श्वांस में तकलीफ के बाद अस्पताल पहुंचे 2 की मौत  

रजिंदर खनूजा, पिथौरा| श्वांस लेने में तकलीफ के बाद अस्पताल पहुंचे 2 ग्रामीणों की जांच एवम उपचार के पहले ही मौत हो गई| मृतकों में एक महिला और एक बुजुर्ग है|  दोनों मृतकों के थ्रू नॉट एवम आरटीपीसीआर टेस्ट के बाद इनका कोरोना प्रोटोकाल के तहत अंतिम संस्कार का आदेश दिया गया है|

आज  गुरुवार की सुबह श्वांस लेने में तकलीफ के चलते पिथौरा स्वास्थ्य केंद्र में पहुंचे एक वृद्ध एवम एक महिला की मौत हो गयी। वैक्सीन लेने पहुंचे लोगों ने अपनी आखों के सामने यह मौत देख अन्य लोगों को जानकारी दी। इसके बाद नगर में हड़कम्प की स्थिति बन गई है।

बहरहाल घटना की जानकारी मिलने के बाद जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने दोनों मृतकों के थ्रू नॉट एवम आरटीपीसीआर टेस्ट के बाद इनका कोरोना प्रोटोकाल के तहत अंतिम संस्कार का आदेश दिया है।

आज सुबह ग्राम हरदी पिथौरा की एक 30 वर्षीय महिला एवम कसडोल बया के ग्राम मेटकुला के 65 वर्षीय वृद्ध को श्वांस में तकलीफ के कारण पिथौरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया था। परन्तु जांच एवम उपचार के पूर्व ही दोनों की मौत हो गयी।

 कल पिथौरा में निकले थे 107 मरीज

ज्ञात हो कि कल बुधवार को कोरोना के टेस्ट में जिले के कुल 407 मरीजो में पिथौरा में मरीजों  की संख्या 107 तक पहुँच  गयी है।भारी संख्या में संक्रमण बढ़ने से क्षेत्र में दहशत भी बढ़ती जा रही है।

 जांच रिपोर्ट के बाद मिलेगा मौत का कारण – बीएमओ

इधर स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की बीएमओ डॉ तारा अग्रवाल ने दोनों मौतों की पुष्टि करते हुए बताया कि वे श्वांस में तकलीफ के कारण उपचार हेतु आये थे परन्तु परीक्षण के पूर्व ही दोनों ने दम तोड़ दिया।

दोनों ही मृतकों की मौत का कारण इनकी जांच के बाद ही पता चल पाएगा। बहरहाल कोविड नियमो के तहत दोनों मृतकों के स्वाब सैम्पल आर टी पी सी आर जांच हेतु भेजे जा रहे है। इसके अलावा उच्चाधिकारियों के निर्देश के अनुसार दोनों का अंतिम संस्कार कोविड गाइड लाइन के अनुसार किये जाएंगे।

बुखार श्वांस में तकलीफ तुरन्त जांच करायें- एसडीएम

स्थानीय एस डी एम घटना की सूचना के तत्काल बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुच कर दोनों मृतकों के अंतिम संस्कार कोविड नियमो के तहत करने हेतु निर्देशित करते हुए सभी से अपील की है कि शासकीय अस्पतालों में जांच और उच्च स्तर का उपचार निःशुल्क है।

वर्तमान परिस्थिति को देखते हुए कोरोना से बचाव हेतु सरकारी गाइड लाइन का पालन करते हुए तत्काल अस्पताल पहुच कर परीक्षण करवा कर उपचार करायें ।

बता दें महासमुंद जिले का पिथौरा ब्लाक corona की चपेट में बुरी तरह आ गया है| वहीँ मात्र 10 हजार की आबादी वाली नगर पंचायत के लगभग सभी 15 वार्डो में संक्रमण पैर पसार चुका है।जिससे खासकर नगर में दहशत का माहौल देखा जा रहा है। बस, बारात  और बैंक  इसके मुख्य वाहक बनकर सामने आ रहे हैं|

 आइसोलेशन केंद्र जल्द प्रारम्भ

एसडीएम राकेश कुमार गोलछा ने बताया कि मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए उपचार हेतु लहरौद स्थित एकलव्य स्कूल को आइसोलेशन केंद्र बनाने की तैयारी पूरी कर ली गयी है। जिसे उच्च अधिकारियों के निर्देश के बाद तत्काल चालू कर दिया जाएगा।