जांजगीर में पटरी पर मिली माँ-बेटी की लाश, आत्महत्या का मामला ?

जांजगीर जिले में बुधवार सुबह माँ-बेटी की लाश पटरी पर मिली| पुलिस पहली नजर में इसे आत्महत्या का मामला मान रही है

जांजगीर| बिलासपुर संभाग के जांजगीर जिले में आज बुधवार सुबह माँ-बेटी की लाश पटरी पर मिली| पुलिस पहली नजर में इसे आत्महत्या का मामला मान रही है| पुलिस मामले की पड़ताल में लगी हुई है|

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक आज सुबह पटरी पर दो महिला लाश मिलने की सुचना पर वह मौके पर पहुंची| दोनों लाशों का पंचनामा बनाकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और मृतक के संबंध में छानबीन शुरू की|

मृतकों की पहचान अंजू सिंह 35 वर्ष और उसकी बेटी ऐश्वर्या सिंह 19 वर्ष के रूप में की गई|
जांजगीर के नैला उपथाना पुलिस के मुताबिक मृतिका अंजू सिंह अपने पति गोपाल सिंह और तीन बच्चों के साथ जांजगीर के वार्ड क्रमांक 20 में शारदा मंगलम के पीछे एक किराए के मकान में रहती थी।

देर रात महिला घर से बिना बताये अपनी बेटी ऐश्वर्या के साथ एक्टिवा में निकली हुई थी। आज सुबह दोनों माँ-बेटी की लाश नहरिया बाबा मंदिर से कुछ दूर पर बाबा   रेलवे ट्रेक पर मिली।

साथ ही दोनों की एक्टिवा भी मंदिर के पास खड़ी हुई मिली।आत्महत्या की वजह पारिवारिक विवाद माना जा रहा है|

पुलिस ने पूछताछ में पाया है कि महिला का अपने पति से विवाद होता रहता था। इस घटना से पहले मंगलवार की रात भी दोनों में विवाद हुआ था|

विवाद के बाद अंजू अपनी बेटी एश्वर्या के साथ घर से निकल गयी थी, जिसके बाद आज  सुबह दोनों माँ-बेटी  का शव पटरी पर पाया गया।

एश्वर्या सिंह कालेज छात्रा थी। बहरहाल पुलिस परिजनों से पूछताछ कर रही है और जांच जारी है।

बताया जाता है कि नहरिया बाबा मंदिर के इस इलाके में पटरी पर हादसे और ख़ुदकुशी की कई घटनाएँ सामने आ चुकी है| इसे देखते  हुए लोगों ने यहाँ फुटब्रिज की मांग भी की थी|  इस इलाके को लोग  डेंजर जोन की तरह देखते है|