महासमुंद जिला पंचायत : उषा पटेल अध्यक्ष और लक्ष्मण उपाध्यक्ष तय !

कांग्रेस को 06 बागियों का भी समर्थन

रजिन्दर खनूजा, पिथौरा। नगर की वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री उषा पटेल के नई जिला पंचायत की अध्यक्ष निर्वाचित होना लगभग तय है। वही उपाध्यक्ष पद पर भी पटेवा क्षेत्र क्र 3 से चुने गए लक्ष्मण पटेल की भी उपाध्यक् पद पर तजपोशी होने की संभावना है।

जिला पंचायत की प्रथम बैठक 14 फरवरी को होगी, जिसमें अध्यक्ष उपाध्यक्ष का निर्वाचन होना है। ज्ञात हो कि कांग्रेस के पास वर्तमान में 06 बागियों सहित कुल 10 जिला पंचायत सदस्यों का समर्थन है।

मिली जानकारी के अनुसार महासमुंद जिला पंचायत चुनाव में तीसरी बार विजय श्री पाने वाली कांग्रेस नेत्री उषा पटेल इस बार अध्यक्ष पद की प्रबल दावेदार बन कर उभरी थी।

उनकी क्षेत्र क्र 8 से जीत के बाद से ही उन्हें बतौर अध्यक्ष देखा जा रहा है। इस सम्बंध में ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अनन्त सिंह वर्मा ने भी इस बात की पुष्टि की है कि श्रीमती पटेल के समर्थन में 15 सदस्यों की जिला पंचायत में 10 सदस्यो ने खुला समर्थन दे दिया है, जिससे उनका अध्यक्ष बनने लगभग तय है।

सूत्र बताते है कि इस जिला पंचायत में क्षेत्र क्र 01 से जागेश्वर जुगनू चंद्राकर(निर्दलीय), 2 से अमर अरुण चन्द्राकर((कांग्रेस), 3 से लक्ष्मण पटेल(कांग्रेस), 4 से सीमा देवानन्द निर्मलकर(कांग्रेस), 5 से अल्का चन्द्राकर(भाजपा), 6 से बसन्ता ठाकुर((बागी कांग्रेस), 7 से हेमकरण दीवान(कांग्रेस), 8 से उषा पटेल(कांग्रेस), 9 से चन्दन टिकेन्द्र माछु (बागी कांग्रेस), 10 से हेमकुमारी नायक(भाजपा), 11 से नोविनो अमृत जगत((बागी कांग्रेस), 12से वृन्दावती पाड़े(बागीकांग्रेस), 13 से गीता रतन बंजारे (बागी कांग्रेस), 14 से श्याम तांडी(भाजपा), एवम क्षेत्र क्र 15 से हेमचंद पटेल(बागी कांग्रेस) चुनाव जीत कर जिला पंचायत सदस्य बने है।

सूत्र बताते है कि चुनाव जीतने के बाद अब तक क्षेत्र क्र 2 , 3 ,4 ,6 ,7 , 8 ,9 ,11 ,13 एवम 15 के निर्वाचित सदस्य कांग्रेस के समर्थन में आ चुके है। लिहाजा कांग्रेस से ही अध्यक्ष एवम उपाध्यक्ष बनना तय है।

अमितेश बने पर्यवेक्षक

जिला पंचायत अध्यक्ष उपाध्यक्ष निर्वाचन हेतु कांग्रेस की ओर से राजिम विधायक अमितेश शुक्ल को पर्यवेक्षक बनाया गया है। जबकि भाजपा के भी कांग्रेस के बराबर 4 सदस्य चुने जाने के बाद भी अपना अध्यक्ष उपाध्यक्ष बनाने के लिए कोई प्रयास नही किया जाना चर्चा का विषय बना हुआ है।

संबंधित पोस्ट

झोला छाप डाक्टर सामान्य बुखार में दे रहे हाई डोज इंटीबायोटिक इंजेक्शन

महासमुंद : मनरेगा के कार्य में भारी गड़बड़ी की शिकायतें

बलौदाबाजारः फर्जी जाति प्रमाण पत्र से नौकरी हथियाने वाला प्राचार्य बर्खास्त

कोरिया जिला पंचायत अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए भारी जोड़तोड़

कोरिया पंचायत चुनाव: मंत्री के खिलाफ गुस्सा

कोरिया पंचायत चुनाव: प्रचार में कांग्रेस ने झोंके अपने मंत्री भी

गैंगरेप के पांचों आरोपी गिरफ्तार

बस्तर में एक ही दिन 41 बीएसएनएल कर्मी रिटायर्ड

पिथौरा जनपद: अधिकृत घोषणा से पहले ही अध्यक्ष-उपाध्यक्ष तय

लड़कियों को दिल्ली भेजने वाला मानव तस्कर गिरफ्तार

अंबिका ने लगाया वेदांति पर धमकाने का आरोप

जगदलपुरः नेत्र सहायक ने दफ्तर में डीपीएम को जड़ा थपड़