4 महीने बाद फिर गूंजेगी लोकवाणी, 9वीं कड़ी में “न्याय योजनाएं,नयी दिशाएं” विषय पर होगी बात

कोरोना संक्रमण के कारण बंद की गई थी लोकवाणी

रायपुर | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने समाज के हर वर्ग की भावनाओं और सुझावों से अवगत होने तथा अपने विचार साझा करने के लिए लोकवाणी रेडियोवार्ता प्रारंभ की। लोकवाणी का सिलसिला लगतार 8 वीं कड़ी तक चला,जो प्रत्येक माह के दुसरे रविवार को आकाशवाणी से प्रसारित किया जाता है। लेकिन 19 मार्च से छत्तीसगढ़ में कोरोना प्रकोप शुरू होने के कारण “लोकवाणी” का प्रसारण रोक दिया गया था।

आपको बता दें की लोकवाणी की 8 वीं कड़ी का विषय ‘महिलाओं को बराबरी के अवसर’ था। इसे अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर प्रसारित किया गया था।

अब फिर से लोकवाणी का प्रसारण आकाशवाणी के माध्यम से शुरू किया जा रहा है। इस बार लोकवाणी के 9वीं कड़ी में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल “न्याय योजनाएं, नयी दिशाएं” विषय पर प्रदेशवासियों से बात करेंगे।

इस संबंध में कोई भी व्यक्ति आकाशवाणी रायपुर के दूरभाष नंबर 0771-2430501, 2430502, 2430503 पर 22, 23 एवं 24 जुलाई को अपरान्ह 3 से 4 बजे के बीच फोन करके अपने सवाल रिकाॅर्ड करा सकते हैं। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी की 9वीं कड़ी का प्रसारण 9 अगस्त को होगा। लोकवाणी का प्रसारण छत्तीसगढ़ स्थित आकाशवाणी के सभी केंद्रों,एफएम रेडियो और क्षेत्रीय समाचार चैनलों से सुबह 10.30 से 10.55 बजे तक होगा I

संबंधित पोस्ट

लोकवाणी की 15वीं कड़ी में आम जनता से रू-ब-रू हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

लोकवाणी की 13वीं कड़ी में प्रदेशवासियों से रू-ब-रू हुए मुख्यमंत्री भूपेश

लोकवाणी में इस बार होगी ”छत्तीसगढ़ सरकार दो वर्ष का कार्यकाल” पर बात

लोकवाणी की 11वीं कड़ी में मुख्यमंत्री ने दिया आम जनता के सवालों का जवाब

रेडियो वार्ता ’लोकवाणी’ की दसवीं कड़ी में मुख्यमंत्री ने साझा किए अपने विचार

लोकवाणी: मुख्यमंत्री रेडियो श्रोताओं से ‘न्याय योजनाएं, नई दिशाएं’ विषय पर की चर्चा

लोकवाणी की नौवीं कड़ी में गोधन-किसान न्याय योजना पर रहा मुख्यमंत्री का फोकस

’महिलाओं को बराबरी के अवसर’ विषय पर ‘लोकवाणी’ की 8वीं कड़ी हुई प्रसारित

परीक्षा की तैयारी और तनाव से निपटने मुख्यमंत्री ने ’लोकवाणी’ में दिए टिप्स

“परीक्षा प्रबंधन और युवा कैरियर के आयाम” पर होगी सीएम की लोकवाणी

लोकवाणी : स्वाभिमान, अस्मिता और नई ऊर्जा से प्रारंभ हुआ आगे बढ़ने का नया दौर

लोकवाणी : आदिवासियों की संस्कृति और परंपरा से छत्तीसगढ़ की पहचान