माउंट एवरेस्ट पर छत्तीसगढ़ को पहुँचाने वाली बनी सबके आँखों की “नैना”

रायपुर | छत्तीसगढ़ का नाम एक बार फिर विश्व पटल पर छा गया है। बस्तर गर्ल नैना सिंह धाकड़ ने माउंट एवरेस्ट फतह का कारनामा कर दिखाया है। विश्व की सबसे ऊँची चोटी माउंट एवरेस्ट और विश्व की चौथी ऊंची चोटी माउंट ल्होत्से पर नैना सिंह धाकड़ ने तिरंगा लहरा कर छत्तीसगढ़ की पहली महिला पर्वतारोही का स्थान प्राप्त किया है। 

गौरतलब है कि विश्व की सबसे ऊंची पर्वत शिखर माउंट एवरेस्ट 8848.86 मीटर है। वहीं, के2 और कंचनजंगा के बाद विश्व का चौथे नंबर का पर्वत शिखर माउंट ल्होत्से की ऊंचाई 8516 मीटर है।

बस्तर संभाग के जिला मुख्यालय जगदलपुर से 10 किलोमीटर स्थित एक्टागुड़ा गांव की रहने वाली है नैना सिंह धाकड़। नैना बीते 10 सालों से इस उपलब्धि को हासिल करने यदि छोटी का जोर लगा रही थी। जो 1 जून को जाकर हासिल हुई। इस अभियान में नैना को करीब 60 दिनों का सफर तय करना पड़ा। 

याशी की पहल हुई कारगर 

शिखर पर पहुंचकर नैना की हालत काफी बिगड़ गई थी। उसे वापस आना भी नहीं हो पा रहा था। रायगढ़ की याशी जैन जो इस शिखर को दो बार छूने के प्रयास में विफल हो गई थी। यशी को जब पता चला की नैना की तबियत अत्यधिक थकान के कारण बिगड़ते जा रही है तब यशी ने नैना की सकुशल वापसी के लिए छत्तीसगढ़ के प्रथम माउंट एवरेस्टर राहुल गुप्ता से नैना की जान बचने गुहार लगाई। राहुल ने जगदलपुर कलेक्टर रजत बंसल से सम्पर्क कर साडी घटना की जानकारी दी। कलेक्टर बंसल ने त्वरित पहल कर नेपाल स्थित भारतीय दूतावास से नैना के लिए बात की बचाव अभियान दाल को तुरंत रवाना किया गया। पर्वतारोही विशेषज्ञों का एक दाल ने पहुंचकर नैना को सकुशल वापस ले आया। इस तरह यशी ने एवरेस्ट की चोटी पर फतह करने में भले ही असफल हुई हो लेकिन अपने प्रदेश की पहली बस्तर गर्ल नैना को सकुशल लौटाकर सभी का दिल जरूर जीत लिया।

मुख्यमंत्री भूपेश और मंत्री सिंहदेव ने दी नैना को बधाई 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ की पहली महिला पर्वतारोही नैना सिंह धाकड़ को माउंट एवरेस्ट फतह पर बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। मुख्यमंत्री बघेल ने नैना के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए ट्वीट में लिखा- “छत्तीसगढ़ की गौरव, बस्तर की बेटी पर्वतारोही नैना सिंह धाकड़ द्वारा विश्व की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट फतह करने पर उन्हें बधाई और शुभकामनाएं। मैं नैना के उज्जवल भविष्य की कामना करता हूँ। नैना ने अपने दृढ़ संकल्प,  इच्छाशक्ति तथा अदम्य साहस से यह कर दिखाया है।”

नैना सिंह धाकड़ की उपलब्धि पर स्वास्थ्य मंत्री टी.एस.सिंहदेव ने बधाई दी है। स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट कर लिखा- “आज छत्तीसगढ़ की बेटी नैना सिंह धाकड़ ने माउंट एवरेस्ट की चोटी फतह कर राज्य के नाम को कई गुना और गौरवान्वित कर दिया है।दुनिया के सबसे उच्चतम शिखर पर कदम रखने वाली राज्य की पहली महिला पर्वतारोही के खिताब के लिए उन्हें हार्दिक शुभकामनाएं।”

 

शेयर
प्रकाशित
Swaroop Bhattacharya

This website uses cookies.