैं । आरोपी सुधांशु कुमार ने बताया कि 2015 से 18 तक जिओ कंपनी में प्रोजेक्ट इंजीनियर के पद पर हरियाणा में कार्यरत था । करीब 6 माह पहले यूट्यूब वीडियो देखकर एटीएम क्लोनिंग करना सीखा और अपने तीन और साथियों के साथ मिलकर एटीएम से क्लोनिंग कर पैसा निकालने की योजना बनाई। जिसके लिए ऑनलाइन शॉपिंग साइट से स्कीयर, स्लेक एटीएम करीब 8 नग मंगवाये और लैपटॉप, वैगनआर खरीद कर बिहार से झारखंड होते हुए रामानुजगंज, अंबिकापुर और रायगढ़ के एटीएम में घटना को अंजाम दिया ।

आरोपी ने बताया कि इसके 2 साथी एटीएम लाइन में खड़े होकर लोगों के एटीएम कार्ड को देखा करते थे और एटीएम खाली होने पर उसमें अपना लगाया स्केयर निकालकर स्टिनर मशीन के जरिए क्लोनिंग कर रुपये निकालते थे। आरोपी ने बताया कि बिहार से वैगनआर से रायगढ़ आये थे। घटना कारित से मिले रुपयों को बांट लिए है। रुपये और वैगन आर कार को अपने तीन साथियों के पास होना आरोपी बताया है। आरोपी से 7,000 रूपये नगद और एक सिम लगा मोबाईल जब्त किया गया है, शेष आरोपियों की पतासाजी की जा रही है ।