Video:राजधानी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल अग्निकाण्ड में हुई बड़ी कार्रवाई, दो डॉक्टर गिरफ्तार

संयुक्त टीम की जाँच में लापरवाही आई सामने

रायपुर | राजधानी हॉस्पिटल में हुए भीषण अग्निकाण्ड के मामले में अस्पताल संचालक मंडल के दो डॉक्टरों की गिरफ्तारी आज की गई है। संचालक मण्डल के दो सदस्यों डॉ.सचिन मल और डॉ.अरविंदो राय को गैर इरादतन हत्या के आरोप में टीकरापारा पुलिस ने गिरफ्तार किया। 

गौरतलब है कि 17 अप्रैल को रायपुर के पचपेड़ी नाका स्थित राजधानी मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल में कोविड आईसीयू वार्ड में शॉट सर्किट की वजह से आग लग गई थी। जिसमे कोविड संक्रमित 50 मरीजों का इलाज चल रहा था। आग की चपेट में आने से 6 कोरोना पीड़ित मरीज की मौत हो गई थी। शेष मरीजों को दूसरी जगह शिफ्ट किया गया था।  

आग लगने के कारणों की जांच में एक संयुक्त टीम काम कर रही थी। जिसमे स्वास्थ्य विभाग, पुलिस और अग्निशमन विभाग के अधिकारियों ने संयुक्त रुप से सूक्ष्म जांच में जुटी हुई थी। कोविड अस्पताल होने की वजह से कोरोना संक्रमण का डर था ऐसे में 7 दिनों तक जांच को टालना पड़ा। जाँच में टीम ने पाया कि जब आग लगी उस समय ​अस्पताल की घोर लापरवाही दिखाई दी। लापराही में फायर सेफ्टी नॉर्म्स की कमी,आग बुझाने के लिए एक्सपर्ट का न होना पाया गया। 

एएसपी लखन पटले ने कहा कि मामले की जांच में लापरवाही सामने आई है। जाँच कर रही टीम से मिली जानकारी के मुताबिक 4 डॉक्टर पर आरोप सिद्ध हुए हैं जिनमे आज 2 डॉक्टर की गिरफ्तारी हुई है और 2 डॉक्टर अभी भी फरार हैं,जिनकी खोज की जा रही है। गिरफ्तार डॉक्टरों से पुलिस हर बिन्दु पर बारीकी से पूछताछ करेगी। जिसके बाद लापरवाही बरतने वाले आरोपियों पर सख्त कार्रवाई होगी।

देखिये ये वीडियो-