नियमित रूप से संचालित हो रही है अम्बेडकर अस्पताल की ओपीडी

रोजाना पहुँच रहे हैं लगभग एक हजार से भी अधिक मरीज

रायपुर | छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की दर में कमी आने के बाद राज्य सरकार ने अस्पतालों में बंद ओपीडी को शुरू करने कलेक्टर को निर्देशित किया। जिसके बाद प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दर में कमी आने के बाद प्रदेश के सबसे बड़े शासकीय अस्पताल डॉ. भीमराव अम्बेडकर अस्पताल के OPD यानी  बाह्य रोगी विभाग में आने वाले सामान्य मरीजों की संख्या में वृद्धि हुई है। अस्पताल के सभी विभागों द्वारा कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर ( covid appropriate behaviour) का पालन करते हुए नान कोविड तथा पोस्ट कोविड ओपीडी का संचालन नियमित तौर पर किया जा रहा है। 

ओपीडी में आने वाले मरीजों के खून जांच, एक्स-रे, सीटी स्कैन एवं एम.आर.ई. नियमित तौर पर हो रहे हैं। ओपीडी मरीजों को मिनी स्टोर से दवाओं का वितरण सुचारू रूप से किया जा रहा है। सभी विभागों में जरूरी ऑपरेशन भी किये जा रहे हैं। अस्पताल के विभिन्न विभागों में आवश्यकता होने पर मरीजों को भर्ती कर उपचार किया जा रहा है। इमर्जेंसी एवं ट्रामा सेवाओं का संचालन निर्बाध रूप से जारी है।

डॉ. भीमराव अम्बेडकर स्मृति चिकित्सालय के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. विनित जैन के अनुसार अनलॉक की चरणबद्ध प्रक्रिया के फलस्वरूप अम्बेडकर अस्पताल के ओपीडी में लगातार मरीजों की संख्या में वृद्धि दर्ज की गई है। घटते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर ओपीडी में आने वाले सभी मरीज का इलाज किया जा रहा है। 

डॉ. जैन ने मरीजों से अपील की है कि वे अस्पताल आते समय कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर का पालन करते हुए अस्पताल की ओपीडी में मास्क पहनकर ही आयें। सामाजिक दूरी का पालन करें। एक मरीज के साथ केवल एक परिजन ही आयें। अस्पताल में भर्ती मरीजों के साथ भी केवल एक परिजन ही रूकें।

वर्तमान में इन विभागों की ओपीडी अम्बेडकर अस्पताल में शुरू 

अम्बेडकर अस्पताल में अभी जनरल सर्जरी विभाग, अस्थि रोग विभाग, कार्डियोलॉजी विभाग, हार्ट चेस्ट एवं वैस्कुलर सर्जरी विभाग, कैंसर विभाग, मेडिसिन विभाग, एनेस्थीसिया विभाग, ईएनटी विभाग, नेत्र रोग विभाग, दंत रोग विभाग, मनोरोग विभाग, रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग, त्वचा एवं रतिज रोग, रेडियोलॉजी विभाग, बायोकेमिस्ट्री, माइक्रोबायोलॉजी एवं पैथोलॉजी विभाग की ओपीडी का संचालन हो रहा है।

पंडरी एवं कालीबाड़ी अस्पताल में दो विभागों की ओपीडी 

अम्बेडकर अस्पताल के डेडिकेटेड कोविड अस्पताल बन जाने के कारण यहां के स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग का संचालन वर्तमान में जिला अस्पताल पंडरी में हो रहा है। वहीं बाल्य एवं शिशु रोग विभाग का संचालन कालीबाड़ी मातृ एवं शिशु अस्पताल में हो रहा है।

 

संबंधित पोस्ट

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को ‘छत्तीसगढ़ वर्चुअल योग मैराथन’ का होगा आयोजन

गोधन न्याय योजना अंतर्गत गोबर विक्रेताओं को 3.07 करोड़ की राशि अंतरित

छत्तीसगढ़ सरकार ने बदले कई IAS के प्रभार,रायपुर कलेक्टर होंगे सौरभ कुमार

GOM में कांग्रेस शासित राज्य के सदस्यों को शामिल नहीं करना दुर्भाग्यपूर्ण-CM बघेल

राज्य सरकार देगी कक्षा 8वीं तक 500 और 12वीं तक 1 हजार प्रति माह की छात्रवृत्ति

छत्तीसगढ़ के समग्र विकास हेतु उपाय सुझाने के लिए टॉस्क फोर्स गठित

कोरोना से दिवंगत मीडिया कर्मी के आश्रितों को मिलेगी सहायता

राजीव गांधी किसान न्याय योजना में लाभ पाने के लिए पंजीयन करना अनिवार्य

खनिज विभाग ने की लौह अयस्क के परिवहन मामले में बड़ी कार्रवाई

शासन-प्रशासन के मजबूत इरादे से राज्य में थम गई कोरोना की त्रासदी

पीएम किसान सम्मान निधि योजना में छत्तीसगढ़ के किसानों को भी मिला लाभ

कोविड से पीडि़त बच्चों को मिलेगा सरकार का आश्रय और संरक्षण