ट्राइबल बॉयज होस्टल में रैगिंग, जाँच में जुटी जिला प्रशासन की टीम

सेकेंड ईयर के छात्रों पर मारपीट का लगाया आरोप

रायपुर। राजधानी रायपुर के पोस्ट मैट्रिक ट्राइबल बॉयज होस्टल में रैगिंग के आरोप जूनियर्स ने सीनियर स्टूडेंट्स पर लगाए थे। इन आरोपों और शिकायत के बाद अब जिला प्रशासन की एक टीम हॉस्टल में जांच पड़ताल के लिए पहुंची है। जो इस शिकायत पर जांच पड़ताल कर कार्यवाही करेगी। फिलहाल हॉस्टल के छात्रों से ये टीम चर्चा कर की गई शिकायत की सच्चाई को परख रखी है।
गौरतलब है कि रायपुर के डीडी नगर सेंट्रल स्कूल के पास स्तिथ पोस्ट मैट्रिक ट्राइबल बॉयज होस्टल के फर्स्ट ईयर के छात्रों के साथ बीएससी सेकंड ईयर के स्टूडेंट्स ने रैगिंग का आरोप लगाया है। छात्रों का आरोप है कि रैगिंग के नाम पर हर हफ्ते सीनियर स्टूडेंट्स उनसे मारपीट करते है। बीते 13 तारीख को भी जूनियर्स के साथ जमकर मारपीट की गई। हॉस्टल से एक छात्र ने बताया यहाँ कोई भी अपने घर या दोस्तों से तक अच्छे से बात नहीं कर पा रहे है। इतना ही नहीं इनका डर इस कदर है कि छात्रों ने होस्टल से बाहर निकलना तक बंद कर दिया है। छात्रों ने बताया कि जूनियर्स को हॉल में बुलाकर सीनियर्स उटपटांग सवाल करते है, और जब कोई उनके इन सवालों का जवाब नहीं देते तो उन्हें बेतरतीब तरीक़े से मारा पीटा जाता है। छात्रों से बताया कि हॉस्टल के वार्डन महेंद्र बघेल से भी इस मामलें कुछ नहीं कह सकतें, क्यों के वो खुद हॉस्टल में नहीं रहते है बल्कि उन्होंने पूरा हॉस्टल सेकेंड ईयर के स्टूडेंट्स के भरोसे छोड़ रखा है।